शारदीय नवरात्र के मां शैलपुत्री के दर्शन के लिए श्रृद्धालुओं की उमड़ी भीड़

मंशारानी लोनार की मां भुवनेश्वरी देवी लखनापुर में पंचपखारी व झूलूमऊ में मां फूलमती देवी मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ी। 
 
 मंशारानी लोनार की मां भुवनेश्वरी देवी लखनापुर में पंचपखारी व झूलूमऊ में मां फूलमती देवी मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ी। 


स्वतंत्र प्रभात 

उन्नाव। शारदीय नवरात्र के मां शैलपुत्री के दर्शन के लिए मंदिरों में भीड़ उमड़ रही भीड़।श्रृद्धालुओं के जयकारों घंटा और घड़ियालों की आवाज के साथ ‘या देवी सर्वभूतेषु मातृ रूपेण संस्थिता’ मंत्र की गूंज रही। भोर पहर से ही शहर के प्रमुख कल्याणी देवी मंदिर बड़े दुर्गा मंदिर पूर्णादेवी धाम सहित ग्रामीण अंचलों में स्थित देवी मंदिरों में दर्शन के लिए लोग पहुंचने लगे थे।सुबह से शाम तक देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ रही।


भक्तों ने चुनरी फल-फूल नारियल सहित अन्य वस्तुएं चढ़ाकर मां की आराधना कर सुख व समृद्धि का आशीर्वाद मांगा। भक्तों ने घरों में भी कलश स्थापना कर माता के शैलपुत्री स्वरूप की पूजा की। देरशाम मंदिरों व घरों में महिलाओं ने भजन कीर्तन किया।फतेहपुर चौरासी के देवी मंदिरों में भक्तों की भीड़ रही। कस्बा स्थित मां शीतला देवी ऊगू स्थित मां कामाक्षा देवी पंडाखेड़ा स्थित मां मंशारानी लोनार की मां भुवनेश्वरी देवी लखनापुर में पंचपखारी व झूलूमऊ में मां फूलमती देवी मंदिरों में भक्तों की भीड़ उमड़ी। 

भक्तों ने विधिवत पूजन कर मां के जयकारे लगाकर आशीर्वाद मांगा। घरों में कलश स्थापना की गई। बांगरमऊ के राजराजेश्वरी मंदिर भुवनेश्वरी मंदिर व संकटा माता मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहा। सुबह से शाम तक श्रद्धालु दर्शन के लिए आते रहे। बिछिया ब्लाक के ओरहर स्थित मां साखो देवी मंदिर, पड़रीकला की बालेश्वरी देवी लहिया स्थित जालीपा देवी भक्तों ने पूजा-अर्चना की।


 बीघापुर के शक्ति पीठ बक्सर धाम के गंगा तट पर विराजान मां चंद्रिका देवी के दर्शन के लिए भीड़ रही। कहा जाता है कि मां का दरबार 108 शक्तिपीठों में शुमार है। पिण्डी के रूप में विराजमान मां के दर्शन मात्र से ही भक्तों के कष्ट कट जाते हैं। नवरात्र के पहले दिन भोर पहर से ही मां के दर्शन को सैकड़ों की भीड़ गंगा स्नान कर कतार में शामिल हो चुकी थी। सुबह से शाम तक मंदिर में भक्तों का आना-जाना रहा। 

मां के जयकारों से गूंज रहे मंदिर चन्द्रिका देवी बक्सर, अंबिका देवी मुरारमऊ व गेंगासो स्थित संकठा देवी के एक ही दिन दर्शन करने पर पुण्य मिलता है। नवाबगंज कस्बे के दुर्गा माता मंदिर, कुसुंभी स्थित कुशहरी माता मंदिर में सुबह से ही भक्तों की भीड़ रही। मंदिर परिसर के बाहर तक भक्त लाइन में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे। मंदिर प्रबंध कमेटी के सदस्यों ने भक्तो को दर्शन कराने में सहयोग किया।

FROM AROUND THE WEB