अधिवक्ताओं ने दी एएसपी को तीन दिन में गोली काण्ड का ख्ुलासा करने की चेतावनी

अधिवक्ताओं ने दी एएसपी को तीन दिन में गोली काण्ड का ख्ुलासा करने की चेतावनी

अलीगढ़

थाना क्वार्सी क्षेत्र के जनकपुरी पानी की टंकी के पास वकील को मारी गई गोली के बाद मंगलवार को अधिवक्ता सड़क पर उतर आए। अधिवक्ता ने विरोध करते हुए एक दिवसीय हड़ताल रखी और एसएसपी के नाम संबोधित ज्ञापन एसपी सिटी को दिया। अधिवक्ताओं ने तीन दिन का अल्टीमेटम दिया है।

मंगलवार की सुबह जिला बार एसोसिएशन के बैनर तले अधिवक्ता दीवानी में एकजुट हुए और गुस्से का इजहार किया। इसके बाद अधिवक्ता दीवानी से बाहर आ गए। इधर जानकारी मिलने पर एसपी सिटी अभिषेक कुमार मय पुलिस बल के पहुंच गए। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश बाबू गुप्ता व महासचिव अनूप कौशिक ने संयुक्त रूप से एसपी सिटी को ज्ञापन दिया।

ज्ञापन में पर्दाफाश करते हुए हमलावर को तीन दिन में गिरफ्तार करने व रासुका की कार्रवाई करने की मांग की गई। ज्ञापन देते समय वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुमित गौतम, कनिष्ठ उपाध्यक्ष मिर्जा अनीस बेग व कोषाध्यक्ष अंशुमान गौतम समेत अनेक अधिवक्ता मौजूद रहे।

रविंद्र प्रताप सिंह (48) मूलरूप से हाथरस जंक्शन के गांव इमलिया के रहने वाले हैं। काफी साल से क्वार्सी क्षेत्र की जनकपुरी पानी की टंकी के पास वकील राजेंद्र पाल के मकान में परिवार सहित किराये पर रह रहे हैं। रविंद्र रिक्शे से कलक्ट्रेट स्थित कचहरी जाते-आते हैं। सोमवार शाम भी रिक्शा से घर लौट रहे थे।

रामघाट रोड होते हुए लाल मंदिर से जनकपुरी पानी की टंकी की तरफ मुड़े। इसी दौरान बाइक सवार दो लोग आए। पीछे बैठे युवक ने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था। जैसे ही घर पर पहुंचे, बदमाशों ने गोली चला दी। इससे वह घायल हो गए। दाहिने हाथ से खून निकलता देख वकील को आनन-फानन आसपास के लोगों ने वरुण ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया। चर्चा है कि हाथरस में किसी से रंजिश के चलते उन्हें गोली मारी गई है।

Comments