अलीगढ़ की बड़ी खबरे

अलीगढ़  की बड़ी खबरे

सिटीजन ग्रुपों पर संदेश प्रसारित करने पर लगाई रोक
अलीगढ़। नगर आयुक्त ने व्हाट्सएप नगर निगम कंट्रोल रूम सिटीजन ग्रुपों पर संदेश प्रसारित करने पर लगाई रोक। माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद प्रकरण के परिणाम को देखते हुए शासन द्वारा आपत्तिजनक सूचना व संदेश के सोचल मीडिया पर रोक लागये जाने व सख्ती से अनुपालन कराए जाने को दृष्टिगत नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल के नगर निगम के आधिकारिक ष्नगर आयुक्त कंट्रोल रूम सिटिजन वाट्सएप्प ग्रुप के समस्त ग्रुप में अग्रिम आदेशो ग्रुप सेटिंग में बदलाव करते हुए

किसी भी तरह के मैसेज संदेश को पोस्ट करने पर रोक लगा दी है। नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने कहा माननीय सर्वोच्च न्यायालय के उक्त प्रकरण के आगामी निर्णय एवं शासन के दिशा निर्देशों के अनुपालन में भ्रामक सूचनाओं एवं आपत्तिजनक संदेशों को रोकने के उद्देश्य यह कदम नगर निगम स्तर से उठाया गया है। उन्होंने नगर निगम सिटिजन ग्रुप एडमिन और मीडिया सहायक एहसन रब को तत्काल समस्त व्हाट्सएप ग्रुप सेटिंग बदलने के निर्देश दिए है।उन्होंने बताया यह व्यवस्था अग्रिम आदेशों तक प्रभावी रहेगी जनसामान्य अपनी समस्या अथवा शिकायतों के संबंध में सीधे मीडिया सहायक एहसान रब के व्हाट्सएप 9568001883 पर भेज सकते।

 

चाइल्ड लाइन से दोस्ती सप्ताह का होगा आयोजन
अलीगढ़। सिटीजन ग्रुपों पर संदेश प्रसारित करने पर लगाई रोक। उड़ान सोसाइटी द्वारा संचालित चाइल्ड लाइन की टीम बाल दिवस के उपलक्ष्य में 11 से 18 नवम्बर तक चाइल्ड लाइन से दोस्ती सप्ताह मनाएगी। चाइल्ड लाइन के निदेशक ज्ञानेंद्र मिश्रा ने बताया गत वर्षों की भांति संस्था इस वर्ष भी ‘चाइल्ड लाइन  से दोस्ती सप्ताह’ मना रही है, जिसके अंतर्गत सप्ताह भर लोगों के बच्चों के प्रति संवेदनशीलता लाने के लिए विभिन्न कार्यक्रम चलाये जायेंगे।

जिसमें ग्यारह नवम्बर को रेलवे स्टेशन एवं विभिन्न थाना क्षेत्रों में जाकर सुरक्षा बंधन बांधा जायेगा। 12 नवम्बर को रेलवे स्टेशन, सेंटर पॉइंट आदि स्थानों पर हस्ताक्षर अभियान, 13  नवम्बर को शाहजमाल में पतंग प्रतियोगिता, 14 नवम्बर को चाइल्डलाइन कार्यालय को बच्चों के साथ पार्टी का आयोजन, 15 एवं 16 नवम्बर को धनीपुर माध्यमिक स्कूल में खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन एवं 18 नवम्बर को स्कूली छात्रों को स्थानीय अखबार के कार्यालय का भ्रमण कराया जायेगा।

 

गांधी परिवार की एस.पी.जी. सुरक्षा हटाये जाने पर कांग्रेसियो में आक्रोश 
अलीगढ़। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य परवेज अहमद ने मेडिकल रोड स्थित अपने कार्यालय पर एक सभा का आयोजन किया जिसमें परवेज अहमद ने कहा जिस परिवार ने देश के लिए अपना सर्वस्व बलिदान दिया उस परिवार से एसपीजी सुरक्षा वापस लेने का फैसला निंदनीय है।\

