स्वतंत्र प्रभात-बाराबंकी। बम-बम भोले के जयकारों से गूंजे शिवालय


कुन्तेश्वर, सिद्धेश्वर, लोधेश्वर, औसानेश्वर, नागेश्वर, जागेश्वर, कालेश्वर मंदिर में पूरे दिन लगा रहा शिवभक्तों का तांता

बाराबंकी। शिवरात्रि का पर्व पूरे जनपद में हर्षोल्लास पूर्ण वातावरण में पर्व मनाया गया। चारो ओर वातावरण शिवमय हो चुका था। नगर क्षेत्र में सभी मंदिरो को रंगरोगन कर सजाया गया था। विभिन्न मंदिरों को झालरों से प्रकाशमान थे।
नगर क्षेत्र के सत्यप्रेमी नगर स्थित श्री चन्द्रेश्वर महादेव मंदिर(कैलाश आश्रम) में भोर पहर से ही श्रद्धालुओं का तांता लग गया था। बच्चे, बूढ़े, महिलाएं, युवक/युवतियां हाथ में एक लोटा जल लेकर अपनी अपनी अरदास भगवान भोलेनाथ से लगाने पहुंचे थे। बेलपत्र, धतूरा, शमी, बेर, गन्ना, दुग्ध से भक्तों ने अपने इष्ट को ढक दिया था। कई जगह प्रसाद के रुप में ठण्डाई भी वितरित की गयी। लैया मण्डी स्थित श्री सिद्धेश्वर महादेव मंदिर, श्री नागेश्वर नाथ मंदिर, श्री कंकड़ेश्वर महादेव मंदिर, श्री जंगलेश्वर नाथ मंदिर, श्री सिद्धनाथ महादेव मंदिर सहित तमाम भगवान भोलेनाथ के मंदिरो पर भक्तों की लम्बी कतारें देखी गयीं।

 
रामनगर लोधेश्वर महादेव मंदिर में देर रात से ही लाखो की संख्या में कावांरियों एवं श्रद्धालुओं की लम्बी कतारे अपने ईष्ट को एक लोटा जल से नहलाने के लिये लग गयीं थी। प्रशासन ने भी किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटाने के लिये सारे इंतजाम पहले ही पूरे कर लिये थे। बतातें चले कि श्री लोधेश्वर महादेव मंदिर में हर वर्ष लाखों की संख्या में कावांरियों की आमद रहती है।
हैदरगढ़ आदि गंगा गोमती के तट पर स्थित श्री अवसानेश्वर महादेव मंदिर में विभिन्न जनपदों एवं दूर दराज क्षेत्रों से श्रद्धालुओं का आना देर रात से ही शुरु हो गया था। इस मंदिर की ख्याति बहुत दूर तक फैली हुई है। तमाम श्रद्धालु बाबा के दर्शन को अपने पलक पावंड़े बिछाये रहते हैं। प्रबन्धक संजय गिरी ने बताया कि आज शिवरात्रि के पर्व पर मंदिर का द्वार रात 1 बजकर 55 मिनट पर खोल दिया गया और देर रात तक भक्तों द्वारा अनावरत जल चढाया जा रहा था। करीब 85 हजार शिवभक्तो ने जलाभिषेक किया। भारी भीड को देखते हुये पुलिस प्रशासन चुस्त और दुरूस्त रहा कैमरे की नजर से हर व्यक्ति पर पुलिस की नजर रही। उपजिलाधिकारी, सीओ समर बहादुर, कोतवाल पीके तिवारी, राजस्व निरीक्षक प्रभूनाथ तिवारी सहित  प्रशासनिक अमला मौजूद रहा।

 
सिद्धौर कस्बा सिद्धौर स्थित सिद्धेश्वर महादेव मंदिर में भोर पहर से ही भक्तों का तांता लग गया। ग्रामीण अंचलो से तमाम भोले भक्त जलार्पण करने के लिये पहुंच गये थे। सिद्धौर देवीगंज सहित तमाम क्षेत्रों से भक्तों की आमद दिन भर मंदिर परिसर में बनी रही।
 
सुबेहा के रेहुरा गॉव में गोमती के किनारे स्थित कालेश्वर महोदवा में भी सुबह से शिवभक्तों तांता लगा रहा। सुबह से देर रात तक भक्तों द्वारा बमबम भोले के जयकारों के साथ जलाभिषेक किया। कैथी निवासी माताफेर शुक्ला, ग्राम प्रधान कमलेश कुमार, पुलिस प्रशासन की मदद करते हुये सभी भक्तें को लाइन लगावाकर जल चढवाया। 

 

Loading...
NARPENDRA TIWARI
recommend to friends

Comments (0)

Leave comment