जिला मुख्यालय की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठे संघर्ष समिति के प्रधान

जिला मुख्यालय की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठे संघर्ष समिति के प्रधान

महेन्द्रगढ़ (विनीत पंसारी)

महेन्द्रगढ़ में जिला मुख्यालय बनाए जाने की मांग को लेकर महेन्द्रगढ़ सम्मान संघर्ष समिति के प्रधान राजबीर ने सोमवार से अपना आमरण अनशन शुरु कर दिया है । सरताज ग्रुप के पीआरओ कुलदीप यादव ने बताया कि समिति का पिछले 30 नवम्बर से अनिश्चितकालीन धरना चल रहा है और धरने का आज 25 वां दिन है । बीते रविवार को इस मुद्दे को लेकर वे प्रदेश मुख्यमंत्री से मिलना चाहते थे लेकिन उनके साथ अभद्र व्यवहार हुआ और मिलने भी नहीं दिया गया । महेन्द्रगढ़ जिला सबसे पुराना जिला होने के बावजूद आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है । केवल नाम जिला महेन्द्रगढ़ और जिले के कार्यालय नारनौल में होने से क्षेत्र के लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है । उनके धन व समय की बरबादी होती है । लेकिन इस मुद्दे पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है । इस अवसर पर मनीष राजपूत, अजय सिगड़ा, दिनेश सोनी, नरेश खातोद, नवीन जाटवास, पवनदेव दूलोठ, राजबीर सरपंच सहित अनेक लोग उपस्थित थे ।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments