स्मार्ट सुविधाओं से बदलेगी जल्द अलीगढ़ की पहचान अलीगढ़ की टॉप खबरे

स्मार्ट सुविधाओं से बदलेगी जल्द अलीगढ़ की पहचान अलीगढ़ की टॉप खबरे

स्मार्ट सुविधाओं से बदलेगी जल्द अलीगढ़ की पहचान


अलीगढ़।

स्मार्ट सिटी लिमिटेड की 11 वी बोर्ड बैठक मण्डलायुक्त/अध्यक्ष स्मार्ट सिटी लिमिटेड की अध्यक्षता में स्मार्ट सिटी के कार्यालय बरोला जफराबाद पर सम्पन्न हुयी।बोर्ड द्वारा बैठक में पूर्व बोर्ड बैठक 27.08.2019 की जारी कार्यवृत्त रखा गया  बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी, ए0एस0सी0एल0 द्वारा वर्तमान में कराये जा रहे

कार्यो की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी, बैठक में आई ट्रिपल सी(आई0सी0सी0सी0) के अन्तर्गत 650 कैमरे 20 चैराहों पर इन्टेलीजेंट ट्राफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत लगाये जाने, शहर में आप्टिकल फाइबर केबल बिछाये जाने, जी0आई0एस0 मैपिंग तथा ई-गर्वेनेन्स के प्रोजेक्ट पर हो रही प्रगति से भी अवगत कराया गया

और आई0सी0सी0सी0 का प्रथम चरण का कार्य दिनांक 20.12.2019 तक पूरा हो जायेगा, जिसे सेवा भवन परिसर में चालू किया जायेगा फिर आई0सी0सी0सी0 बिल्डिंग का निर्माण होने के बाद इसे वहाँ स्थानान्तरण कर दिया जायेगा।

ए0बी0डी0 एरिया में 61 किलो0मी0 लम्बी सीवर लाइन और 45 एम0एल0डी0 के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की प्रगति के संबंध में निर्माणाधीन एजेन्सी जल निगम, अलीगढ़ द्वारा अवगत कराया गया। साथ ही ए0बी0डी0 एरिया में पेयजल पाइप लाइन योजना के संबंध में भी अवगत कराया गया। लाल डिग्गी स्थित स्टोर पर आई0सी0सी0सी0 भवन एवं अचलताल के सौन्दर्यीकरण परियोजना प्रगति पर भी चर्चा की गयी।

नगर आयुक्त/सीईओ सत्य प्रकाश पटेल ने बताया कि बोर्ड बैठक में कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर निर्णय लिया गया जिनमें जलकल परिसर का पुनः निर्माण करते हुए एफोडएबल हाउसिंग एवं नगर निगम कर्मियों के लिये बहुमंजिला आवासों की व्यवस्था कराना।

मैरिस रोड से रेलवे रोड तक द्वितीय स्मार्ट रोड के रूप में चयनित किया गया और इसके अतिरिक्त ए0बी0डी0 एरिया की अन्य महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण के लिये निर्णय लिया गया। बरछी बहादुर पर नगर निगम और ए0एस0सी0एल0 द्वारा मिलकर मल्टीस्टोरी कामर्शियल काम्पलेक्स बनाने का निर्णय लिया गया।

स्मार्ट सिटी एरिया (ए0बी0डी0 एरिया) के अन्तर्गत आने वाले सभी प्राइमरी स्कूल का पुनः निर्माण/नवनिर्माण किये जाने एवं उसमें स्मार्ट क्लास/फर्नीचर किये जाने का निर्णय लिया गया। नगर निगम की 140 ट्यूबैल, ओवरहैड टैंक एवं सी.डब्लू.आर. में स्काडा सिस्टम लगाये जाने पर भी निर्णय लिया गया।

नगरीय क्षेत्र में जनता की आवश्यकताओं को देखते हुए मोबाइल हैल्थ एवं डैन्टल वैन, सैप्टेज क्लीनिंग की मशीनरी, मोबाइल सर्विसलाइन्स वैन आदि पर निर्णय लिया गया। जवाहर पार्क के पुर्नोद्धार लिये जाने का निर्णय लिया गया।

