ई रिक्शा से मंदिर दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं को रोडवेज ने मारी टक्कर महिला की मौत

आधा दर्जन से अधिक घायल
 
ई रिक्शा से मंदिर दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं को रोडवेज ने मारी टक्कर महिला की मौत     ​​​​​​​

स्वतंत्र प्रभात 

,लखनऊ मलिहाबाद कोतवाली क्षेत्र के मां बाराही देवी मंदिर ई  रिक्शा से दर्शन करने जा रहे श्रद्धालुओं को पीछे से आ रही तेज रफ्तार रोडवेज बस ने जोरदार टक्कर मार दी जिससे रिक्शा पर सवार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को  सीएचसी मलिहाबाद भेजा गया। जहां डॉक्टरों ने एक महिला को मृत घोषित कर दिया वहीं एक युवक की हालत नाज़ुक होने पर डाक्टरों ने ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया जहां उसकी नाजुक बनी हुई है अन्य घायलों का उपचार स्थानीय कस्बे के निजी अस्पताल में चल रहा है।मिली जानकारी के अनुसार छुटकी उर्फ बिटाना पत्नी छोटई, उर्मिला पत्नी लक्ष्मण, राम जानकी पत्नी डोरी, पुतानी पत्नी पुतान, खुशबू पुत्री रामदास, रामकिशोर पुत्र बाबू,रामदास पुत्र डोरी, रजनीश पुत्र परमेश्वर, इंद्राणी पत्नी इंदल निवासी कुवंर खेड़ा थाना औरास जनपद उन्नाव ई-रिक्शा

से मां बाराही देवी ससपन  जा रहे थे। जब ई रिक्शा अदौरा मोड़ पर हरदोई की तरफ से तेज रफ्तार रोडवेज बस यूपी 33 टी 4323 ने जोरदार टक्कर मार टक्कर इतनी भीषण थी कि रिक्शा 100 फीट दूर तक बस के साथ रोड पर घिसलता चला गया सभी रिक्शा सवार रोड पर बिखर गए और घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई सभी घायलों को रोड पर तड़पता देख राहगीरों ने रहीमाबाद पुलिस को सूचना मौके पर पहुंची पुलिस ने  रिक्शा के नीचे दबे लोगों को राहगीरों की मदद से निकल कर घायलों को इलाज हेतु  एंबुलेंस से मलिहाबाद सीएचसी में भर्ती कराया जहां पर डॉक्टरों ने छुटकी उर्फ बिटाना को मृत घोषित कर दिया और गंभीर रूप से घायल रामकिशोर  को ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया वही उर्मिला, राम जानकी, पुतान, इंद्राणी, रजनेश, खुशबू का रहीमाबाद के एक निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। उधर हादसे की सूचना कुवर खेड़ा गांव पहुंचते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया।मृतक छुटकी  के पति छुटई की मौत लगभग पंद्रह साल पहले हो गई थी इनके तीन विवाहित पुत्र विजय पाल निर्मल मोहन व दो विवाहित पुत्री है। जिनका रो रोकर बुरा हाल है। 

   

FROM AROUND THE WEB