परिवारिक कलह से तंग आकर ठेकेदार ने खुद को मारी गोली

 
परिवारिक कलह से तंग आकर ठेकेदार ने खुद को मारी गोली


स्वतंत्र प्रभात 
नैनी,प्रयागराज 
राहुल जायसवाल की रिपोर्ट

औद्योगिक क्षेत्र थाना अंतर्गत एक अपार्टमेंट में रहने वाले रेलवे ठेकेदार का खून से सना शव उसके कमरे से बरामद हुआ है। इलाकाई पुलिस को मामला खुदकुशी का लग रहा है। मौका मुआयना करने पर पुलिस ने बताया कि ठेकेदार ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारकर जान दी है। 

जान देने की वजह पारिवारिक परेशानी बताई जा रही है।ठेकेदार की मौत पर परिजन में रोना पीटना मचा ह जिससे परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार चंदौली के हिंदवारी अली नगर निवासी विभूति नारायण सिंह 50 पुत्र हंस नारायण सिंह रेलवे में ठेकेदारी करते थे। वह औद्योगिक थाना क्षेत्र के एक अपार्टमेंट में रहते थे। उनका परिवार चंदौली में ही रहता है। 

बताते हैं कि गुरुवार की रात काफी देर तक अपने दो सहयोगियों के साथ शराब पीते रहे। सहयोगियों में उनके साथ सुपरवाइजर जितेंद्र मिश्रा और इंद्रजीत यादव थे। आधी रात के करीब सुपरवाइजर जितेंद्र मिश्रा ओर इंद्रजीत यादव सोने चले गए। इसके बाद विभूति नारायण सिंह ने कमरा अंदर से बंद कर लिया। फिर अपनी लाइसेंसी पिस्टल से स्वयं को गोली मार ली। गोली चलने की आवाज सुनकर दोनों सुपरवाइजर कमरे की तरफ दौड़ पड़े लेकिन ठेकेदार ने दरवाजा अंदर से बंद कर दिया था। दोनों ने तत्काल घटना की जानकारी पुलिस को दी।मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा तो वह दम तोड़ चुके थे।

 पुलिस ने कमरे की जांच पड़ताल के बाद विभूति नारायण के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं पुलिस से हादसे की जानकारी मिलने पर विभूति नारायण  के परिवार के लोग चंदौली से यहां पहुंच गए। औद्योगिक थाने की पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान परिजनों ने बताया कि विभूति पिछले कई दिनों से पारिवारिक कलह से काफी परेशान थे। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।


 

FROM AROUND THE WEB