गाँधी परिवार सदैव देशद्रोहियों के निशाने पर रहा है , उनकी सुरक्षा हेतु देश की संसद ने विशेष कानून बनाया था । गाँधी परिवार की सुरक्षा में कमी करके सरकार क्या संदेश देना चाहती है ,यह घोर निन्दनीय है।प्रधानमंत्री और गृहमंत्री, सोनिया गांधी और राहुल गांधी तथा प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा हटाना आपकी सरकार की घोर दुर्भावनापूर्ण राजनीति को दर्शाता है। हमारी मांग है कि इस निर्णय को वापस लिया जाए तथा पूर्व की व्यवस्था बहाल की जाए।

गांधी परिवार के बलिदानों का इतिहास है जिसे प्रधानमन्त्री और गृहमंत्री कभी भी बदल नहीं पायेंगेःविवेक बंसल अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल पूर्व विधायक ने एक ब्यान जारी करके केंद्र सरकार द्वारा गाँधी परिवार से एस.पी.जी. सुरक्षा वापस लिये जाने का कड़ा विरोध करते हुये कहा है कि देश की वर्तमान भाजपा सरकार के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह जानबूझकर एक सोची समझी साजिश के तहत गांधी परिवार की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। इस परिवार का इतिहास बलिदानों का इतिहास है जिसे प्रधानमन्त्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह कभी भी बदल नहीं पायेंगे यदि केंद्र सरकार इस निर्णय से इस परिवार के सदस्यों पर कोई आंच आती है तो उसके लिये ये लोग जिम्मेदार होंगे प्

 

सभी स्कूल बंद,रात 12 बजे से इंटरनेट सेवाएं बंद 

  • अयोध्या पर शनिवार को आ रहे फैसले को लेकर अलीगढ़ जिले में शुक्रवार रात 12 बजे से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं

 अलीगढ़रू अयोध्या पर शनिवार को आ रहे फैसले को लेकर अलीगढ़ जिले में शुक्रवार रात 12 बजे से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। डीएम चंद्रभूषण सिंह ने इसके लिए आदेश जारी किए। शनिवार रात 12 बजे तक सेवा पर पाबंदी रहेगी। जरूरत पड़ी तो प्रशासन इसे आगे भी बढ़ा सकता है। सोशल मीडिया पर अफवाहें रोकने के लिए प्रशासन ने यह फैसला लिया है। 

 

आज शाम आठ बजे बंद हो जाएगा बाजार
अलीगढ़ शहर में शांति व्यवस्था रखने के लिए प्रशासन सख्त है। मजमेबाजी पर पाबंदी लगाई जा रही है। डीएम ने शनिवार रात आठ बजे बाजार बंद करने आदेश जारी कर दिया है। पुलिस को रात-दिन गश्त करने के निर्देश दिए हैैं। जिले की सीमा पर नाकाबंदी कर दी गई है। हाईवे पर पेट्रोलिंग की जा रही है।

 

अमुवि में सभी परीक्षाएं व  कक्षाएं स्थगित, स्कूल बंद
अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में शनिवार को होने वाली विधि व अन्य परीक्षाएं अयोध्या पर फैसला आने के चलते आगामी आदेश तक स्थगित कर दी गई हैं। एएमयू के सभी स्कूल भी 11 नवंबर तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है। इंतजामिया ने कक्षाओं को भी स्थगित करने का निर्णय लिया है,

मगर एएमयू में अवकाश नहीं रहेगा। कार्यालय खुले रहेंगे। शैक्षणिक गतिविधियों को रोक दिया गया है। एएमयू प्रवक्ता शाफे किदवई ने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से सभी शैक्षणिक संस्थानों में अवकाश रखने के निर्देशों के बाद इंतजामिया ने यह फैसला लिया है। स्थगित परीक्षाओं की नई तिथि कंट्रोलर के साथ मीटिंग कर तय की जाएगी। जो तिथि तय होगी, उसकी जानकारी विद्यार्थियों को जानकारी दे दी जाएगी।

