पात्र होने के बावजूद भी नहीं मिला महिला को आवास

2 माह पूर्व अग्निकांड मैं जला था पीड़िता का आवास,आज तक नही मिल पाया सहायता राशि

पीड़िता ने कहा हम गरीबों का कोई सुनने वाला नहीं है,

2 माह पूर्व अग्निकांड मैं जला था पीड़िता का आवास,आज तक नही मिल पाया सहायता राशि

जयदीप शुक्ला के साथ यज्ञनारायण त्रिपाठी की रिपोर्ट

मोतीगंज,गोण्डा-
मोदी सरकार का दावा है कि आने वाले 2022 तक देश के सभी गरीब परिवार को, सर छुपाने के लिए पक्का घर मुहैया करवा दिया जाएगा। लेकिन यहां तो जमीनी हकीकत कुछ और बयाँ कर रही है।

आवास के पात्र होने के बावजूद भी लोगों को प्रधानमंत्री आवास के लिए दर-दर भटकना पड रहा है। वर्षों तक दर-दर भटकने के बाद आवास व पक्का घर नसीब नहीं हो पाया जिससे गरीब परिवार छप्पर व फूस के घर में रह रहे हैं।

मामला विकासखंड मनकापुर के ग्राम सभा हड़हवा मजरा बनकटी का है बनकटी गाँव निवासिनी अमृता ने बताया की हम और हमारा पूरा परिवार इसी फूस व छप्पर के घर में रह रहे हैं। चाहे ठंडी हो चाहे बरसात हो इसी में गुजर बसर होता है।

उक्त गांव निवासिनी अमृता ने बताया 2 महीना पहले आग लग जाने से हमारा छप्पर का घर जल गया था जिसमें इस अग्निकांड में सामान व नगदी सहित लगभग डेढ़ लाख का नुकसान हो गया था, गृहस्थी का सारा सामान जलकर राख हो गया था। उसने बताया की घटना के दूसरे दिन लेखपाल और ग्राम विकास अधिकारी मौके पर आए और जांच किया।

कहा कि इसकी रिपोर्ट तहसील को भेज दी जाएगी, लेकिन 2 महीना का दिन बीत गया न तो दोबारा लेखपाल ही आए और न ही ग्राम विकास अधिकारी तथा तहसील का कोई भी नहीं आया। सेक्रेटरी और लेखपाल ने कहा था कि आपकी रिपोर्ट विभाग को भेजी जा रही है, जल्द ही इसका मुआवजा मिल जाएगा।

लेकिन आज तक हम लोगों को मुआवजा को कौन कहे, कोई पूछने तक नहीं आया। अब हमें क्या पता लेखपाल व सेक्रेटरी ने क्या रिपोर्ट भेजा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here