युवक द्वारा विषाक्त पदार्थ खाने की भ्रामक खबर का डीएम ने किया खण्डन

युवक द्वारा विषाक्त पदार्थ खाने की भ्रामक खबर का डीएम ने किया खण्डन

अलीगढ़,उ०प्र०-

जनसुनवाई में आया फरियादी हुआ अचानक बेहोश, जनसुनवाई में उपस्थित सरकारी डॉक्टर ने दिया, प्राथमिक उपचार, होश में आने के बाद
फरियादी ने की मुझसे वार्ता - डीएम।


कलक्ट्रेट में जनसुनवाई में आये एक युवक द्वारा विषाक्त पदार्थ अथवा जहर खाने की भ्रामक खबर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में चलाई जा रही है।

इस भ्रामक खबर का डीएम चन्द्र भूषण सिंह ने खण्डन किया है। खण्डन करते हुए डीएम ने
बताया कि आज जनसुनवाई में रजत पुत्र पुरषोत्तम निवासी गूलर रोड, अलीगढ़ के द्वारा अपना प्रार्थना पत्र दिया गया जिसको अपर जिलाधिकारी वित्त गंभीरता से सुन रहे थे उसी समय फरियादी रजत अचानक बेहोश होकर गिर पड़ा।

जिसके पश्चात जनसुनवाई में उपस्थित सरकारी चिकित्सक केसी भारद्वाज ने तत्काल प्राथमिक उपचार दिया। उपचार के पश्चात फरियादी तुरंत होश में आ गया जिसके बाद उसे जूस पिलाया गया। जूस पीने के बाद वह व्यक्ति पूरे होश में आ गया और उसके बाद उसने अपनी शिकायत डीएम को विस्तृत रूप से बताई।


शिकायत सुनने के बाद फरियादी रजत को एम्बुलेंस के द्वारा सरकारी अस्पताल मलखान सिंह में भेज गया जहां उसकी विस्तृत जांच करने पर ज्ञात हुआ कि खाली पेट होने के कारण व्यक्ति बेहोश हुआ था। इस संबंध में सीएमओ एमएल अग्रवाल ने बताया कि फरियादी रजत को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराकर उसकी जांच की गई है जिसमें व्यक्ति के द्वारा किसी भी प्रकार का विषाक्त पदार्थ अथवा जहर खाने की पुष्टि नहीं हुई है। व्यक्ति रजत पूर्ण रूप से बात कर रहा है और सम्भवतः खाली पेट होने की वजह से वह बेहोश हुआ है।


डीएम ने कहा है कि सोशल मीडिया व चैनलों तथा सर्किल एप पर फरियादी रजत के द्वारा कलेक्ट्रेट में विषाक्त पदार्थ या जहर खाने की जो खबर चलाई जा रही है वह नितान्त ही भ्रामक व झूठी है। इसके साथ ही डीएम ने मीडिया व लोगों से अपील की है इस प्रकार की अपुष्ट भ्रामक खबरें न चलाएं जिससे किसी भी प्रकार की भ्रम की स्थिति पैदा हो।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments