सरकार के मंसूबों के विपरीत कार्य कर रहे है लोक निर्माण विभाग के जिम्मेदार

कार्यक्रम के चंद दिनों बाद सूबे के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम सगौली वि.ख
 
 कार्यक्रम के चंद दिनों बाद सूबे के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम सगौली वि.ख

स्वतंत्र प्रभात 

 कार्यक्रम के चंद दिनों बाद सूबे के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम सगौली वि.ख
उन्नाव सिकन्दरपुर कर्ण-उन्नावब। जहाँ एक तरफ सरकार गड्ढा मुक्त सड़कों के दावे कर रही है। और लगातार सरकार द्वारा विकास कार्य कराने हेतु लोक निर्माण विभाग को करोड़ो रूपये का बजट दिया जा रहा है। वही बीते दिनों पूर्व उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सदर क्षेत्र में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान विकास कार्य हेतु विभाग को करोड़ों रुपए के बजट की सौगात दी थी। वही उस कार्यक्रम के चंद दिनों बाद सूबे के  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ग्राम सगौली वि.ख


. हिलौली स्थित कार्यक्रम में भी करोड़ों के बजट की घोषणा सड़क निर्माण हेतु की थी। ऐसे में अगर सरकार विकास कार्य कराने हेतु करोड़ों रुपये पानी की तरह खर्च कर रही है। तो जिम्मेदार क्यो सरकार के मंसूबे पर पानी फेर रहे है। और दूसरी तरफ जिम्मेदारों ने अपनी आंखें इस कदर बंद कर रखी हैं। कि मानो उनके जेब का पैसा विकास कार्य मे खर्च होना है। लगातार सड़कों पर उपस्थित गड्ढों से स्थानीय लोग चोटिल हो रहे है।

 वही विभाग अनदेखी कर सिर्फ प्रस्ताव बनाकर भेजने का लगातार हवाला दे रहा है। ऐसा ही एक मामला सिकंदरपुर कर्ण ब्लॉक के टिकौली संपर्क मार्ग से कुछ दूर स्थित अमिलाह लिंक मार्ग का सामने आया है। जहां बीते कई महीनों से मार्गं जर्जर हालत में है। मगर जिम्मेदारों ने अभी तक कोई सुध नही ली है। ऐसे में सरकार की योजनाए कैसे होंगी धरातल पर पूरी। अगर जिम्मेदार ऐसी ही कार्यशैली अपनाते रहेंगे तो सरकार की लुटिया डूबने में समय नहीं लगेगा।

क्या बोले सहायक अभियंता लोक निर्माण विभाग सिकन्दरपुर कर्ण 


जब इस मामले पर सहायक अभियंता सिकन्दरपुर कर्ण बी. के. अग्रहरी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जल्द ही सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा। वही जब यह भी पूछा गया कि ये लिंक मार्ग तो कई महीनों से जर्जर है अभी तक प्रस्ताव क्यों नही भेजा गया है। 


तो उन्होंने कहा कि मेरे पास और भी सैकड़ो कार्य है कही जिलाधिकारी भेज देते है तो कहीं अन्य अधिकारी भेज देते है। ऐसे में यह बहुत बड़ा सवाल है कि अगर क्षेत्रीय जिम्मेदार इस तरह से गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाते है। तो कैसे होंगे क्षेत्रीय विकास।


क्या बोले अधीक्षण अभियंता उन्नाव वृत्त, लो.नि.वि. 


उन्नाव जब इस प्रकरण पर अधीक्षण अभियंता उन्नाव वृत्त लो.नि.वि. मन्नी लाल से बात की गई तो उन्होंने कहा की मैं एक-दो दिन में कार्य शुरू कराता हूं।
 

FROM AROUND THE WEB