जनसेवा समग्र ग्राम समिति परिवार द्वारा घायल पशु का प्राथमिक उपचार

क्षेत्र के लोगों में हो रही सराहना
 
जनसेवा समग्र ग्राम समिति परिवार द्वारा घायल पशु का प्राथमिक उपचार
सड़को और चौराहों पर छुट्टा पशुओं की भरमार है
बाँसगांव ,गोरखपुर। आजकल सड़को और चौराहों पर छुट्टा पशुओं की भरमार है।कोई पशु बीमार है उनकी पीड़ा को कौन समझ सकता है। ये वाकया आज देखने को मिला।कुछ लोग घायल पशु की मालहनपार रोड पर सेवा में लगे थे।उनके बारे में पता करने पर चल कि ये देवेंद्र त्रिपाठी ग्राम पोस्ट भीता बांसगांव के रहने वाले है इनका काम ही घायल पशुओं की सेवा करना और उनका अपने स्तर से ईलाज करना है।

इनकी जन सेवा समग्र ग्राम समिति परिवार के नाम से संस्था है जिसके बैनर तले काम करते है। इनके साथ इनके सहयोगी केशभान राय ग्राम सभा विशुनपुर के बांसगांव के निवासी भी थे।जोकि बहुत ही नेक कार्य कर रहे थे। देवेन्द्र त्रिपाठी इनके पिता स्व. हरिवंश त्रिपाठी प्राध्यापक संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी में कार्यरत थे।वाराणसी से आने के बाद एक लक्ष्य घायल चोटिल व असहाय पशु की सेवा बन गया।

कई जिलों में इनकी संस्था कार्य कर रही है। काशी क्षेत्र में जिला प्रचारक के रूप मे  श्री चन्द्रभानु द्विवेदी जी कार्य कर रहे है।  गोरखपुर शहर नव युवक जुझारू प्रचारक  गोरखपुर शहर  दीनदयाल उपाध्याय विश्वविद्यालय के छात्र वरुण द्विवेदी जी व प्रदेश गौ रक्षा चोटिल पशु  असहाय की सेवा कर्मठी नवयुवक छात्र प्रेरणास्रोत श्री हिमांशु जी समिति के कार्यो को भी संभालने का प्रयास करे रहे है। जिनके द्वारा समिति को एक सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त हो रही है। दिनकर जी की एक पंक्ति है जिसके माध्यम से ये संस्था उस पंक्ति को अपना प्रेरणाश्रोत मानकर कार्य करती है।

सौभाग्य न सब दिन सोता है, अब देखे आगे क्या होता है।इसी क्रम मे प्रचारक गौ सेव  गोरखपुर देख रहे माननीय केशभान राय अपना सहयोग प्रदान कर रहे है
अन्य अनेक सदस्य व पदाधिकारी है जो कार्यों मे  यथा स्थान  लगे है। इससे लोगो को सीख लेने चाहिए और घायल, छुट्टा और असहाय पशुओं के प्रति संवेदना रखना चाहिए।

FROM AROUND THE WEB