अलीगढ़ की टॉप खबरे

अलीगढ़ की टॉप खबरे

अधिक समय तक अमुवि में निवास करने वालों पर जुर्माना परिवर्तित 


अलीगढ़,उ.प्र.-

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने अपने विभिन्न वर्गों के आवासीय क्वार्टरों में निर्धारित समय से अधिक समय तक निवास करने वालों पर जुर्माना सहित आवास के मासिक शुल्क में  नऐ सिरे से परिवर्तन किया हैै।

विश्वविद्यालय के एक नोटीफिकेशन के अनुसार कर्मचारी की सेवानिवृति,त्यागपत्र, प्रतिनियुक्ति का समय समाप्त होने, सेवाये समाप्त होने अथवा निधन होने पर 6 माह के अन्दर आवास खा़ली करना अनिवार्य हैे। इस निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर ए-टाइप के आवास पर पहले 6 महीने के लिये 18 हज़ार रूपय मासिक उसके बाद के 6 महीने में 21 हज़ार मासिक फिर 24 हज़ार मासिक तथा

फिर अगले 6 महीने में 27 हज़ार मासिक अदा करने होंगे।बी-टाइप के आवास में निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर पहले 6 माह में 10500 रूपये मासिक फिर 13500 रूपये मासिक उसके बाद 16500 रूपये मासिक तथा फिर अगले 6 महीनों में 19500 रूपये मासिक अदा करने होंगे।

सी-टाइप के मकान में निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर पहले 6 महीने मे 7500 रूपये मासिक फिर 10500 रूपये मासिक उसके बाद 13500 रूपये मासिक तथा फिर 16500 रूपये मासिक देने होंगे।
डी-टाइप के मकान में निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर पहले 6 महीने में 6000 रूपये मासिक, फिर 9000 रूपये मासिक उसके बाद 12000 रूपये मासिक तथा फिर अगले 6 महीनों में 15000 रूपये मासिक अदा करने होंगे।

ई-टाइप के मकान में निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर पहले 6 महीने में 3750 रूपये मासिक फिर 6000 रूपये मासिक फिर 9000 रूपये मासिक तथा उसके बाद 1250 रूपये मासिक अदा करने होंगे।

एफ-टाइप के मकान में निर्धारित समय से अधिक निवास करने पर पहले 6 महीने में 2250 रूपये मासिक, फिर 4500 रूपये मासिक उसके बाद 6750 रूपये मासिक तथा फिर 9000 रूपये मासिक अदा करने होंगे।उक्त समस्त वर्गो के आवासों में सेवानिवृति के 2 वर्ष बाद निवास जारी रखने पर जुर्माने में 10 प्रतिशत की वृद्धि हो जायेगी जो निवास करने वाले से वसूल किया जायेगा।

 

देर रात्रि सेंटर प्वाइंट से उठाया मलबा


अलीगढ़,उ.प्र.-

 देर रात्रि सहायक नगर आयुक्त के नेतृत्व में सेंटर पॉइंट से मलबा उठाया गया।
नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल के निर्देशों पर सेंटर पॉइंट पर दीपावली से पूर्व चाक-चैबंद व्यवस्थाओं व विशेष सफाई अभियान चलाए जाने के लिए देर रात्रि सहायक नगर आयुक्त राज बहादुर सिंह डटे रहे।

नगर आयुक्त के निर्देशों पर सहायक नगर आयुक्त राजबहादुर सिंह के नेतृत्व में नगर निगम के 20 सफाई कर्मचारी, रोबोट, ट्रैक्टर जेसीबी मशीनों ने सेंटर पॉइंट पर पड़े मलबे को उठाया। सहायक नगर आयुक्त ने रात्रि में ही सेंटर पॉइंट पर नाइट स्वीपिंग कराए जाने के निर्देश दिए।

मंगलवार की रात्रि सेंटर पॉइंट पर नगर निगम द्वारा विशेष सफाई अभियान के क्रम में नाईट स्वीपिंग कराई जाएगी। 

 

