चरमराई विद्युत व्यवस्था, रात भर उमस भरी गर्मी से बिलबिलाते रहे उपभोक्ता

उपभोक्ताओं को नाही बिजली के उजाले में खाना नसीब हो पा रहा है और ना ही रात भर सो पाते हैं

 
 
चरमराई विद्युत व्यवस्था, रात भर उमस भरी गर्मी से बिलबिलाते रहे उपभोक्ता

स्वतंत्र प्रभात-
 


शिवगढ़,रायबरेली।  योगी सरकार में उमस भरी भीषण गर्मी के बीच विद्युत व्यवस्था बिल्कुल चरमरा गई है। अघोषित विद्युत कटौती के चलते उपभोक्ताओं को ना ही बिजली के उजाले में खाना नसीब हो पा रहा है और ना ही रात में सो पाते हैं। रात में दो-दो ढाई-ढाई घण्टे तक विद्युत कटौती होने के चलते विद्युत उपभोक्ता उमस भरी गर्मी से बिलबिलाते रहते हैं। जिसको लेकर उपभोक्ताओं में विद्युत विभाग के खिलाफ गहरा रोष व्याप्त है। मंगलवार की रात जहां सायंकाल बिजली गुल रही तो वहीं रात 9 बजकर

35 मिनट से 12 :05 तक, और रात 2 :15 से 4:25 तक, 4:52 से सुबह 6:45 तक, 8:22 से सुबह 10 बजे तक बिजली गायब रही। उमस भरी गर्मी से सारी रात उपभोक्ता सो नहीं पाए। आक्रोशित विद्युत उपभोक्ताओं का कहना है विद्युत विभाग द्वारा समय पर विद्युत बिल ना निकाल कर विद्युत बिल के नाम पर उपभोक्ताओं की जेब पर डाका डाला जा रहा है। विद्युत बिल में कई गुना बढ़ोतरी होने के बावजूद उपभोक्ताओं को सही तरीके से बिजली नहीं मिल रही है। वहीं कुछ उपभोक्ताओं ने सपा शासनकाल एवं

पूर्व विधायक रामलाल अकेला को याद करते हुए कहा कि अकेला के कार्यकाल में बछरावां विधानसभा के उपभोक्ताओं को पर्याप्त मात्रा में बिजली मिलती थी। किंतु अब ना तो विद्युत उपभोक्ताओं की कोई सुनने वाला है और ना ही मनमाने तरीके से कार्य करने वाले विद्युत विभाग के खिलाफ आवाज उठाने वाला कोई है। यही हाल बुधवार की शाम को रहा शाम लगभग 6:45 बजे से खबर लिखे जाने तक बिजली गायब रही। हो रही अंधाधुंध विद्युत कटौती के विषय में जब जानकारी लेने के लिए जब शिवगढ़ पावर हाउस में तैनात जेई रवि गौतम के पास फोन मिलाया गया तो उनका फोन नहीं उठा।

   

FROM AROUND THE WEB