स्वतंत्र प्रभात-भोजपुरी काशी पुत्र फिल्म के शूटिंग पर हुआ मंथन

 

भोजपुरी काशी पुत्र फिल्म के शूटिंग पर हुआ मंथन भदोही।  जहां एक ओर भारत मे अनेक राज्य व शहर है वही दूसरी ओर अपने प्रदेश, उत्तर प्रदेश की लोकप्रियता काफी गौरवान्वित और महिमामंडित करने वाली है। काशी पुत्र फ़िल्म का मार्गदर्शक मुंबई हिंदी दैनिक अखबार के उपसम्पादक उदयराज यादव कर रहे है। उक्त बातें पत्रकारवार्ता के दौरान काशी पुत्र फ़िल्म के निर्माता गोविन्द सजनवा ने कहा। उन्होंने बताया कि काशीपुत्र फ़िल्म में उत्तर प्रदेश की सपन्न शीलता को दिखाया गया है।

देश मे बढ़ते हुए भर्ष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद की गई है। इसके साथ ही उन्होंने अपने प्रदेश की महिमा को बताते हुए बताया कि अपना ही प्रदेश एक मात्र ऐसा प्रदेश है जहां पर धार्मिक गलियारों के साथ ही राजनीतिक गलियारों में भी अपना नाम देश मे रोशन किया है। 

इतिहास गवाह है कि देश को सर्वाधिक प्रधानमंत्री देने वाला राज्य उत्तर प्रदेश है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में भगवान का भी अवतार हुआ था। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में ही अनेक देवी देवताओं का मंदिर व तीर्थ स्थान है। और कहाँ तक बता दे कि समस्त तिर्थो का राजा प्रयाग भी प्रदेश के इलाहाबाद जनपद में स्थित है। विश्व प्रसिद्ध भगवान विश्वनाथ का भी यही मंदिर है। उन्होंने फिल्म के शूटिंग के बारे में बताया कि काशी पुत्र फ़िल्म की शूटिंग बनारस के असी घाट से प्रारम्भ होगी। पहली भोजपुरी फिल्म काशी पुत्र की शूटिंग विश्वनाथ फिल्म्स हाउस  के बैनर तले बनारस, भदोही और मिर्जापुर में फरवरी 2018 में प्रारम्भ होगी।

सबसे अहम बात यह ही कि इस फिल्म में कई बड़े सितारे शामिल होंगे। काशीपुत्र फ़िल्म में  हीरो अरविन्द अकेला उर्फ़ कल्लू जी काजल राघवानी और खलनायक संजय पांडये जी के साथ प्रीती पांडेय जी  नजर आयेगी। हालाकि इस फिल्म के डायरेक्टर रतन राहा और लेखक अनिल विश्वकर्मा जी है।

ANAND KUMAR MISHRA BHADOHI
recommend to friends

Comments (0)

Leave comment