शहर के लिये सिटी ड्रेनेज प्लान एवं सिटी सैनिटेज प्लान एवं सिटी मोबाइल प्लान बनाने पर भी निर्णय लिया गया। उच्च शिक्षण संस्थान जैसे आई0आई0टी0, एन0आई0टी0, आई0आई0एम0 एवं ए0एम0यू0 जैसी संस्थाओं तथा राष्ट्रीय एवं अर्न्तराष्ट्रीय स्तर के विशेषज्ञों को स्मार्ट सिटी में कन्सलटेंट हेतु सेवाये लेने का निर्णय लिया गया। हैरीटेज भवनों के रूप में घण्टाघर, जामा मस्जिद, अचलताल का सौन्दर्यीकरण कराये जाने का निर्णय लिया गया।

शहर की जलभराव समस्या पर तकनीकि राय हेतु ए0एम0यू0 तथा नीरी, नागपुर से कन्सलेशन प्राप्त करने हेतु बोर्ड द्वारा निर्णय लिया गया। शहर में कृष्णांजलि की जगह पर नया मल्टीपरपस ऑडिटोरियम बनाये जाने का निर्णय नुमाइश/ए0एस0सी0एल0 के सहयोग से लिया गया।

बोर्ड बैठक में चन्द्रभूषण सिंह (निदेशक/जिलाधिकारी), चोब सिंह वर्मा (स्वतन्त्र निदेशक/सेवानिवष्त्त आई0ए0एस0), मुकुल सिंघल (मुख्य अभियन्ता, दक्षिणांचल विद्युत वितरण खण्ड लिमिटेड), श्री अशोक कुमार (टाउन प्लानर), सत्यप्रकाश पटेल (मुख्य कार्यकारी अधिकारी/नगर आयुक्त), श्रीमती रंजना, सह नोडल अजीत कुमार राय, ओएसडी मोहित मिश्रा उपस्थित रहे।

 

95 हजार करोड़ के घोटाले के  आरोपी कैसे मिल गई क्लीनचिट : बिजेंद्र


अलीगढ़।

कांग्रेस के पूर्व सांसद चौधरी बीरेंद्र सिंह ने भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि संस्कारों की दुहाई देने वाली सरकार के मुखिया बताएं कि महाराष्ट्र में अजीत पवार को 95 हजार करोड रुपए के घोटाले में कैसे क्लीन चिट मिल गई। रातों-रात राष्ट्रपति शासन हट गया,

सुबह 5 बजे राष्ट्रपति के हस्ताक्षर भी हो गए और सुबह में अचानक ही मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री की शपथ दिलाई गई। क्या यह लोकतंत्र की हत्या नहीं है? देश की 130 करोड़ जनता से यह धोखा नहीं तो और क्या है। विधायकों की खरीद-फरोख्त और तोड़-फिड से देश में भ्रष्टाचार पराकाष्ठा पर है।

 

संविधान की धज्जियां उड़ाते हुए महाराष्ट्र में बनाई सरकार : आगा यूनुस


अलीगढ़।

महाराष्ट्र में भाजपा द्वारा सरकार बनाने के लिए किए जा रहे खरीद-फरोख्त और तोड़-फोड़ पर कांग्रेस नेता आगा यूनुस ने कहा कि भाजपा का चरित्र सबके सामने उजागर हो गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा खाएंगे भी खिलाएंगे भी की तर्ज पर काम कर रही है और यह महाराष्ट्र मे जगजाहिर हो गया है।

हरियाणा की तर्ज पर  सत्ता के लिए महाराष्ट्र मे अजीत पवार को साथ मे रोकने के चलते सिंचाई घोटाले के 70 हजार करोड रुपए के घोटाले मे एंटी करप्शन ब्यूरो ने 9 मामलों मे अजीत पवार के खिलाफ अभी तक कोई सबूत नही होने की रिपोर्ट दी है। भाजपा ने चुनावी सभाओं मे ’चक्की पीसींग’ को नारा बनाकर खुद को दूध से धुला बताने की चतुर कोशिश कर सबसे ज्यादा सीटे जीती हैं। अब खुलेआम प्रजातंत्र का चीरहरण होता पूरा देश देख रहा है।

लोकतंत्र की हत्या और संविधान की धज्जियां उधेडते हुए सारी मर्यादा और मूल्यों को तार कर सरकार बना ली गई।  देश की जनता के सामने भाजपा का असली चेहरा बेनकाब हो गया है। सदन मे महाराष्ट्र अगाडी संगठन इस सरकार को गिराने का काम करेगा। 162 विधायकों की भारी बहुमत से जनता की सरकार बनेगी।

 

लापता युवक की तलाश करने गए पिता को जमकर पीटा


थाना क्वार्सी क्षेत्रार्न्तगत अपने लापता बेटे को तलाश करने गये पिता को दबंगो ने मारपीट करते हुये गम्भीर रूप से घायल कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल का जिला अस्पताल में  डॉक्टरी परीक्षण कराया है पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