 

उन्नति को स्थायी और मजबूत होना चाहिये ताकि मानवता को दीर्घकालिक लाभ हाःप्रो.एसएन सिंह 
अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जाकिर हुसैन कालिज आफ इंजीनियरिंग एण्ड टैक्नालोजी के तत्वाधान में ओहायो स्टैट यूनिवर्सिटी, अमरीका और नेशनल पावर ट्रेनिंग इंस्टीटयूट, विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से इलैक्ट्रीकल, इलैक्ट्रोनिक्स और कम्प्यूटर इंजीनियरिंग के विषय पर छठवीं तीन दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस (यूपीकोन-2019) आयोजित की गई। इस कांफ्रेंस को अन्तर्राष्ट्रीय व्यवसायिक संस्था इंस्टीटयूट आफ इलैक्ट्रीकल एण्ड इलैक्ट्रोनिक्स इंजीनियर्स (आईईईई यूपी सेक्शन) के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।

जेएन मेडीकल कालिज के सभागार में कांफ्रेंस के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि मदन मोहन मालवीय यूनिवर्सिटी आफ टैक्नालोजी के कुलपति प्रो. एसएन सिंह ने कहा कि उन्नति को स्थायी और मजबूत होना चाहिये ताकि मानवता को इससे दीर्घकालिक लाभ हो सके। उन्होंने कहा कि तरक्की के नाम पर पर्यावरण को नुकसान पहुंचाया गया लेकिन मानवता के लिये इसके खतरों का अब तेजी से आभास हो रहा है।

प्रो. सिंह ने आईईईई की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह कांफ्रेंस शोधकर्ताओं, विशेषज्ञों, व्यवसाइयों और छात्र व छात्राओं के लिये एक दूसरे के साथ मंच साझा करने का अवसर प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि तकनीक मानवता के फायदे के लिये है और इलेक्ट्रीकल, इलेक्ट्रोनिक, कम्प्यूटर इंजीनियरिंग, संचार और अन्य सम्बन्धित क्षेत्र आपस में सहयोग करके मानव संसाधन का हल खोज सकते हैं। उन्होंने युवा इंजीनियरों से कहा कि वह आपस में संवाद करें जिससे अन्वेषण की संभावनाऐं भी पैदा होती हैं।

इससे पूर्व इंजीनियरिंग कालिज के प्रिन्सिपल प्रो. एमएम सुफियान बेग ने उपस्थितजनों का स्वागत करते हुए इंजीनियरिंग कालिज का परिचय कराया। प्रो. सुफियान बेग ने कहा कि इस संस्था का स्वर्णिम इतिहास रहा है। खान अब्दुल गफ्फार खां और डा. जाकिर हुसैन ने इसी कालिज से शिक्षा ग्रहण की थी।

इंजीनियरिंग फैकल्टी के डीन प्रो. बीएच खान ने बताया कि कांफ्रेंस के लिये 400 से अधिक शोध पत्र प्राप्त हुए थे जिनमें 278 उच्च स्तरीय शोध पत्र को चयनित किया। उन्होंने कहा कि इस कांफ्रेंस में विश्व भर से 200 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। कांफ्रेंस चैयर प्रो. मोहम्मद रेहान ने उपस्थितजनों का आभार व्यक्त किया।

कांफ्रेंस के उद्घाटन सत्र में आईआईटी रूड़की के डायरेक्टर प्रो. एके चतुर्वेदी को लाइफ टाइम अचीवमेंट एवार्ड प्रदान किया गया जिसको उनके प्रतिनिधि द्वारा प्राप्त किया गया। यह एवार्ड प्रो. जीके दुबे की स्मृति में प्रदान किया गया। सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किये गये। इस अवसर पर कांफ्रेंस की स्मारिका का भी विमोचन किया गया।

