बच्चों की सुरक्षा सर्वोपरि डीएम ने जर्जर विद्यालय भवनों की सूची तैयार करने के बीएसए को दिये निर्देश

बच्चों की सुरक्षा सर्वोपरि , किसी भी प्रकार का खिलवाड़ न किया जाए
 
 बच्चों की सुरक्षा सर्वोपरि : डीएम ने जर्जर विद्यालय भवनों की सूची तैयार करने के बीएसए को दिये निर्देश
बच्चों की सुरक्षा के दृष्टिगत जिला मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने आज बीएसए कार्यालय का निरीक्षण किया

महोबा । जनपद के प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों की सुरक्षा के दृष्टिगत जिला मजिस्ट्रेट मनोज कुमार ने आज बीएसए कार्यालय का निरीक्षण किया।इस दौरान उन्होंने भवन निर्माण प्रस्ताव सम्बन्धी पत्रावलियों का अवलोकन किया।

उक्त कार्यालय के निरीक्षण में डीएम ने प्राथमिक शिक्षा सम्बन्धी व्यवस्थायें यथा मिडडे मील, जूते- मोजे, पुस्तकें, ड्रेस आदि का वितरण, शिक्षा की गुणवत्ता आदि विभिन्न प्रकार की पत्रावलियों को देखा।उन्होंने बीएसए से पूछा कि जनपद में कितने विद्यालय ऐसे हैं जिनके भवन जर्जर हैं और जिनमें दरारें हैं।उन्होंने बीएसए को सख्त निर्देश दिए कि सभी एबीएसए से इस बाबत प्रमाण पत्र प्राप्त करें कि कितने भवन सही सलामत हैं

जिनमें शिक्षण कार्य कराने से बच्चों की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं है।उन्होंने कहा कि जो भवन सही हैं उनका प्रमाण उपलब्ध कराएं और जो विद्यालय भवन जर्जर हैं उनका कायाकल्प कराने के लिए प्रस्ताव तैयार कराया जाए।उन्होंने पत्रावलियों का अवलोकन कर यह भी जायजा लिया कि भवन निर्माण या मरम्मत कार्य कराने सम्बन्धी कितने प्रस्ताव भेजे गए और कितने निस्तारित हुए हैं।उन्होंने कहा कि बच्चों की सुरक्षा सर्वोपरि है।इससे किसी भी प्रकार का खिलवाड़ न किया जाए।

उन्होंने बीएसए को इस आशय से भी निर्देशित किया कि सभी विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता अच्छी रखी जाए और मिडडे मील में बच्चों को भोजन निर्धारित मीनू के अनुरूप दिया जाए।उन्होंने कहा कि विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता देखने के लिए औचक निरीक्षण किया जाएगा।कहा कि सभी शिक्षक समय से विद्यालय पहुंचे और शिक्षण कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें।

FROM AROUND THE WEB