शंकर विहार कॉलोनी निवासी प्रताप पुत्र कन्हैयालाल का बेटा सनी उर्फ ओमपाल 28 फरवरी से लापता चल रहा है प्रताप का आरोप है कि थाना गांधीपार्क क्षेत्र के मानसिंह नगला निवासी ओमवती के घर सनी का आना जाना था और 28 फरवरी को शनि को ओमवती ने बुलाया था

उसके बाद से उसका बेटा लापता चल रहा है थाने चौकी के चक्कर काटते हुए कई माह हो गए लेकिन अभी तक सनी का कहीं पता नहीं चला इसी के चलते आज प्रताप मानसिंह के नगला पहुंचा और ओमवती से अपने बेटे के बारे में पूछा तो ओमवती आग बबूला हो गई और अपने पति और बेटों के साथ मिलकर प्रताप की जमकर धुनाई कर दी जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया चीख-पुकार की आवाज सुनकर आसपास के लोगों ने बमुश्किल प्रताप को बचाया घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची।

 

परिवार नियोजन का एक स्थाई तरीका पुरुष नसबंदी :सीएमओ


अलीगढ़।

पुरुष नसबंदी पखवाड़ा की अंर्तविभागीय समन्वय की बैठक कलेक्ट्रेट स्थित नवीन सभागार में एडीएम वित्त विधान जायसवाल की अध्यक्षता में संपन्न हुई।इस बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एम एल अग्रवाल ने बताया कि पुरुष नसबंदी पखवाड़ा दो चरणों में चलाया जाएगा।

प्रथम चरण 21 से 27, द्वितीय चरण 28 नवंबर से 4 दिसंबर तक चलाया जाएगा। और उन्होंने यह भी बताया कि प्रत्येक माह की 21 तारीख को जिला मलखान सिंह चिकित्सालय में पुरुष नसबंदी होती है अगर कोई भी पुरुष अपनी नसबंदी कराना चाहता है तो जिला मलखान सिंह चिकित्सालय में प्रत्येक माह की 21 तारीख को जाकर करा सकता है।

प्रत्येक आशा को एक महिला नसबंदी कराने का लक्ष्य दिया गया है तथा अगर ब्लॉक स्तर पर पुरुष नसबंदी के पांच केस होते हैं तो स्वास्थ्य विभाग द्वारा ब्लॉक पर कैंप लगा दिया जाएगा। जिसमें कि पुरुष नसबंदी करा सकता है पुरुष नसबंदी परिवार नियोजन का एक स्थाई तरीका है।

इस बैठक में डॉ दुर्गेश कुमार,डॉ पीके शर्मा, डॉ अनुपम भास्कर, समस्त ब्लॉकों के एमओआईसी, डीपीओ, बीएसए, सीडीपीओ, यूनिसेफ के पदाधिकारी एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

 

एमएलसी के लिए वोट बनवाने के बाद होगा सियासी शह-मात का खेल शुरू


अलीगढ़।

अगले साल मार्च के अंतिम सप्ताह में होने वाले चुनाव में स्नातक के लिए सपा से एमएलसी असीम यादव (फीरोजाबाद) और भाजपा से डॉ. मानवेंद्र प्रताप सिंह मैदान में हैं। उत्तर प्रदेश संयुक्त राज्य कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष इंजीनियर हरि किशोर तिवारी (इटावा) ने निर्दलीय मैदान में उतरने का एलान किया है।

उन्होंने पीडब्ल्यूडी से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली है।आगरा खंड स्नातक व शिक्षक एमएलसी के लिए वोट बनवाने के बाद सियासी शह-मात का खेल शुरू होगा। निर्दलीय दावेदार भाजपा व सपा की मुश्किलें बढ़ा सकते हैं।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा व शिक्षक एमएलसी जगवीर किशोर जैन की कूटनीति भी चलेगी। पहली बार शिक्षक एमएलसी के लिए मैदान में उतरी भाजपा को घेरने के लिए शर्मा गुट ने संघर्ष ही मुख्य रखा है।

भाजपा नेता व खैर के चौधना स्थित विद्या सदन इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. अनूप शर्मा भी मजबूती के साथ स्नातक एमएलसी का चुनाव लडऩे के लिए बागी तेवर अपनाए हैं। उन्हें शिक्षकों के एक जनप्रतिनिधि का संरक्षण है।