मंदी की मार झेल रहे आलू किसान और व्यापारियों में आई सुर्खी


अलीगढ़,उ.प्र.-

आलू उत्पादक राज्यों में बारिश के चलते फसल में हुई देरी से आलू के भाव बढने लगे हैैं। एक सप्ताह में सौ रुपये प्रति कुंटल भाव बढ़े हैैं।

आलू अब 1000 से 1050 रुपये प्रति कुंटल बिक रहा है।तीन माह से मंदी की मार झेल रहे आलू किसान और व्यापारी एक सप्ताह से आलू में आई सुर्खी से खुश हैं। एकाएक आई तेजी से कोल्ड स्टोरेज से आलू निकालने का काम तेजी से हो रहा है।

अभी स्टोरेज से 70 फीसद आलू निकाला जा चुका है। किसान खेतों में परेवट कर खेत तैयार करने में लग गए हैं। आलू बोआई के लिए कोल्ड स्टोरेज से बीज की भी निकासी होने लगी हैं।आलू व्यवसाई व कोल्ड स्टोरेज संचालकों का कहना है कि बरसात के कारण हरी सब्जी बाजार में पर्याप्त मात्रा में नहीं आई।

इसलिए आलू की मांग एकाएक बढ़ गई। इससे आलू के भाव सौ से 150 रुपये प्रति कुंटल तक चढ़ गए हैं। इस बार मिड सीजन में आलू के भाव अफवाहों के चलते गिर गए थे, जो बोआई के समय कुछ हद तक बढ़ गए हैं। बारिश के चलते नई फसल आने में भी देरी हुई है।कि कई साल से आलू के भाव गिरे हुए थे, इस बार बारिश के चलते बढ़ गए हैं।

इससे कुछ हद तक किसानों को राहत मिलेगी। अब तक बाजार में आने वाला नया आलू, इस बार गायब है। किसान रामनिवास शर्मा का कहना है कि लगातार आलू में घाटा झेल रहे किसानों को इस समय बेहतर भाव  मिलने से किसानों और व्यापारियों में खुशी है। बढ़े भाव का यह सिलसिला एक महीना रहना चाहिए।

 

शूटरों ने कांग्रेस नेता व पूर्व पार्षद पति को गोलियों से भूना


अलीगढ़,उ.प्र.-

महानगर के सिविल लाइंस इलाके में अनूपशहर रोड पर मंगलवार देर शाम कांग्रेेस नेता व पूर्व पार्षद पति मो.फारुख (50) की बाइक सवार नकाबपोश शूटरों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

घटना के वक्त वह चिनार गेस्ट हाउस के बगल में अपने दफ्तर में बैठे हुए थे। तभी दो बाइकों पर आए हमलावरों ने उन्हें निशाना बनाकर फायरिंग कर दी। हालांकि गोलियों की आवाज सुन एकत्रित हुई पब्लिक ने एक शूटर को दबोच लिया, मगर उसके साथी शूटर भीड़ पर सीधे फायरिंग कर उसे छुड़ाकर ले जाने में सफ रहे।

इसके बाद आनन-फानन कांग्रेस नेता को जेएन मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। मगर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। खबर पर एसपी सिटी सहित तमाम अमला मौके पर पहुंच गया। खबर पर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव पूर्व विधायक विवेक बंसल व मेयर मो.फुरकान भी मेडिकल कॉलेज पहुंच गए थे।

सिविल लाइंस के भमोला स्थित कादिर मंजिल निवासी मो.फारुख का मूल रूप से फाइनेंस का व्यापार था और उनका अपना रिक्शों का गैराज भी था। परिवार में पत्नी शहाना परवीन के अलावा एक बेटा व तीन बेटियां हैं।

पत्नी शहाना परवीन वार्ड नंबर 60 से नगर निगम पार्षद रही हैं। फारुख ने चिनार होटल के बराबद सड़क पटरी पर झोंपड़ीनुमा अपना दफ्तर भी बना रखा था। शाम करीब आठ बजे वह अपने दफ्तर में बैठे थे। तभी दो बाइकों पर आधा दर्जन नकाबपोश वहां आए और फारुख को निशाना बनाकर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

