स्वतंत्र प्रभात-ऑफिस के चक्कर काटने की जरूरत नहीं, ऑनलाइन पास होगा नक्शा

 

उत्तर प्रदेश 33 विकास प्राधिकरणों और आवास विकास परिषद में व्यवस्था लागू

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के आवास एवं शहरी नियोजन राज्यमंत्री सुरेश पासी ने कहा है कि प्रदेश के सभी प्राधिकरणों की योजनाओं एवं प्राधिकरण द्वारा स्वीकृत ले-आउट के आवासीय भूखण्डों के समस्त मानचित्रों को ऑनलाइन स्वीकृति दिये जाने सम्बन्धी विकसित सॉफ्टवेयर से आम जनता को काफी सुविधा मिलेगी और नक्शा आदि पास कराने के लिए उन्हें भटकना नहीं पड़ेगा। इसके साथ ही नक्शा की स्वीकृति ऑनलाइन होने से इसमें पूरी पारदर्शिता भी आयेगी।


आवास मंत्री आज यहाँ आवास विकास परिषद मुख्यालय में मानचित्र के ऑनलाइन स्वीकृति हेतु विकसित साफ्टवेयर के शुभारम्भ अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि समस्त प्राधिकरणों की योजनाओं, आवासीय भूखण्ड तथा प्राधिकरण द्वारा स्वीकृत ले-आउट्स के आवासीय भूखण्डों के समस्त मानचित्र वेबसाइट पर  जमा एवं स्वीकृत किये जायेंगे। आवेदक अपने से सम्बन्धित नगर/विकास प्राधिकरण का चयन कर सकता है। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन मानचित्र स्वीकृत करने की यह व्यवस्था प्रदेश के सभी 33 विकास प्राधिकरणों एवं आवास विकास परिषद में लागू की जायेगी।

श्री पासी ने कहा कि प्राधिकरणों के लिए यह साफ्टवेयर एक बड़ी उपलब्धि है जिससे नक्शा पास कराने में सहूलियत होगी और आम जनता को आफिस का चक्कर नही काटना पड़ेगा. राज्यमंत्री ने किसानों की समस्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी भूमि का अधिग्रहण किये जाने के पश्चात समुचित मुआवजा संबंधी कोई कठिनाई न आये। इसके लिए भी रणनीति तैयार करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार किसानों के हित में कार्य कर रही है इसलिए मुआवजा अथवा अधिग्रहण को लेकर कोई विवाद नहीं होना चाहिए।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव आवास मुकुल सिंघल ने कहा कि इस व्यवस्था में प्रत्येक स्तर पर आवेदक को एस.एम.एस. द्वारा सूचना प्रेषित करने के साथ ही उत्तरदायित्व का निर्धारण और पारदर्शिता भी सुनिश्चित की गयी है। इसके साथ ही स्वीकृत किये जाने वाले मानचित्र के वैधानिकता को सुनिश्चित करने के लिए क्यू0आर0 कोड का प्राविधान किया गया है और साफ्टवेयर में एप्लीकेशन, कालोनी एवं अन्य आवश्यक विवरण के लिए सर्च टूल का प्राविधान भी किया गया है।  इस अवसर पर आवास आयुक्त, धीरज साहू के अलावा सभी विकास प्राधिकरणों के उपाध्यक्ष तथा अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

recommend to friends

Comments (0)

Leave comment