चार बार लगातार चुनाव जीतने वाले शिक्षक  विधायक जगवीर किशोर जैन को चुनौती देने के लिएएटा भाजपा जिलाध्यक्ष दिनेश वशिष्ठ को मैदान में उतारा है। यहां भी कूटनीति का दांव चला गया है।

अतरौली में स्वयं वित्त पोषित कॉलेज संचालकों के नेता हेवेंद्र सिंह उर्फ हऊआ चौधरी माध्यमिक वित्तविहीन शिक्षक महासभा से शिक्षक एमएलसी के लिए चुनावी समर हैं। सूत्रों की मानें तो शिक्षकों के एक संगठन ने भाजपा को घेरने के लिए हर जिले में एक-एक बागी प्रत्याशी बनाने की रणनीति को अंजाम दिया है।

शिक्षक विधायक प्रत्याशी जगवीर किशोर जैन का कहना है कि लखनऊ प्रदर्शन में भाग लेकर लौटा हूं। शिक्षकों के हित में संघर्ष किया है। मांगें नहीं मानी गईं तो 30 जनवरी को सूबे में बेमियादी हड़ताल होगी।

भाजपा स्नातक एमएलसी प्रत्याशी डॉ.मानवेंद्र सिंह का कहना है कि वोट बनने के बाद एक चरण पूरा हो गया है। जनसपंर्क तेज होगा। जिला सम्मेलन आयोजित होंगे। तैयारियों में मंडल स्तर के कार्यकर्ता भी जुटे हैं।

सपा के स्नातक एमएलसी प्रत्याशी असीम यादव का कहना है कि वोट बनाने का काम पूरा हो चुका है। मतदाता सूची फाइनल होने के बाद अधिकांश मतदाताओं से संपर्क करने का प्रयास होगा। क्षेत्र में विकास कार्य किए हैं।

स्नातक एमएलसी प्रत्याशी हरि किशोर तिवारी का कहना है कि युवाओं के हित में संघर्ष को मैदान में हूं। इटावा, औरैया में पिछली बार 10-11 हजार वोट थे। अब 37 हजार आवेदन हैं हैं। यह मेरे प्रति उत्साह है।

एमएलसी स्नातक निर्दलीय प्रत्याशी डॉ.अनूप शर्मा का कहना है कि भाजपा की सेवा की है। ताउम्र सच्चा सिपाही रहूंगा। युवाओं की मांग पर मैदान में हूं। अब सिर्फ चुनाव जीतना ही उदेश्य है। जनसमर्थन मिल रहा है।

 

शादी वाले घर में छाया मातम,युवती की चाकू से गोदकर हत्या


अलीगढ़।

थाना इगलास कोतवाली में एक सिरफिरे प्रेमी ने एकतरफा प्रेम में घर में घुसकर 19 वर्षीय युवती की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी युवती को खून से लथपथ जमीन छोड़ कर फरार हो गया।

15 दिसंबर को युवती की शादी होनी थी। वारदात के बाद से परिवार समेत आरोपी गांव से फरार है। सूचना सीओ व एसपी देहात के साथ ही एसएसपी आकाश कुल्हरि भी मौके पर पहुंच गए।
जारौठ निवासी ओमप्रकाश सिंह सोमवार को गांव के समीप ही एलईडी फैक्ट्री में मजदूरी करने गए थे। उनके दोनों बेटे मजदूरी करने अलीगढ़ गए थे।

सोमवार को अपराह्न करीब 3 बजे पत्नी ऊषा गांव घंटरबाग की पैंठ में सब्जी लेने गई थी। घर पर बेटी बुलबुल (19) व पुत्रवधू रचना थी। शाम करीब चार बजे ऊषा घर लौटीं तो बेटी को घर पर न पाकर बहू से जानकारी मांगी। बहू ने बताया कि बुलबुल छत पर कपड़े उतारने गई थी उसके बाद नीचे नहीं आई।

मां छत पर पहुंची तो बेटी नजर नहीं आई। इसके बाद छत पर स्थित कमरे को खोलकर देखा तो बुलबुल का खून से लथपथ शव पड़ा था। गर्दन, छाती और पेट पर चाकू के निशान थे।यह देख वह चीखीं तो हत्या का शोर गांव में मच गया। मृतका के पिता, भाई व पुलिस भी पहुंच गई। परिवार वालों ने घर के सामने रहने वाले युवक हत्या करने का आरोप लगाया है।