एक गोली उनके सीने में लगी, जिसके बाद वह भागे तो दूसरी गोली पीछे से पीठ में लगी और वह गिर गए। यह देख आसपास लोगों व राहगीरों ने घेराबंदी कर एक हमलावर को दबोच लिया। मगर उसके साथियों ने पब्लिक पर ही फायरिंग शुरू कर दी। जिससे शूटर छूटकर अपने साथियों तक पहुंच गया।

इसके बाद सभी फायरिंग करते हुए बाइकों पर अनूपशहर की ओर भाग गए। इस दौरान आधा दर्जन से अधिक राउंड फायरिंग हुई, जिससे इलाके में दहशत का माहौल पैदा हो गया। हालांकि जब तक सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची, तब तक लोग फारुख को लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

इसी बीच खबर पर एसपी सिटी अभिषेक, सीओ तृतीय अनिल समानिया, विवेक बंसल, मेयर मो.फुरकान, एसओजी, सिविल लाइंस आदि पुलिस पहुंच गई। परिजनों से पूछताछ में यह तथ्य सामने आया कि फारुख पर एक साल पहले भी घर के बाहर हमला हुआ था।

उस समय गोली लगने से एक माह तक इलाज चला था। उस मुकदमे में कुछ बाहर के शूटर जेल गए थे और जांच में जमालपुर के ही कुछ लोगों द्वारा हमला कराया जाना सामने आया था। वह हमला 24-25 लाख की उधारी को लेकर होने की बात सामने आई थी।

इससे ज्यादा परिजनों को कोई जानकारी नहीं है। अब यह हत्या क्यों, किसने और किस वजह से हुई है। यह जांच में ही सामने आएगा। फिलहाल परिजनों की ओर से तहरीर दिए जाने का पुलिस को इंतजार है। एसपी सिटी अभिषेक ने इतना ही बताया कि मामले में जांच व तहरीर के आधार पर ही कुछ किया जा सकेगा।

पुलिस की एक टीम सीसीटीवी आदि देखने में लगी है। जल्द ही तस्वीर साफ कर दी जाएगी।फारुख वैसे तो विवेक बंसल के करीबियों में गिने जाते थे और शुरू से ही कांग्रेस में थे। पिछले दिनों पार्षद टिकट न मिलने से नाराज होकर वह सपा में शामिल हो गए थे।

मगर कुछ दिन सपा में रहने के बाद वह वापस कांग्रेस में आ गए थे। उनके विषय में कहा जाता है कि वह बेहद मिलनसार और दोस्ताना व्यवहार के व्यक्ति थे। प्रापर्टी व्यापार में भी वह हाथ डालने लगे थे। अभी यह कहना संभव नहीं है कि उनकी हत्या किस व्यापार को लेकर हुई है।


एएमयू बवाल के चलते जांच पर लगा ब्रेक


फारुख की हत्या के कुछ देर बाद ही सिविल लाइंस पुलिस को खबर लगी कि एएमयू के छात्र ने सुसाइड कर लिया है। अभी पुलिस की एक टीम छात्र के शव को निकालने व उसकी जांच पड़ताल में लगी थी कि अचानक सुसाइड को लेकर नाराज छात्रों की पुलिस से भिड़ंत हो गई।

बस फिर क्या था, पूरी पुलिस वहां व्यस्त हो गई और फारुख की हत्या की जांच में जुटी टीमें भी इस प्रकरण को छोड़ कर वहां पहुंच गईं। इसके चलते देर रात अचानक से हत्या की जांच पर ब्रेक लग गया था।

 

स्थानीय भाषा में यात्रियों को ट्रेनों की मिलेगी जानकारी


अलीगढ़,उ.प्र.-

स्टेशनों पर स्थानीय भाषा में यात्रियों को ट्रेनों के आगमन और प्रस्थान की जानकारी मिलेगी।

इलाहाबाद जंक्शन,कानपुर, अलीगढ़,झांसी,आगरा,मथुरा समेत उत्तर प्रदेश मध्य रेलवे (एनसीआर) के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर स्थानीय भाषा में यात्रियों को ट्रेनों के आगमन और प्रस्थान की जानकारी मिलेगी।

