कांग्रेस ने देश के साथ विश्वासघात किया है स्वतंत्रदेव सिंह

सीएम की जनसभा में उमड़ी जनसैलाब

 
स्वतंत्र प्रभात

स्वतंत्र प्रभात 
 


 

जिले के कप्तानगंज में विगत दिनों आयोजित जनसभा में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कांग्रेस तमाम आरोपो की कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने कहा कि देश के अंदर कांग्रेस ने एक घोटाले नहीं बल्कि अनगिनत घोटाले किए, देश को आजादी से पहले अंग्रेजों ने लूटा बाद में कांग्रेसियों ने टूजी घोटाला से लेकर कोयला घोटाला तक कांग्रेसियों न जाने कितने घोटाले किए इन लोगों ने घोटाला ही नहीं बल्कि देश के साथ  विश्वासघात भी किया। 

सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने आगे कहा कि नेहरू ने राम को नहीं माना, कृष्ण को नहीं माना, इंदिरा गांधी ने संतों पर गोलियां चलवाई,सोनिया जी ने राम के अस्तित्व को नकारा। उन्होंने ने कहा कि जब एक गरीब परिवार में जन्म लेने वाला चाय बेचने वाला साधारण बालक जब देश का प्रधानमंत्री बनता है तो वह अपने परिवार के लिए मकान नहीं बनाता है, अपने भाई को सरकारी गाड़ी में नहीं बैठता है

बल्कि वह गांव की गरीब माताओं बहनों के लिए शौचालय बनवाता है, आवास बनवाता है, राशन देता है, बिजली देता है, पानी देता है, मुफ्त इलाज के लिए आयुष्मान कार्ड देता है, किसान सम्मान निधि देता है। मोदी और योगी सरकार यह सारी सुविधाएं बगैर किसी तुष्टीकरण के सबको समान रूप से उपलब्ध करवाती है। 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल में एक भी दंगा नहीं हुआ। अब देर रात भी कोई लड़की निर्भीक होकर घर से बाहर निकल सकती है। ये योगी जी के नेतृत्व में मजबूत कानून व्यवस्था है।उत्तर प्रदेश में कावड़ यात्रियों पर पुष्प-वर्षा पहली बार योगी सरकार बनने के बाद ही हुई।

विपक्ष पर हमला करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सपा और बसपा की सरकारों में तुष्टीकरण चरम पर था सरकारी भर्तियों में नेताओं और मंत्रियों के घर से सूचियां आती थी लेकिन योगी आदित्यनाथ के के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी सरकार के साढ़े चार वर्षों में साढ़े चार लाख से अधिक सरकारी नियुक्तियां हुई हैं जिसमें  कहीं से कोई सूची नहीं जारी हुई। सभी नियुक्तियां बिना रिश्वत के, बिना सिफारिश के पूरी पारदर्शिता से हुई। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस के कार्यकाल में अगर कोरोना महामारी आती तो यूपी की भी हालत केरल, महाराष्ट्र और दिल्ली जैसी होती। लेकिन हमने कुशल कोविड मैनेजमेंट किया। 

अन्त में उन्होंने उपस्थित जनसमूह को नशीहत देते हुए निवेदन किया कि सभी लोग बुजुर्ग माता-पिता का सम्मान करें, पत्नी को पर कभी हांथ न उठाएं, बेटे-बेटियों को अनिवार्य रूप से समान शिक्षा दिलाएं। और उपस्थित जनसैलाब को 2022 चुनाव में पुनः कमल का बटन दबाकर क्षेत्र सनातन संस्कृति और उत्तर प्रदेश के प्रगति और विकास की योजना को आगे बढ़ाने की अपील किया है।

FROM AROUND THE WEB