आरोपी अपने परिवार समेत फरार है। सीओ बरला, एसपी देहात, एसएसपी के साथ ही फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर साक्ष्य खोजे। कोतवाल रामसिया मौर्य ने बताया कि तहरीर के आधार पर कार्रवाई होगी।

इनका कहना है..
एसएसपी आकाश कुल्हरि का कहना है कि प्रथमदृष्टया इकतरफा प्यार का मामला सामने आ रहा है। आरोपी पर एक साल पहले भी छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज हुई थी जिसमें वह जेल गया था। हत्या से पूर्व दोनों में गुत्थमगुत्था हुई है। मृतका के घर की छत पर आरोपी अपने चाचा मुकेश कुमार के मकान की छत होकर पहुंचा था।

प्याज की कीमत नीचे तो लहसुन के दाम आसमान पर


अलीगढ़। प्याज के दामों में पिछले कई दिनों से बनी हुई तेजी अब थम गई है। हालांकि, लहसुन के दामों में उछाल आया है। नई आवक नहीं आने के कारण ऐसा हुआ है। पानी बरसने की वजह से फसल में एक महीने देर हो गई है। दिसंबर में ही राहत मिलने की उम्मीद है।

दो सप्ताह पहले महाराष्ट्र में लगातार पानी बरसने की वजह से प्याज गीली हो जाने के कारण ट्रकों में इनकी लदाई नहीं हो पाई। प्याज की आवक कम हो जाने की वजह से इसके दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो गई। 40 रुपये में बिकने वाली प्याज 80 रुपये पहुंच गई थी।

बारिश थमने के बाद नासिक से आवक शुरू हुई तो भी कुछ दिनों तक दाम जस के तस बने रहे। अब नई प्याज आने से दामों में कमी आ गई है। सब्जी विक्रेता राजू ने बताया कि मंडी में प्याज थोक में 35 रुपये और फुटकर में 40 रुपये किलो बिक रही है।

हालांकि, लहसुन के दामों के इजाफा हुआ है। पानी बरसने से लहसुन की फसल एक महीने देर हो गई। नया नवंबर में आ जाता है लेकिन अब दिसंबर में आने की उम्मीद है। लहसुन की कई किस्में उपलब्ध हैं। पहले 120 से 130 रुपये किलो बिकने वाला लहसुन मंडी में अब थोक में 130-140 और फुटकर 150-160 रुपये किलो बिक रहा है।

मंडी में नए आलू की आवक भी शुरू हो गई है। मंडी में नया आलू थोक में 20 व पुराना 10 और फुटकर में नया आलू 25 और पुराना 12 रुपये किलो बिक रहा है।

मनमाफिक दरों पर भी हो रही बिक्री


मंडी में फुटकर में बिकने वाली सब्जियों और ठेले पर फुटकर में बिकने वाली सब्जियों के दामों में भी काफी अंतर है। स्थिति ये है कि मंडी में 40 रुपये किलो बिकने वाली प्याज ठेले पर 60-70 रुपये किलो में बिक रही है। इसके अलावा मंडी में 25 रुपये नया और 12 रुपये पुराना प्रति किलो बिकने वाला आलू ठेले पर 30 रुपये में नया और 20 रुपये में पुराना बेचा जा रहा है। मंडी में 150-160 रुपये किलो बिकने वाला लहसुन ठेले पर 220 से 240 रुपये किलो तक बेचा जा रहा है।
सब्जी दरें 15 दिन पहले
आलू 30 (नया), 20 (पुराना) 40 (नया), 25 (पुराना)
गोभी 40 30
शिमला मिर्च 60 80
बैंगन 30 60
पत्तागोभी 60 40
टमाटर 40 80
कद्दू 40 40
फली 60 80
भिंडी 40 40
गाजर 60 80
सोयामैथी 60 80
मटर 160 200
(नोटः दाम ठेले पर फुटकर में प्रति किलो बिक्री के)

 

महानगर की मलिन बस्तियों के अलावा ग्रामीण अंचलों में बंदरों का आतंक, हर वक्त खौफ के साये में रहते लोग


अलीगढ़।

महानगर के विभिन्न मौहल्लों में ही नहीं ग्रामीण अंचालों में बंदरों का भारी आतंक छाया हुआ है। आवारा बंदरों को पकड़ने के लिये महानगर में नगर निगम तथा ग्रामीण अंचलों में नगर पालिकाओं में टीमें बनाई गईं,लेकिन टीमें कागजों तक बनकर ही सीमित रह गई हैं,

