बस्ती में टीकाकरण न होने से नाराज शिक्षकों ने किया बवाल

बस्ती । बस्ती जिले में टीकाकरण न होने से नाराज शिक्षकों ने गुरुवार को बीएसए कार्यालय सीवीसी (कोविड वैक्सीनेशन सेंटर) पर बवाल किया। टीकाकरण स्टॉफ का कहना था कि पोर्टल पर नाम शो न होने के कारण टीका नहीं लगाया जा पा रहा था। विवाद की सूचना पर एसडीएम सदर आशाराम वर्मा मय फोर्स वहां
 
बस्ती में टीकाकरण न होने से नाराज शिक्षकों ने किया बवाल

बस्ती । बस्ती जिले में टीकाकरण न होने से नाराज शिक्षकों ने गुरुवार को बीएसए कार्यालय सीवीसी (कोविड वैक्सीनेशन सेंटर) पर बवाल किया। टीकाकरण स्टॉफ का कहना था कि पोर्टल पर नाम शो न होने के कारण टीका नहीं लगाया जा पा रहा था। विवाद की सूचना पर एसडीएम सदर आशाराम वर्मा मय फोर्स वहां पहुंचे। नाराज शिक्षकों को शांत कराया। सूचना पर पहुंचे विभागीय अधिकारियों ने आईटी के जानकारों को बुलाकर समस्या का समाधान कराया, उसके बाद दोबारा टीकाकरण शुरू कराय

वर्किंग प्लेस पर टीकाकरण कार्यक्रम के तहत परिषदीय व राजकीय शिक्षकों को कोविड का टीका लगाने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में सीवीसी बनाया गया है। यहां पर 12 साल के बच्चों के अभिभावकों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। वहां मौजूद लोगों का कहना था कि उनका पंजीकरण कर लिया जा रहा है, जबकि टीका नहीं लगाया जा रहा है। टीकाकरण स्टॉफ का कहना था कि पोर्टल पर नाम शो नहीं हो रहा है, इसलिए टीका नहीं लगाया जा सकता है।

घंटों इंतजार के बाद लोगों का धैर्य जवाब दे गया, और वहां विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई। इस बात की सूचना किसी ने एसडीएम सदर व स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों को दी। एसडीएम सदर ने पहुंचकर मामले को संभाला। मौके पर एसीएमओ डॉ. एफ हुसैन, एसीएमओ डॉ. सीके वर्मा, नगरीय स्वास्थ्य के नोडल व सीवीसी के सुपरवाईजर डॉ. एके कुशवाहा वहां पहुंच गए। पोर्टल संचालित करने वाले जानकारों को बुलाया गया। कुछ देर की मेहनत के बाद समस्या का समाधान हो गया।

पूरे महीने संचालित होगा हर रविवार मच्छर पर वार अभियान

,बस्ती। बस्ती जिले में हर रविवार मच्छर पर वार अभियान पूरे महीने संचालित किया जायेंगा, जिसमें मलेरियारोधी कार्य किए जायेंगे। उक्त जानकारी जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ0 आईए अंसारी ने दी है। वे सीएमओ सभाकक्ष में तैयारी बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होने बताया कि माह में प्रत्येक रविवार को घर में तथा आस-पास सफाई अभियान संचालित किया जायेंगा एंव जल भराव वाले क्षेत्रों का निस्तारण किया जायेंगा।उन्होने बताया कि पूरे माह संचालित होने वाले इस अभियान में लोगो को मलेरिया एवं वेक्टरजनित बीमारियों के बारे में जागरूक किया जायेंगा। इससे बचाव के लिए जनसमुदाय की सहभागिता सुनिश्चित की जायेंगी।

ब्लाक स्तर पर बहुउदेशीय स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा ज्वर रोगियों का एक्टिव सर्वेक्षण कराया जायेंगा। आशा और एएनएम द्वारा ग्राम स्तर पर मलेरिया रोग की त्वरित पहचान करते हुए उपचार के लिए निकटतम सीएचसी/पीएचसी पर भेजा जायेंगा। ग्राम स्वास्थ्य एंव स्वच्छता समिति के माध्यम से निरोधात्मक कार्यवाही करायी जायेंगी।

एसीएमओ डाॅ0 फखरेयार हुसैन ने कहा कि इस दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन किया जायेंगा तथा व्यक्तिगत स्वच्छता, सैनिटाजेशन को अपनाते हुए मलेरियारोधी माह आयोजित किया जायेंगा। इस अवसर पर राजेश कुमार पाण्डेय, श्रीचन्द्र मोहन, प्रमोद कुमार, शैलेन्द्र कुमार चैधरी, अनिल कुमार, विशाल मौर्या, अक्षय कुमार, राजेश कुमार पाठक उपस्थित रहें।

FROM AROUND THE WEB