क्षेत्रीय भाषाओं के प्रचार प्रसार के लिए एनसीआर प्रशासन यह कदम उठाने जा रहा है।स्थानीय लोगों को स्टेशन पर अपनापन महसूस हो इसी वजह से प्रमुख स्टेशनों पर क्षेत्रीय भाषा में ट्रेनों का एनाउंसमेंट होगा।देश में तमाम स्टेशनों पर ट्रेनों का एनाउंसमेंट हिंदी व अंग्रेजी भाषा में होता है।

दक्षिण भारत के कुछ स्टेशनों पर स्थानीय भाषा में उद्घोषणा जरूर की जा रही है। लेकिन,हिंदी वासी क्षेत्र के स्टेशनों पर ऐसा नहीं है।इसी वजह से एनसीआर प्रशासन ने अपने प्रमुख स्टेशनों पर वहां की स्थानीय भाषा में ट्रेनों का एनाउंसमेंट करवाने की तैयारी की है।

 

गबन के मामले में आरोपी की जमानत की खारिज


अलीगढ़,उ.प्र.-

एटीएम में रकम डालने वाली एजेंसी के कर्मचारियों पर दर्ज 1.40 करोड़ के गबन के मामले में अदालत ने एक आरोपी की जमानत खारिज कर दी है। जमानत अर्जी एडीजे-3 के न्यायालय से खारिज की गई है।

अभियोजन पक्ष के अधिवक्ता सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता जेपी राजपूत के अनुसार रामघाट रोड स्थित केनरा बैंक शाखा के प्रबंधक श्रवण कुमार की ओर से एटीएम मशीनों में भरने के लिए उपलब्ध कराई रकम के गबन का आरोप लगाते हुए 29 जनवरी 2018 को मुकदमा दर्ज कराया था।इस मामले में कंपनी के केयर टेकर को नामजद

किया गया था। दौरान-ए-विवेचना मुकदमे में पुलिस ने आरोपी कंपनी अधिकारी रामकृष्ण पुत्र कुंज बिहारी निवासी ठठोई शाहपुर,इगलास का नाम भी बढ़ाया।बाद में आरोपियों पर चार्जशीट दायर की गई।इस मामले में आरोपी रामकिशन 2 सितंबर से कारागार में निरुद्ध है। उसके अधिवक्ता द्वारा जमानत अर्जी दायर की गई,जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया है।

 

 पतंग को लेकर विवाद में किशोरी घायल


अलीगढ़,उ.प्र.-

देहली गेट क्षेत्र में पतंग को लेकर दो पक्षों के बीच हुये विवाद में एक किशोरी कसो मारपीट कर दबंगों ने गम्भीर रूप से घायल कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किशोरी को गम्भीरावस्था में उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।  


पुलिस के अनुसार नीवरी मोड निवासी शबनम पुत्री साजिद छत पर भाई के साथ पतंग उड़ा रही थी तभी पड़ोसी गब्बर ने पतंग उड़ाने का विरोध किया।जिस पर गब्बर के परिवार की महिलाएं भी बाहर आ गई।देखते ही देखते दोनों परिवारों के बीच आपस में कहासुनी होने लगी।

उसके बाद गब्बर के परिवार की महिलाओं ने शबनम के साथ जमकर मारपीट कर दी जिसमें शबनम गंभीर रूप से घायल हो गई।चीख-पुकार की आवाज सुनकर स्थानीय लोग दौड़कर मौके पहुंचे और मारपीट कर रही महिलाओं से शबनम को बचाया।

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल शबनम को जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका उपचार जारी है।परिजनों की तहरीर पर पुलिस आगे की कार्रवाई करने की बात कर रही है।

 

 युवक ने पत्नी से बचाने की लगाई गुहार
अलीगढ़,उ.प्र.। खैर कोतवाली क्षेत्र के एक युवक ने अपनी पत्नी के आतंक से त्रस्त होकर परेशान होकर एसएसपी के दरबार में न्याय की गुहार लगाने पहुंच गया। 
गांव कीलपुर निवासी दीपक कुमार ने थाने में अपनी पत्नी अनुपमा के खिलाफ घर से जेवर और 20 हजार ले जाने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई है। दीपक ने तहरीर में कहा है कि उसकी शादी डेढ़ साल पूर्व हाथरस के थाना चंदपा क्षेत्र के गांव मीतई निवासी मुन्नालाल की पुत्री अनुपमा के साथ हुई थी।