और बंदरों को पकड़ने वाला पिंजरे नगर निगम व नगर पालिकाओं में धूल फांक रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों में अफवाह फैली हुई है कि शहर के अंदर से बंदरों को पकड़कर मलिन बस्तियों और ग्रामीण अंचलों में छोड़ दिया जाता है।

तहसील कोल के वार्ड नम्बर 06 डोरी नगर में बंदरों के उत्पात से बच्चों के साथ-साथ आम आदमी परेशान है। घरों में खेल रहे मासूम बच्चे बंदरों के निशाने पर रहते हैं। सुबह से ही घरों में सर्दी के मौसम में लोग छोटे-छोटे बच्चों को धूप में बैठाकर खान-पान की चीजें दे देते हैं।

अगर जरा सी निगाह बच्चे पर से लोगों की हटी तो बंदर घर के अंदर छत से कूदकर बच्चां को गम्भीर रूप से जख्मी कर देते हैं। पिछले चार से पांच दिनों के अंदर एक दर्जन से अधिक छोटे-छोटे मासूम बच्चों को बंदरों को काट कर गम्भीर रूप से घायल कर दिया है।

डोरी नगर के वाशिन्दों ने जिला प्रशासन से मांग की है कि जनता को बंदरों की समस्या से मुक्ति दिलाई जाए। वृंदावन में बंदरों की समस्या गंभीर है। इससे न सिर्फ स्थानीय लोग ही नहीं राहगीरों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

डोरी नगर निवासी ओमवती देवी  ने बताया कि उनके नाती रिषभ घर बैठा चिप्स खा रहा था वह अपने घरेलू कार्य में व्यस्त थी। इतनी देर में एक बंदर आया और रिषभ के मुंह पर हमला करते हुये घायल कर दिया जिसका दर्द मुझे आज भी है।

बंदरों पकड़ने की बातें पिछले कई वर्ष से हो रही हैं, लेकिन प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। चुनाव में जन प्रतिनिधि इस समस्या के से निजात दिलाने का वादा लंबे समय से कर रहे हैं, लेकिन निदान नहीं हो रहा है।

वहीं के रहने वाले हरवीर सिहं ने बताया कि बंदरों ने कई बच्चों को काट लिया है जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बंदरों के कारण राहगीरों को दुकानों से घरेलू सामान ले जाना भी मुश्किल हो रहा है।

जिला मलखान सिंह अस्पताल में बंदरों के काटने से घायल के उपचार के लिए पहुंचने वालों की संख्या करीब 50-55 तक पहुंच जाती है। इन्हें एंटी रेबीज इंजेक्शन लगाए जाते हैं। जिला अस्पताल के फार्मासिस्ट भानू प्रताप ने बताया कि प्रतिदिन पांच ऐसे लोग आते हैं, जिन्हें बंदरों ने घायल किया होता है।

वन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बंदरों को पकड़कर सुरक्षित बाह आगरा में सुरक्षित स्थान पर छोड़ने की स्वीकृति नगर निगम को दी गई है।क्या कहतें है नगर स्वास्थ्य अधिकारी नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शिवकुमार ने कहा कि आने वाले समय में बंदरों की समस्या से निजात दिलाने के मामले में अलीगढ़ स्मार्ट सिटी बनने जा रहा है।

उन्होंने बताया कि प्रास्तावित प्रोजेक्ट में बंदरों को मोहल्ला स्तर पर समूहों में पकड़कर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। रेस्क्यू सेंटर में रखकर नसबंदी की जाएगी। इसके पश्चात प्राकृतिक सुरक्षित जगह पर उन्हें छोड़ा जाएगा। यह प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा।

 

ताले के नाम से प्रसिद्ध अलीगढ़ बना नक्कालों और मिलावटखोरों का गढ़


नकली डाबर आंवला हेयर तेल की फैक्ट्री पर छापा

अलीगढ़।

जिला प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्यवाही और मिलावट खोरों पर छापे मारी के दौरान नकली व मिलावटी सामान बरामद किया जाता है। जिससे प्रतीत होता है कि अलीगढ़ जो कि तालानगरी और अमुवि के चलते विश्वविख्यात हो चुका है,नक्कालों और मिलावटखोंरो का गढ़ बन कर रह गया है।

