भारी बरसात से कहीं गिरे बिजली के तार तो कहीं गिरे पेड़ किसानों को भारी मुसीबत

 
भारी बरसात से कहीं गिरे बिजली के तार तो कहीं गिरे पेड़।किसानों को भारी मुसीबत।

स्वतंत्र प्रभात

फूलपुर तहसील क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में मंगलवार को शुरू हुई तेज हवाओं के साथ बारिश बुधवार को भी  होती रही। मंगलवार 14 सितंबर 2021 को सुबह लगभग 11:00 बजे तेज़ हवाओं के साथ अचानक शुरू हुई बारिश किसानों की मुसीबतों को बढ़ा दी है। तेज हवाओं के साथ हो रही बरसात को देखकर किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें झलकने लगी हैं। उनका कहना है कि यदि इसी तरह से लगातार तूफानी हवाओं के साथ बारिश होती रही तो निश्चित रूप से धान की फसलों को काफी नुकसान होगा।

पहले तो किसानों ने फसलों की सिंचाई पंपिंग सेट के माध्यम से कर दी और अब तो आवश्यकता से अधिक पानी व हवाओं के चलते धान की खड़ी फसलों के गिरने की संभावनाएं बढ़ गई हैं। इस तरह से यदि फसलें गिरने लगी तो जायज सी बात है कि पैदावार में काफी नुकसान हो सकता है। इसी क्रम में इस भारी बरसात से कच्चे मकान व पुराने पेड़ भी गिर सकते हैं।

बारिश के चलते विद्युत आपूर्ति ठप

बुधवार को सुबह से ही हो रही बारिश में फसलों का नुक़सान होना तो माना ही जा रहा है लेकिन वहीं बिजली व्यवस्था भी ठप पड़ी रही। बारिश में बुधवार को दिन में एक दो बार बिजली आई भी तो केवल‌ और केवल मुश्किल से पांच मिनट के लिए उसके बाद से बिजली नहीं आई। वहीं कई जगहों पर पेड़ गिर गए साथ ही साथ बिजली के तार भी गिरे। वहीं बिजली के तारों के गिरने से विद्युत आपूर्ति पूरी तरह से ठप रही। इससे आपूर्ति बाधित रही जिसे बहाल करने का प्रयास करते हुए बिजली के तार पर गिरे पेड़ों को कर्मचारियों द्वारा हटाने का कार्य किया जा रहा था।

FROM AROUND THE WEB