 

मुख्य सचिव ने तहसील, थाना, चिकित्सालय, गौ-संरक्षण केन्द्र एवं ग्राम का किया निरीक्षण
अलीगढ़। प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग उ0प्र0 शासन नितिन रमेश गोकर्ण शासन के दूत की भूमिका में विकास कार्यक्रमों, शासन द्वारा संचालित लाभार्थीपरक योजनाओं एवं जनपद में कानून व्यवस्था की नब्ज टटोलने के लिए अपने दो दिवसीय भ्रमण पर अलीगढ़ पहुॅचे।

प्रमुख सचिव ने अपने भ्रमण के दौरान शुक्रवार को तहसील गभाना, थाना गभाना गौ संरक्षण केन्द्र औगर नगला राजू, मलखान सिंह जिला चिकित्सालय सहित ग्राम अलहदादपुर में चैपाल लगाकर शासन द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का मौके पर स्थलीय सत्यापन किया। जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह, एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने तहसील गभाना पहुॅचकर जनपद में विकास एवं कानून व्यवस्था के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की।

प्रमुख सचिव उ0प्र0 शासन गोकर्ण ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि शासन द्वारा संचालित विकास कार्यक्रमों का क्रियान्वयन गुणवत्तापरक एवं पूर्ण पारदर्शी तरीके से किया जाए। आम जनमानस को दफ्तरों के चक्कर न कटवाए जाएं, ऐसा करने से एक तरफ जहां पीड़ित का धन और समय दोनों बर्वाद होता है वहीं दूसरी तरफ शासकीय व्यवस्था के प्रति अविश्वास की भावना बलवती होती है। प्रमुख सचिव ने अपने भ्रमण कार्यक्रम का प्रारम्भ तहसील गभाना के निरीक्षण से किया

जहां मुख्य विकास अधिकारी अनुनय झा द्वारा उनका स्वागत किया गया। तहसील में प्रवेश करते हुए प्रमुख सचिव ने तहसील परिसर में बने मतदाता पंजीकरण केन्द्र पर पहॅुचकर कार्य की प्रगति को जाना, तदोपरान्त आय व्यय रजिस्टर का अवलोकन कर कम्प्यूटर सर्वर आदि की समस्या के बारे में उपस्थित तहसील कर्मी से जानकारी प्राप्त की। इस दौरान सीडीओ ने गभाना तहसील के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि 2007 में निर्मित तहसील में 159 राजस्व ग्राम , 04 विकास खण्ड एवं 05 परगना हैं। तहसील के निरीक्षण के दौरान धारा 34 के 05 साल से लम्बित चल रहे सबसे पुराने वाद में तारीख पर तारीख दिये जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए

कहा कि जो कार्य 45 दिन में हो जाना चाहिये, उस पर तारीख पर तारीख दिये जाना न्याय प्रक्रिया पर प्रश्न चिन्ह लगाने जैसा है। उन्होंने कहा कि जनपद में स्थापित सभी कार्यालयों में से तहसीलें पीड़ित व्यक्ति को सर्वाधिक परेशान करती हैं। थाना गभाना निरीक्षणः प्रमुख सचिव ने थाना गभाना पहुॅचकर सीसीटीएनएस पोर्टल को स्वयं संचालित कर केस डायरी, एफआईआर, जीडी आदि की गुणवत्ता और हकीकत को जाना। इस दौरान उन्होंने त्योहार रजिस्टर, विशेष अपराध रजिस्टर, ग्राम अपराध रजिस्टर आदि का बारीकी से निरीक्षण करते हुए