महानगर में विभिन्न स्थानों पर कहीं नकली तेल,तो कहीं नकली घी, तो कहीं नकली सर्फ एक्सल तथा हार्पिक तैयार कर भोली-भाली जनता को खुलेआम लूटा जा रहा है।  थाना सिविल लाइंस के सुदामापुरी नगला ताड़ के एक घर में चल रही नकली तेल बनाने की कंपनी में सर्वेयर की सूचना पर पुलिस ने फैक्ट्री पर छापेमारी की तो संचालक यहां से भागने में सफल रहा।

इस दौरान पुलिस ने भारी मात्रा में तैयार व अधबना माल जब्त किया है। फैक्टरी को सील माल जब्त कर लिया गया है और फैक्टरी संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।दिल्ली के दरियागंज असरफ अली रोड से संचालित देश की नामचीन डाबर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के हेयर ऑयल डाबर आंवला तेल के नाम पर नकली माल बनाने की फैक्टरी यहां डाबर

इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के क्वालिटी सर्वेयर जीतू शर्मा निवासी नगला खैमा मांट मथुरा को सूचना मिल रही थी कि अलीगढ़ में कंपनी का नकली डाबर आंवला तेल तैयार हो रहा है। इस सूचना पर उन्होंने मुखबिरों के जरिये पहुंचने का प्रयास किया तो उन्होंने नगला ताड़ में स्थान चिह्नित कर लिया।

साथ ही पुलिस अधिकारियों से मदद मांगी।अधिकारियों के निर्देश पर सिविल लाइंस थाने के अतरौली गेट चौकी इंचार्ज उमेश चौधरी ने पुलिस बल के साथ सोमवार शाम नगला ताड़ में नरोत्तम पुत्र नौबत राम के घर में दबिश दी।

वहां उस समय नरोत्तम मौजूद था। मगर पुलिस को देखते ही वह आंखों में धूल झोंककर चंपत हो गया। बाद में पुलिस टीम ने वहां देखा तो आंखें फटी की फटी रह गईं। यहां पुलिस ने डाबर आंवला तेल की 450 भरी शीशी, 380 खाली शीशी, 6000 रैपर के अलावा एक सील व पैकिंग मशीन बरामद की।

यह तैयार तेल कहीं से लाकर शीशियों में पैकिंग के बाद उस पर सील व मोहर लगाकर मार्केट में बेचा जा रहा था। इसमें नरोत्तम द्वारा छोटे मोटे दुकानदारों व सेल्समैनों की मदद ली जा रही थी। पुलिस टीम ने फैक्टरी सील करते हुए वहां से माल जब्त कर थाने भिजवा दिया है।

साथ ही नकली माल की सैंपलिंग कर उसे जांच के लिए भिजवाया जा रहा है। एसएसआई योगेश गौतम के अनुसार प्रकरण में नरोत्तम के खिलाफ कापी राइट एक्ट व धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। यह माल नरोत्तम के पिता के नाम से है। उसके परिवार के सदस्य कहां हैं और कौन कौन शामिल है। यह जांच में देखा जाएगा।

 

अमुवि छात्रों के जाम को खुलवाने में प्रॉक्टोरियल टीम के छूटे पसीने
अलीगढ़। अमुवि छात्रों ने चुंगी गेट को बाइक लगाकर जाम लगा दिया, जिसकी वजह से यातायात व्यवस्था प्रभावित हुई। सड़क पर वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारें लग गई। प्रदर्शन की सूचना पर  छात्रों को समझाने में प्रॉक्टोरियल टीम के पसीने छूट गए।

जेएन मेडिकल कॉलेज के रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) को भंग करने तथा एक जूनियर डॉक्टर को निलंबित करने की मांग को लेकर एएमयू छात्रों ने पूर्व कैबिनेट सदस्य जैद शेरवानी के नेतृत्व में कैंपस में प्रदर्शन किया।

जेएन मेडिकल कॉलेज में सितंबर 2019 में जूनियर डॉक्टर एवं छात्र नेता जैद शेरवानी के बीच विवाद हुआ था। डॉक्टरों ने जैद शेरवानी पर बदतमीजी का आरोप लगाया था। जबकि जैद शेरवानी ने एक जूनियर डॉक्टर पर एक महिला मरीज के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। मामला थाने तक पहुंची थी। इस मामले में जांच कमेटी भी गठित हुई थी,

जिसकी रिपोर्ट आज तक सार्वजनिक नहीं की गई। जैद शेरवानी ने एक बार फिर इस मामले को उठाया है। वह आरोपी जूनियर डॉक्टर को निलंबित करने तथा आरडीए को भंग करने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि 24 घंटे में उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो भूख हड़ताल करेंगे। प्रदर्शन के दौरान छात्रों ने हाजिरी का मुद्दा भी उठाया और विश्वविद्यालय प्रशासन से राहत देने की मांग की।

