दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम मे किसानों को उत्तम खेती के माध्यम से अधिक आमदनी करना सिखाया गया

कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम मे किसानों को कीटनाशकों से बचाव की जानकारी दी गई 

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 
 

मंगलवार मोहनलालगंज एकीकृत धान्य विकास कार्यक्रम चावल योजना के अंतर्गत राजकीय कृषि बीज भंडार मोहनलालगंज पर दो दिवसीय  कृषक प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। जिसमे ग्रामीण कृषकों को ढैंचा धान फसल पद्धित तकनीकी से खेती करने के गुण सिखाएं गए एवं कृषकों को उत्तम खेती  करने की  विस्तृत जानकारी दी गयी। कृषि रक्षा प्रभारी शोभनाथ द्वारा धान तथा अन्य फसलों  में लगने वाले रोगों

तथा कीटों से होने वाले नुकसान की जानकारी तथा बचाव के बारे में बताया गया । किसानों को इसके साथ ही चूहा नियंत्रण , नीलगाय से फसलों के प्रबंधन पर भी जानकारी दी गयी। इसी क्रम में प्रावधिक सहायक दिलीप कुमार द्वारा कृषको को जैविक खेती तथा  समेकित कृषि  प्रणाली IFS तकनीक के बारे में जानकारी दी तथा उसको अपनाएं जाने हेतु प्रेरित किया। कृषको को धान के कटाई के बाद पराली न जलए जाने तथा पराली जलाए जाने से हो रहे खेतो तथा वातावरण के नुकसान के बारे में बताया  साथ ही फसल अवशेष प्रबंधन योजना in situ के अंतर्गत कृषि यंत्रों के उपयोग एवम सरकार द्वारा दिये जा रहे अनुदान के  बारे में भी विस्तार से जानकारी दी।

 प्रभारी बीज भंडार द्वारा केंद्र पर उपलब्ध तोईंया व सरसो की खेती व उन पर सरकार द्वारा दिये जा रहे अनुदान  के बारे में भी जानकारी दी गई तथा भमि सुधार हेतु कृषको को जिप्सम के प्रयोग की विधि के बारे में भी जानकारी  दी गई । प्रावधिक सहायक धर्मेंद्र साहू ने किसानों को मृदा परीक्षण करवाने तथा खेतो में संतुलित उर्वरक के प्रयोग करने की सलाह दी । 

कृषि विभाग के प्रभारी बीज भण्डार प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि दो दिवसीय कृषक प्रशिक्षण मे किसानों को ढैंचा एवं तोईया की फसलों से कीटों के बचाव एवं किसानों को उत्तम खेती के माध्यम से अधिक आमदनी कैसे हो इसकी जानकारी किसानों को दी गई ।दो दिवसीय कृषक प्रशिक्षण के अवसर पर कृषि विभाग के समस्त कर्मचारी डा० एमपी सिंह, अंजित सिंह, शियज अनवर, संजीव कुमार, नीरज पटेल  आदि के साथ सैकड़ो की  संख्या में कृषको की उपस्थिति रही ।

FROM AROUND THE WEB