कोर डेट का 42 स्थापना दिवस संपन्न

कोर डेट का 42 स्थापना दिवस संपन्न

‌कोरडेट से अधिक से अधिक लाभ लेने की अपील


‌स्वतंत्र प्रभात
‌प्रयागराज।
‌कॉर्डिट ट्रस्ट के वाइस चेयरमैन शीशपाल सिंह ने कहां है इसको ने कोर डेट की स्थापना किसानों की उन्नति के लिए किया था लेकिन 42 वर्ष बाद भी यहां का किसान जितना लाभ लेना चाहिए उतना नहीं ले सका। श्री शीशपाल इफको फूलपुर में कोर डेट के 42 में स्थापना दिवस पर आयोजित किसानों को संबोधित कर रहे थे उन्होंने कहा मोतीलाल नेहरू के नाम से स्थापित यह किसान प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी ने मोतीलाल नेहरू ट्रस्ट की जमीन देकर की थी

जिससे यहां के किसानों के साथ-साथ पूरे भारतवर्ष के किसान  प्रशिक्षण लेकर प्रगतिशील खेती कर सकें लेकिन दुर्भाग्य है कि यहां का  किसान जितना लाभ लेना चाहिए था इस संस्था से नहीं ले पाया बल्कि व विशेष मौकों पर आकर केवल खाना पूर्ति करता है यहां कुकुट पालन मुर्गी पालन गाय पालन फल संस्करण उद्यानिकीआदि का प्रशिक्षण दिया जाता है जिससे किसान अपनी आर्थिक स्थिति सु धार  सकें मृदा परीक्षण का करोड़ों रुपए का प्रयोगशाला यहां पर मौजूद है जिसमें 50,000 मिट्टी के नमूने की जांच की जाती है।

‌इफको फूलपुर इकाई के प्रमुख  एम मसूद ने कहा कोर डेट किसानों का है इसका उन्हें लाभ उठाना चाहिए यहां पर सारी सुविधाएं स्थानीय किसानों को प्रग ति के लिए दी जाती है जिसका लाभ उठाना चाहिए इसके पूर्व यहां जल संरक्षण पर एक गोष्ठी भी हुई जिसमें विशेषज्ञ हरी माधव शुक्ला ने कहा की जल ही जीवन है अगला संघर्ष विश्व में अगर किसी समस्या को लेकर होगा तो वह पानी को लेकर होगा इसलिए कम पानी का उपयोग करके अच्छी खेती करने का तरीका किसानों को अपनाना चाहिए इसके लिए उन्होंने अनेक विधियों की जानकारी भी दी।
‌भूमि संरछं अधिकारी इस मौके पर सरकार द्वारा चलाई गई अनेक जल संरक्षण  योजनाओं की जानकारी दी समारोह में अतिथियों का स्वागत करते हुए प्रधानाचार्य डॉक्टर तोमर ने कोर डेट के क्रियाकलापों की विस्तृत जानकारी दिया और स्वागत किया

इस अवसर पर आर पी सिंह बघेल बीडी सिंह आदि ने भी अपने विचार रखे यूनियन के अध्यक्ष रामसूरत पटेल और महामंत्री विनय यादव  भी उपस्थित थे ।
‌इस अवसर पर आए हुए किसानों को 5 किलो गेहूं की उन्नत प्रजाति का निशुल्क वितरण किया गया इस अवसर पर लगातार 10 वर्षों तक प्रधानाचार्य के पद पर रहे डॉ बच्चन सिंह की उपस्थिति विशेष उल्लेख निय रहे प्रयागराज से दया शंकर त्रिपाठी की रिपोर्ट

Comments