मॉब लिंचिंग कहने पर भड़के थे छात्र नेता


जेएन मेडिकल कॉलेज में गत दिनों एक सुरक्षाकर्मी की कुछ लोगों ने बेरहमी से पिटाई की थी। प्रेमवीर नामक सुरक्षाकर्मी के पक्ष में आरडीए के नेता आए थे। वह दो दिनों तक बेहोश रहा था। जेएन मेडिकल कॉलेज में उसका उपचार चल रहा है। उन्होंने सुरक्षाकर्मी पर हुए हमले को मॉब लिंचिंग की संज्ञा दी थी।

उस समय भी जैद शेरवानी एवं कुछ अन्य छात्रों ने आरडीए के खिलाफ नाराजगी जताई थी। उनका कहना था कि मॉब लिंचिंग का नाम लेकर आरडीए नेता एएमयू को बदनाम कर रहे हैं। इस मसले को लेकर कुछ छात्र नेता विश्वविद्यालय के अधिकारी से भी मिले थे।

 

बड़ा हादसा होने से टला,माल गोदाम में पलटने से से बची मालगाड़ी


अलीगढ़।

जिला कारागार के पीछे सोमवार को मालगोदाम में एक बार फिर मालगाड़ी डीरेल होने से बच गई। ट्रेन को प्लेस करते समय एक वैगन टैक पर स्टॉपर से पहले रखे सीमेंट के स्लीपर तोड़ते हुए पीछे खिसकने लगा। तभी शंटमैन ने प्रेशर बटन दबा दिया।

इस बीच स्लीपर व पहिए के बीच शंटमैन का पैर आने से कुचल गया। घायल शंटमैन को रामघाट रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मध्य प्रदेश से सोमवार को 58 रैक की मालगाड़ी दोपहर करीब दो बजे जिला कारागार के पीछे मालगोदाम पहुंची।

बाद मालगाड़ी को अनलोडिंग कराने से पूर्व रेलवे ओल्ड साइडिंग ट्रैक पर प्लेस किया जा रहा था। इस दौरान पिछले वैगन की तरफ शंटमैन सुखपाल सिंह पुत्र सौदान सिंह निवासी गांव समसपुर बुलंदशहर वॉक-टॉकी पर दूसरे शंटमैन से संपर्क कर चालक-परिचालकों को संदेश दे रहा था।

ट्रेन की स्पीड तेज होने के कारण स्टॉपर की तरफ रखे सीमेंट के दो स्लीपर तक पहुंचने के दौरान ब्रेक नहीं लगे और पिछले वैगन के दोनों पहिये स्लीपर को तोड़ते हुए पीछे खिसकने लगे। यह देख शंटमैन सुखपाल सिंह ने शोर मचाया, लेकिन किसी ने नहीं सुना। इसके बाद तत्परता दिखाते हुए सुखपाल ने बोगी में लगे प्रेशर बटन को दबाने के हाथ बढ़ाया।

इसी बीच उसका एक पांव स्लीपर व वैगन के पहिये के बीच आकर कुचल गया।आसपास मौजूद मजदूर मौके पर पहुंचे और सुखपाल को वहां से हटाया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे डिप्टी एसएस राजा बाबू ने घायल शंटमैन को रामघाट रोड स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में भिजवाया।

अस्पताल के आईसीयू में शंटमैन को भर्ती किया गया है। जेडयूआरसीसी के सदस्य संजय पंडित ने इलाहाबाद मंडल के डीआरएम को मामले से अवगत कराया। जिसके बाद डीआरएम ने मामले की जांच कर रिपोर्ट तलब की है। खाद्य की दुकानों पर सप्लाई होना है यूरिया :मालगोदाम में सोमवार को मध्य प्रदेश से 58 रैक में 35सौ मीट्रिक टन यूरिया लोड होकर आया था। यह यूरिया मंडल में खाद्य की दुकानों पर वितरण के लिए जाना है। हादसे के बाद मालगाड़ी को अनलोड कराया गया।

इनका कहना है...
डीआरएम, इलाहाबाद मंडल -अमिताभ का कहना है कि मालगाड़ी को प्लेस करते समय स्लीपर टूटने की जानकारी मिली है। शंटमैन घायल हुआ है, जिसका उपचार कराया जा रहा है। संबंधित अधिकारियों को मामले की जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। जांच के बाद जिसकी लापरवाही होगी उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

Comments