शादी के कुछ दिन बाद अनुपमा छोटी मोटी बातों पर उसके और उसकी मां के साथ आए दिन झगड़ा करने के साथ मारपीट करती थी और खुद आत्महत्या कर फंसाने की धमकी देती थी। मुन्नालाल कल शाम अनुपमा को अपने साथ ले गया।अनुपमा घर से जेवर कपड़े और नगदी ले गई है।

दीपक ने आशंका व्यक्त की है कि मुन्नालाल और अनुपमा उसे और उसके परिवार को किसी भी झूठे मामले में फंसा सकते हैं।उसे न्याय दिलाया जाए इस पूरे मामले की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

 

कृषि अपशिष्ट न जलाने पर नपेगें लेखपाल और प्रधानःडीएम


 अलीगढ़,उ.प्र.-

कृषि अपशिष्ट न जलाने पर संबंधित क्षेत्रीय लेखपाल,ग्राम प्रधान पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। इसके लिये डीएम ने आदेश जारी कर दिये हैं। 


जनपद अलीगढ़ में मा. राष्ट्रीय हरित अधिकरण के आदेशों के क्रम में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व की अध्यक्षता में पराली/कृषि अपशिष्ट जलाने की रोकथाम हेतु जनपद स्तर तथा तहसील स्तर पर गठन किया गया है।डीएम चंद्र भूषण सिंह ने जनपद अलीगढ़ के प्रत्येक गांव के ग्राम प्रधान,क्षेत्रीय लेखपाल एवं कृषि विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारी को निर्देशित करते हुए आदेश जारी किए हैं कि किसी भी दशा में अपने संबंधित क्षेत्र में परालीध् कृषि अपशिष्ट न जलाने दिया जाए।

किसान द्वारा पराली जलाने की घटना होने पर शासनादेश के अनुसार संबंधित लेखपाल,ग्राम प्रधान व कृषि विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारी पर कार्यवाही होगी।इसके लिए वह  स्वयं जिम्मेदार होंगे।एडीएम वित्त की अध्यक्षता में सेल का दायित्व होगा कि धान कटने के समय से लेकर रवी में गेहूं की बुवाई तक प्रतिदिन फसल अवशेष जलाने की घटनाओं एवं रोकथाम के लिए की गई कार्यवाही की समीक्षा कराते हुए

प्रत्येक कार्य दिवस में उक्त रिपोर्ट उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा गठित समिति के समक्ष तथा प्रमुख सचिव कृषि उत्तर प्रदेश शासन को भेजी जाएगी।

 

सुपारी देकर चचेरे भाई की कराई हत्या


अलीगढ़,उ.प्र.-

मडराक कस्बा के युवक की जमीन की रंजिश में अपहरण कर हत्या कर लाश हरदुआगंज थाना क्षेत्र में दफना दी। हत्या के लिए सुपारी देने वाले मृतक के तयेरे भाई समेत चार को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। लेकिन परिजनों और उनके समर्थकों ने तयेरे भाई को आरोपी नहीं बनाने के शक में आज थाने पर जमकर हंगामा किया।

 चन्द्रमोहन को उसका दोस्त गांव का ही किरण गौड़ और बाॅबी उर्फ गुड्डू निवासी शाहपुर ठठोई लैपटाॅप दिलाने के बहाने बुला कर ले गये। किरण ने पुलिस को बताया कि चन्द्रमोहन के तयेरे भाई सूरज उर्फ बौना पुत्र स्व.रामप्रताप ने उसका अपहरण कर हत्या करने के लिए दो लाख रूपये की सुपारी दी थी। पुलिस ने सूरज सहित चारों आरोपियों को आज कोर्ट में पेशकर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

