स्वतंत्र विचार

विषय - बढ़ती दुर्घटनाएँ मरते लोग और ट्रामा सेंटर की सुविधा पर विशेष।

स्वतंत्र प्रभात न्यूज़ विचार मंथन। दिनांक 17 अक्टूबर 2017 दिन मंगलवार विषय - बढ़ती दुर्घटनाएँ मरते लोग और ट्रामा सेंटर की सुविधा पर विशेष। सुप्रभात-सम्पादकीय आजकल मार्ग दुर्घटनाओं में ......

ग्रामीण पत्रकारों की भूमिका और उनकी समस्याओं पर विशेष-

ग्रामीण पत्रकारों की भूमिका और उनकी समस्याओं पर विशेष- ग्रामीण क्षेत्रों में घुसकर पत्रकारिता करने वाले पत्रकार वास्तविक रूप से प्रंशसा के पात्र होते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में पत्रकारि......

सम्पादकीय-सुरेन्द्र पासवान की कलम से

महाराजगंज महाभारत युध्द से पुर्व गुरु द्रोणाचार्य जी अनेक स्थानो मे भ्रमण करते हुए हिमालय (ऋषिकेश) प्‌हुचे। वहा तमसा नदी के किनारे एक दिव्य गुफा मे तपेश्वर नामक सुन्दर शिवलिग है। गुरु द्रोण......

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाले युवा करवा चौथ की संस्कृति से सबक लें

भारत में सनातन संस्कृति को मानने वाली विवाहित महिलाएं 8 अक्टूबर को करवा चैथ का व्रत रख रही हैं। ऐसी महिलाएं रात को तभी खाना खाएंगी, जब आसमान में चांद दिखेगा। करवा चौथ के व्रत के पीछे पति की ......

भारत देश अपने अंधविश्वास व गलत धारणाओं के कारण विश्व मे प्रसिद्ध

चीफ ब्यूरो सोनभद्र:-जब इतिहास लिखा जाएगा तो ये भी लिखना होगा कि 21 वीं सदी में जब कोरिया,अमेरिका जैसे मुल्क हाईड्रोजन बमों का परिक्षण कर रहे थे।जापान, फ्रांस, अास्ट्रलिया जैसे देश तकनीक की दुनि......

हिन्दी दिवस पर विषेष

  हिन्दी दिवस का इतिहास और इसे दिवस के रूप में मनाने का कारण बहुत पुराना है। वर्ष 1918 में महात्मा गांधी ने इसे जनमानस की भाषा कहा था और इसे देश की राष्ट्रभाषा भी बनाने को कहा था। लेकिन आजाद......

भारत की सबसे अधिक बोली और समझी जाने वाली भाषा : हिंदी

हिंदी दिवस पर विशेष:- हिमांशु पांडे:- (रिंकेश) भारत देश में अनेक राज्य हैं और उन सभी राज्यों की भी अपनी अलग-अलग भाषाएं हैं। इस प्रकार भारत एक बहुभाषी राष्ट्र है लेकिन उसकी अपनी एक राष्ट्......

मानवता के विकास में पिछड़ता भारत

              देश के वर्तमान हालात बेहद चिंताजनक हैं और स्थिति बेहद खतरनाक। अख़लाक़ की हत्या से शुरू हुआ सिलसिला थमने का नाम ही नही ले रहा है। कभी बीफ के नाम पर, कभी गो हत्या के नाम पर, क......

इंसान जीने के लिये सब कुछ करता हैं फिर भी मर जाता हैं

चीफ ब्यूरो सोनभद्र:-बाबा साहेब ने कहा था इंसान जीता है, पैसे कमाता है, खाना खाता है और अंत में मर जाता है. जीता इसलिए है ताकि कमा सके।कमाता इसलिए है ताकि खा सके और खाता इसलिए है ताकि जिंदा रह सके ल......

न्यायालय मे देर से ही सही, लेकिन न्याय आज भी जीवित है

                         (संपादकीय) आज सी0बी0आई0 की विशेष अदालत के जज न्यायमूर्ति जगदीप सिंह द्वारा दिये गए ऐतिहासिक निर्णय ने साबित कर दिया की भारत के न्यायालयों मे न्याय देर से ह......

संसार की विभूति राष्ट्रपति कलाम

जौनपुर। दूरदर्शन के एक दक्षिण भारतीय भाषा के चैनल से श्री पी एम नायर जोकि एक सेवा निवर्त प्रसाशनिक अधिकारी है और वो पूर्व राष्ट्रपति स्व श्री ए पी जे कालाम साहब के निजी सचिव उस वक्त थे जब काला......

विषय - भीड़ से झुकती सरकारें और कराहते संविधान पर विशेष।

दिनांक 26 अगस्त 2017 दिन शनिवार विषय - भीड़ से झुकती सरकारें और कराहते संविधान पर विशेष। सुप्रभात-सम्पादकीय साथियों आज के बदलते राजनैतिक परिदृश्य में संगठित भीड़ के सामने सरकारें औ......

तीन तलाक फैसला और नये युग की शुरुआत पर विशेष।

दिनांक 24 अगस्त 2017 दिन गुरुवार विषय - तीन तलाक फैसला और नये युग की शुरुआत पर विशेष - सुप्रभात-सम्पादकीय साथियों बहुचर्चित तीन तलाक के मामले में सुप्रीम कोर्ट क......

स्वतंत्रता सेनानी मदारी पासी - डॉ. अशोक शुक्ल

भारत के स्वतंत्रता संग्राम में हरदोई जनपद के योगदान की चर्चा करते हुये संग्राम सेनानी मदारी पासी का नाम बरबस ही याद आ जाता है। राष्ट्रीय स्वतंत्रता आन्दोलन पर जब राष्ट्रीय कांग्रेस का कब्ज......