हरे भरे पेड़ों की हो रही कटान प्रशासन मौन

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 
 

बस्ती जिले में एक तरफ जहां योगी सरकार पर्यावरण संरक्षण हेतु वृक्षारोपण करने के लिए बल दे रही है। वही दूसरी तरफ जिम्मेदारों की मिलीभगत से वन माफियाओं द्वारा धड़ल्ले से पेड़ काटे जा रहे हैं। क्षेत्र में प्राकृतिक पर्यावरण के दुश्मन लकड़ी माफिया बने हुए हैं। इस कार्य में जिम्मेदारों का उन्हें संरक्षण प्राप्त है। विभाग की मिलीभगत से प्रतिदिन ग्रामीण इलाको मे कही न कही जामुन, पापड़ ,गूलर, आम आदि पेड़ों की कटान जारी है।

ताजा मामला लालगंज थाना क्षेत्र के आदर्श नगर पंचायत बनकटी के शंकर नगर वार्ड नंबर दस (रौता) गांव का है। शनिवार से हरे आम के पेड़ की कटान इलेक्ट्रॉनिक मशीन से हो रही है। लेकिन वन विभाग और पुलिस प्रशासन दोनों बेखबर है। वहीं पर्यावरण के संरक्षक ही चन्द रूपयों के लिए क्षेत्र के हरे – भरे पेड़ों को कटवाकर हरियाली को बरबाद करने पर तुले हुये हैं। जहां सरकारें वृक्षारोपण अभियान के तहत करोड़ों रुपये खर्च करके प्रकृत के संवर्धन हेतु कार्य कर रही है।

वही वन माफियाओं वह पुलिस की जुगलबंदी से आए दिन क्षेत्र में हरे- भरे बृक्षों को काटकर पर्यावरण के दुश्मन अपनी रोजी- रोटी चला रहे हैं। इस संदर्भ में डीएफओ नवीन कुमार शाक्य ने बताया कि इस मामले कि मुझे कोई जानकारी नहीं थी । ऐसे लोगों के ऊपर तुरंत कार्रवाई होगी।

FROM AROUND THE WEB