घर के नजदीक मिलेगी बेहतर चिकित्सा सुविधा हर रविवार को फिर लगेगा मुख्यमंत्री आरोग्य मेला

मेले में कोविड प्रोटोकॉल का किया जाएगा पालन 

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 


महोबा । कमजोर आयु वर्ग के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए 19 सितंबर से हर रविवार मुख्यमंत्री आरोग्य मेला शुरू होने जा रहा है। स्वास्थ्य मेला कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए संचालित किया जाएगा। सीएमओ ने सभी स्वास्थ्य अधिकारियों को पत्र जारी कर मेले का आयोजन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा.

 एमके सिन्हा ने बताया कि लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए प्रत्येक रविवार को शहरी व ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित किया जाता था। लेकिन तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए मेला स्थगित करना पड़ा। अब कोरोना का प्रसार काफी हद तक तक कम हो चुका हैं। ऐसे में नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए अब फिर आरोग्य स्वास्थ्य मेला शुरू किया जाएगा।

सीएमओ ने कहा इसके लिए सभी अधीक्षकों को मेले की तैयारी करने के लिए कहा गया है। सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर मेले के दौरान सोशल डिस्टेंसिग का ध्यान रखते हुए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाए। मेलों के प्रवेश द्वार पर पल्स ऑक्सीमीटर एवं थर्मल स्क्रीनिग की व्यवस्था सहित एक कोविड हेल्प डेस्क को सक्रिय किया जाएगा। स्क्रीनिंग के बाद ही लोगों को मेले में प्रवेश दिया जाएगा।


 सैनिटाइजेशन और मास्क अनिवार्य होगा। साथ ही मेले में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए स्वैच्छिक संगठनों की भी मदद ली जाएगी। मुंह में मास्क व गमछा लपेटे हुए व्यक्तियों को ही मेले में प्रवेश दिया जाएगा।


मेले में मिलेंगी यह सुविधाएं

जिला स्वास्थ्य एवं शिक्षा अधिकारी शिव कुमार ने बताया कि आरोग्य स्वास्थ्य मेले में आने वालों की बुखार समेत मौसमी बीमारियों की जांच, गर्भवती व बच्चों का टीकाकरण, दवा दी जाएगी। नि शुल्क जांच होंगी। नसंबदी के लिए पंजीकरण, आंखों की नि शुल्क जांच, परिवार नियोजन के अस्थायी साधन का निशुल्क वितरण, गर्भावस्था, प्रसव कालीन व जन्म पंजीकरण का परामर्श, बच्चों में डायरिया, निमोनिया रोकने सहित अन्य बीमारियों के बारे में जानकारी दी जाएगी।
 

FROM AROUND THE WEB