यह जानकारी देते हुए एसपी ग्रामीण मणीलाल पाटीदार ने बताया कि सूरज ने दस बीघा जमीन की रंजिश में सुपारी देकर यह हत्या कराई है।  

 

18 को गौंडा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ


अलीगढ़,उ.प्र.-

इगलास विधानसभा भाजपा कार्यालय पर प्रभारी मंत्री सुरेश राणा ने पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 18 अक्टूबर को सुबह 10 बजे गौंडा के लगसमा इंटर कॉलेज के समाने मैदान में चुनावी सभा को प्रत्याशी के समर्थन में संबोधित करेंगे।

उन्होंने कहा कि राजा महेन्द्र प्रताप सिंह के नाम पर सीएम ने पिछले दिनों विवि की घोषणा की इसको लेकर क्षेत्र के लोगों में भारी उत्साह है। सीएम ने किसानों के हित में बड़े फैसले किए हैं। इस क्षेत्र में आलू उत्पादक उद्योग लगाने की पहल की है। धान,गेहूं सहित तमाम फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाया गया है।

किसान,नौजवान, महिलाओं का सम्मान तमाम विषयों को लेकर योगी सरकार आगे बढ़ रही है। यहां की जनता इस बार इतिहास बनाएगी। इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम खंडेलवाल,जिलाध्यक्ष ठा. गोपाल सिंह,निशित शर्मा, विक्रम सिंह हिंडोल,पीयूषदत्त शर्मा,राजकुमार अग्रवाल आदि थे।

 

बर्बाद फसलों का 25 हजार प्रति बीघा मुआवजा दे सरकारःचैधरी सुनील


अलीगढ़,उ.प्र.-

 इगलास विधानसभा के लोहर्रा में नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चैधरी सुनील सिंह ने कहा कि आवारा पशुओं से बर्बाद फसलों का 25000 प्रति बीघा मुआवजा दे

प्रदेश सरकार और उन्होंने कहा कि किसान आवारा पशुओं के आतंक से त्रस्त है आवारा पशु किसानों की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं और यदि किसान अपनी फसलों की रक्षा के लिए आवारा पशुओं के उचित निस्तारण के लिए प्रशासन के पास जाता है तो प्रशासन निर्दोष बेकसूर किसान भाइयों पर संगीन

धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजने का कार्य करता है।सभा में उपस्थित लोकदल के पदाधिकारी गण लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता जयराम पांडे,हितेंद्र सेहजवाल जिला अध्यक्ष देवानंद,एडवोकेट सचिन सैनी गांधी,पश्चिम प्रभारी संदीप तोमर,नीरज शर्मा,बालकिशन राजोरिया आदि लोग उपस्थित रहे

 

स्वास्थ विभाग के घोटाले में नहीं हुई कोई कार्यवाही


अलीगढ़,उ.प्र.-

अलीगढ़ में स्वास्थ विभाग में पिछले दिनों 10 करोड़ घोटाला प्रकाश में आया था। प्रकरण के प्रकाश में आने पर शासन से रिपोर्ट मांगी गई थी जिसमे शासन को 1 माह पहले रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है।

लेकिन मामले में अभी तक कुछ नहीं हुआ है। मामले में सीएमओ, सीएमएस, एसीएमओ सहित 7 लोगों को को दोषी पाया गया था। वहीं, सूत्रों की माने तो विभाग में चर्चा है कि प्रकरण को मैनेज करने का प्रयास किया जा रहा है।

लखनऊ में एक बड़े अधिकारी रिपोर्ट को दबाए हुए है और सत्ता पक्ष के एक मंत्री दोषी व्यक्तियों में से एक के रिश्तेदार बताए जा रहे है। इस प्रकरण से मोदी सरकार की भ्रष्टाचार मुक्त भारत के अभियान में उनके ही नेता और अधिकारी बट्टा लगाने पर तुले हैं।

बड़ा सवाल ये है कि सरकार सत्ता में आने से पहले तक कहती थी कि न खाएंगे और न खाने देंगे। देखना बाकी है कि अब सरकार भ्रष्टाचारी अधिकारियों पर कब तक कार्यवाही करेगी ?

Comments