खाद्य पदार्थ की स्वच्छता का रखे विशेष ध्यानः कुलपति

- विश्व फूड सेफ्टी डे पर कुलपति ने व्यक्त किये विचार

 
खाद्य पदार्थ की स्वच्छता का रखे विशेष ध्यानः कुलपति

- विश्व फूड सेफ्टी डे पर कुलपति ने व्यक्त किये विचार

बांदा। 

बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय बांदा मे विश्व फूड सेफ्टी डे, 2022 का आयोजन किया गया। विश्व फूड सेफ्टी डे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुलपति प्रो0 नरेन्द्र प्रताप सिंह रहे। उन्होने अपने सम्बोधन में कहा कि विश्व में दस में से एक व्यक्ति प्रतिवर्ष खाद्य जनित बीमारियों से ग्रस्त होता है। ऐसी लगभग 200 बीमारियाँ सिर्फ खान पान में सुरक्षा एवं स्वच्छता का ध्यान रख कर दूर की जा सकती है। 

फूड सेफ्टी के अन्तर्गत फसल प्रबन्धन कटाई उपरान्त प्रबन्धन, भण्डारण ट्रान्सपोर्टेशन से लेकर अपभोक्ता द्वारा पदार्थाे की खरीद घर मे भण्डारण प्रोसेसिंग तथा भोजन खाने तक की सुरक्षा तथा स्वच्छता के मानक आते है। खाद्य जन्य बीमारियाँ विशेषतः बैक्टीरिया वायरस फफूंद कृषि मे प्रयुक्त रसायन, मिलावट आदि के कारण फैलती है। हमारे देश मे ही ई-कोलाई बैक्टरिया के इन्फेक्शन के हजारो मामले प्रतिवर्ष आते है। कार्यक्रम मे विश्व फूड सेफ्टी दिवस के उद्येश्यो के बारे मे बताते हुए निदेशक पी.एम.ई.सी. डा0 अखिलेश श्रीवास्तव ने कहा कि मानव जीवन के लिए रोटी कपड़ा और मकान मूलभूत आवश्यकताएँ है जिसमें से भोजन एवं पानी अति आवश्यक है। 

आज समय आ गया है कि यदि हम अपना भविष्य रोगमुक्त एवं सुरक्षित रखना चाहते है तो हमें अपने खान-पान की सुरक्षा एवं स्वच्छता का ध्यान रखना पडे़गा। सहायक प्रध्यापक समुदायिक विज्ञान महाविद्यालय डा0 सौरभ ने बताया कि सर्वप्रथम विश्व फूड सेफ्टी डे 20 दिसंबर 2018 को संयुक्त राष्ट्र की जनरल सभा में विश्व को स्वच्छ भोजन के महत्व के बारे में जागरूक करने के लिए मनाया गया। जब से प्रतिवर्ष यह दिवस विश्व भर में 07 जून को मनाया जाता है। इस वर्ष इसकी थीम सेफ फूड बेटर फ्यूचर रखी गयी है।

कार्यक्रम मे अधिष्ठाता उद्यान महाविद्यालय डा0 एस0वी0 द्विवेदी, अधिष्ठाता वानिकी महाविद्यालय डा0 संजीव कुमार, सह अधिष्ठाता सामुदायिक महाविद्यालय डा0 वन्दना, अधिष्ठाता छात्र कल्याण डा0 वी0के0 सिंह, अधिष्ठावा परास्नातक डा0 मुकुल कुमार, निदेशक शोध डा0 ए0सी0 मिश्रा, वित्त नियंत्रक डा0 अजीत सिंह तथा अन्य प्रध्यापक गण माजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन डा0 ए0के0 श्रीवास्तव ने किया।

   

FROM AROUND THE WEB