स्थानीय कानून व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। प्रभारी निरीक्षक राघवेन्द्र सिंह ने फ्लाईशीट बुकलेट के निरीक्षण के दौरान एनबीडब्लू, इनामी बदमाश, हिस्ट्रीशीटर और क्रिमिनल की स्थिति के बारे में जानकारी दी। प्रमुख सचिव ने अहलाह वेरिफिकेशन का कार्य समय से पूर्ण करने के निर्देश दिये। 2012 में वजूद में आये गभाना थाना में 10 उप निरीक्षक एवं 28 कांस्टेबिल की तैनाती बताई गयी, परिसर में साफ-सफाई व्यवस्था चाक-चैबन्द पाई गयी।

आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा आयोजित गोदभराई कार्यक्रम के उपरान्त पात्र लाभार्थियों को आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन हैल्थ कार्ड भी वितरित किये गये। प्राथमिक विद्यालय जिसमें अभी हाल ही में अंग्रेजी माध्यम से शिक्षण कार्य शुरू हुआ है की शैक्षणिक गुणवत्ता को विद्यार्थियों से पहाड़े, कविता और इंटरव्यू आदि के माध्यम से परखा गया। प्रमुख सचिव ने नियमित रूप से अभिभावक-अध्यापक मीटिंग करने के निर्देश दिये।

जनचैपाल में बालविकास एवं पुष्टाहार, चिकित्सा, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा विभाग, समाज कल्याण आदि विभागों द्वारा संचालित योजनाओं का मौके पर सत्यापन किया गया। प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग उ0प्र0 शासन नितिन रमेश गोकर्ण द्वारा सांयकाल मलखान सिंह जिला चिकित्सालय पहुॅचकर साफ-सफाई व्यवस्था, दवाइयों एवं चिकित्सकों की उपलब्धता के बारे में जानकारी प्राप्त की गयी। उन्होंने ब्लड बैंक, पैथोलॉजी लैब, चिकित्सीय एम्बुलेंस का निरीक्षण किया तथा वार्ड में पहुॅच बुखार से पीड़ित मरीजों का हालचाल भी जाना। निरीक्षण के दौरान सीएमओ डा0 एम0एल0 अग्रवाल,  सीएमएस जिला चिकित्सालय डा0 रामकिशन, शल्य चिकित्सक डा0 रामबिहारी, डा0 चरन सिंह सहित अन्य चिकित्सक एवं पैरामेडीकल स्टाफ उपस्थित रहे। 

 

नगर निगम अधिकारियों को मुख्यालय न छोड़ने की हिदायत 
अलीगढ़। आगामी दिनों श्री राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद के विवादित वाद के आने वाले परिणाम को देखते हुये नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने अधीनस्थों को नगर निगम की व्यवस्थाओं में चूक न होने की नसीहत दी है। नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने विवादित वाद के परिणाम को देखते हुये 15 नवम्बर तक नगर निगम के सभी अधिकारियों व कार्मिकों के अवकाश निरस्त करते हुये उन्हें मुख्यालय न छोड़ने की नसीहत दी है।

नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल से हुयी वार्ता में उन्होनें बताया कि जिला प्रशासन के दिशा निर्देशों के अनुसार नगर निगम पूरी मुस्तैदी के साथ जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के साथ खड़ा है किसी भी आपात स्थिति में पेयजल, सफाई व पथ प्रकाश व्यवस्था को बनाने के लिये सम्बन्धित विभागाध्यक्षों को दिशा निर्देश दे दिये गये है और नगर निगम कंट्रोल रूम को निरंतर कार्यशील रखा गया है जिसमें दूरभाष 7500441344 व कंट्रोल रूमध्जैडएसओ महेन्द्र सिंह के दूरभाष संख्या 9105053419 कार्यशील रखा गया है। नगर निगम के सभी अधिकारियों व कार्मिकों को अपने मोबाइल नम्बर स्विच आॅन रखने की सख्त हिदायत दी गयी है।

उन्होनें बताया कि अपर जिलाधिकारी नगर कार्यालय में स्थापित कंट्रोल रूम में भी नगर निगम स्तर से अधिकारियों व कर्मचारियों को तैनात करने का दायित्व निर्धारित कर दिया गया है।

 

 

Comments