पापी कुंआ ने ले ली दो लोगो की जान

 
पापी कुंआ ने ले ली दो लोगो की जान।                                           

स्वतंत्र प्रभात 

सोहरामऊ सं–खेल खेल में मासूम बच्चा कुंआ में गिरा बचाने को कुंआ में उतरे नाना की भी गई जान दोनो को बचाने उतरे पड़ोसी भी गंभीर हालत में कुंआ से निकाला गया जो जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा है प्रशाशन लगातार 5 घंटों के मशक्कत के बाद दोनो शवो को निकालने में कामयाब हो सकी परिवार वाले रो रोकर बदहवास हो चुके हैं मृतक के परिवार वाले जिला प्रशासन पर गंभीर आरोप लगा रहे।

आपको बतादे की थाना सोहरामऊ के अंतर्गत पड़ने वाले ग्राम सभा सहरावा कस्बे में नवल किशोर सोनी 50 पुत्र स्वर्गीय छोटा सोनी जिनके घर के सामने प्राचीन मंदिर और मंदिर के बाहर ही स्थित एक प्राचीन कुंवा है जिसमें लगभग दस साल से पानी भरना बंद था क्योंकि आज के समय में प्रत्येक घर में लगभग हैंडपंप और समरसेबल बोरिंग हो चुकी है इस वजह से कुंआ का प्रयोग लगभग प्रत्येक जगह बंद है जिसकी वजह से उस कुएं पर कुछ पत्थर और लकड़ी डालकर उसके मुहाने को बंद कर रखा था कुछ दिनों पूर्व नवल किशोर की बड़ी पुत्री मोनी जिसका विवाह लगभग 5 वर्ष पूर्व लखनऊ के गोसाईगंज कस्बे में मनोज के साथ हुआ था

जिसका पहले पुत्र का प्रीमेच्योर होने की वजह से ही निधन हो गया था यह दूसरा पुत्र था जिसका नाम शिवांश था जिसकी उम्र लगभग 3 वर्ष थी शिवांश का जन्मदिन 1 दिन बाद यानी 14 सितंबर को था शाम लगभग 5:00 बजे कुंवे पर शिवांश की मौसी और मोहल्ले की कुछ लड़कियां बैठे बात कर रही थी पुत्र शिवांश और घर के दो बच्चे और बैठे खेल रहे थे खेल खेल में  शिवांश कुवे की पटरी पर जाकर खड़ा हुआ खड़े होते ही पटरा टूट गया जिसकी वजह से शिवांश सीधा कुएं में जा गिरा इसको देखकर जो लड़कियां वहां बैठी थी वह दौड़कर घर जाकर अपने पिता को बताया सूचना पाकर खाना खाते हुए पिता नवल किशोर खाना छोड़ कर दौड़े अपने नाती को बचाने के लिए घर से रस्सी ली और रस्सी बांधकर कुएं में उतर गए नवल किशोर कुंवे में उतरे उतरकर बच्चे को लिया

और ऊपर औरतों के द्वारा रस्सी खींची जा रही थी क्योंकि नवल किशोर ने रस्सी को कहीं अपनी कमर में नहीं बांध रखा था केवल हाथों से पकड़ रखा था कुछ दूर ऊपर आने पर जब कुंआ में बनी गैस नवल के दिमाग में चढ़ी तो वह बेहोश हो गया और रस्सी हाथ से छूट गई इसकी वजह से दोनों कुए में पुनःजा गिरे जिस को बचाने के लिए पड़ोस के ही एक युवक बचल्लू सिंह उम्र लगभग 45 वर्ष भी रस्सी को कमर कमर में बांधकर कुंआ में उतरे दोनो शवों को पकड़कर लाने की कोशिश करने लगे इतने में ही नीचे से आवाज दी कि जल्दी मुझे खींचो वरना मैं भी मर जाऊंगा मेरा दम घुट रहा है मुझे सांस लेने में दिक्कत हो रही है

तभी वहां मौजूद लोगों ने खींचा निकालने के बाद कुएं से निकलने के बाद पचल्लू भी बेहोश हो चुके थे जिनको आनन फानन अस्पताल भेजा गया जिनकी अब पहले से हालत ठीक है सूचना पर पहुंचे थाना अध्यक्ष सोहरामऊ सी ओ हसनगंज एस पी उन्नाव एडिशनल एसपी उन्नाव उन्नाव फायर ब्रिगेड एस डी एम पुरवा लगभग संपूर्ण जिला प्रशासन घटनास्थल पर मौजूद था लगभग 5 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद गोताखोरों की मदद से दोनों शवों को लगभग 11:00 बजे निकाला गया निकालते ही एंबुलेंस द्वारा जिला अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर जिलाधिकारी उन्नाव के आदेश पर पोस्टमार्टम कर दोनों शवों को उनके घर सुबह लगभग 4:00 बजे पहुंचाया गया सुबह एक बार पुनः ग्रामवासी ईकट्ठा हो गए इस प्रकार की सूचना थी

adcc की शवों का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा जब तक जिलाधिकारी या मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश मौके पर ना आए लेकिन उसी बीच एसडीएम राजेंद्र प्रसाद चौरसिया मौके पर पहुंचे पहुंचते ही परिवारी जनों से बात की और चार चार लाख रुपए  मृतकों के परिवार को देने की बात कही शव को अंतिम संस्कार हेतु भेजा गया आपको बता दें कि नवल किशोर सोनी के 2 पुत्र दीपक सोनी उम्र लगभग 30 वर्ष जो शादीशुदा है जिसके एक पुत्री भी है अनुज सोनी उम्र लगभग 21 वर्ष 3 पुत्रियां बड़ी मोनी सोनी छोटी चुन्नी जिसमें चुन्नी अभी अविवाहित है,मृतकों के परिवार का रो रोकर बुरा हाल है,खबर लिखने तक शवो का अंतिम संस्कार हो चुका था।

FROM AROUND THE WEB