स्वतंत्र प्रभात-न्यूजीलैंड ने बांग्लादेश को 77 रनों से हराया

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने सोमवार को हगले ओवल मैदान पर खेले गए पहले एकदिवसीय मैच में बांग्लादेश को 77 रनों से हरा दिया. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी कीवी टीम ने सात विकेट के नुकसान पर 50 ओवरों में 341 रन बनाए, जिसे बांग्लादेश की टीम सभी विकेट खोकर भी हासिल नहीं कर पाई.

न्यूजीलैंड की शानदार जीत
न्यूजीलैंड के लिए टॉम लाथम (137) ने शतकीय पारी खेली, वहीं कोलिन मुनरो ने 87 रनों का अहम योगदान दिया. टीम का पहला विकेट मार्टिन गुप्टिल (15) के रूप में गिरा. उन्हें मुस्ताफिजुर रहमान ने सौम्य सरकार के हाथों कैच आउट करवाया. तस्किन अहमद ने लाथम का साथ देने आए कप्तान केन विलियमसन (31) का विकेट गिराकर मेजबान टीम को एक ओर झटका दिया. इसके बाद लाथम का साथ देने आए नील ब्रूम (22) और जेम्स नीशम (12) ज्यादा देर मैदान पर नहीं टिक पाए और सस्ते में आउट होकर पवेलियन लौट गए.

लाथम ने खेली शतकीय पारी
लाथम के साथ मुनरो ने पांचवें विकेट के लिए 158 रनों की शतकीय साझेदारी कर टीम को संभाला और 316 के स्कोर तक पहुंचाया. इसी स्कोर पर शाकिब ने मुनरो को तस्किन के अहमद के हाथों कैच आउट कर पवेलियन भेजा. मुनरो ने अपनी पारी में खेली गई 61 गेंदों में आठ चौके और चार छक्के लगाए. लाथम के रूप में न्यूजीलैंड का छठा विकेट 323 के स्कोर पर गिरा. उन्हें मुस्ताफिजुर ने रहीम के हाथों कैच आउट कर पवेलियन भेजा. लाथम ने अपनी पारी में 121 गेंदों में सात चौके और चार छक्के लगाए. ल्यूक रोंची (5) के आउट होने के साथ ही न्यूजीलैंड टीम की पारी समाप्त हो गई.

शाकिब ने झटके तीन विकेट
बांग्लादेश के लिए शाकिब ने तीन विकेट चटकाए, जबकि मुस्ताफिजुर और तस्किन को दो-दो विकेट हासिल हुए. न्यूजीलैंड के 342 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश की टीम 264 के स्कोर पर ही ढेर हो गई. शाकिब (59) और मोसाद्देक हुसैन (नाबाद 50) की अर्धशतकीय पारियों के बावजूद टीम इस लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई. मुश्फिकुर रहीम ने 42 रन बनाए. रहीम इस मैच में रिटायर्ड हर्ट हुए और अपनी पारी को आगे नहीं बढ़ा सके. न्यूजीलैंड के लिए लोकी फग्र्यूसन, नीशन ने तीन-तीन विकेट चटकाए, जबकि टिम को दो और मिशेल सेंटनर को एक सफलता हासिल हुई. बांग्लादेश और न्यूजीलैंड के बीच दूसरा एकदिवसीय मुकाबला नेल्सन में 29 दिसम्बर को खेला जाएगा.

PIYUSH TIWARI
recommend to friends

Comments (0)

Leave comment