अलीगढ़,उ.प्र की टॉप खबरे

अलीगढ़,उ.प्र  की टॉप खबरे

दरवाजे पर खड़ी बारात, दुल्हन प्रेमी संग फुर्र


अलीगढ़,उ.प्र.। लोधा थाना क्षेत्र के एक गांव में शादी से ऐन वक्त पहले दुल्हन अपने प्रेमी के साथ रफूचक्कर हो गई। दूल्हा और उसके घराती दरवाजे पर ही खड़े रह गए। महिला तलाकशुदा थी। उसके पिता ने उसका पुनर्विवाह तय किया था। दुल्हन के पिता ने गांव के ही एक युवक के खिलाफ बेटी को बहला फुसलाकर ले जाने की थाना पुलिस को तहरीर दी है। इधर, दूल्हा और उसके परिवार वाले भी लौट गए।थाना क्षेत्र के एक गांव में तलाकशुदा 25 वर्षीय महिला की खुर्जा से रविवार को बारात आई थी। दुल्हन पक्ष के लोग बारातियों के स्वागत सत्कार में लग गए। इसी बीच महिला छत के रास्ते होते हुए अपने प्रेमी संग चली गई। दुल्हन के परिवार की महिलाएं उसको बुलाने कमरे में पहुंची तो उसके रफूचक्कर होने का पता लगा। पहले तो खुद ही परिवार के लोगों ने खुद ही उसकी गांव में तलाश की। मगर, उसका सुराग नहीं मिला।

इस पर दुल्हन के पिता ने थाना पुलिस को सूचना दी। उन्होंने गांव के ही एक युवक पर बेटी को बहला फुसलाकर ले जाने का आरोप लगाया है। इंस्पेक्टर लोधा प्रेमपाल सिंह के अनुसार दुल्हन के परिवार वाले गांव के जिस युवक पर आरोप लगा रहे हैं। वह अपने घर पर ही मौजूद है। पूछताछ में उसने दुल्हन के संबंध में जानकारी होने से भी इनकार कर दिया। फिलहाल उसकी तलाश जारी है।
तलाकशुदा महिला के परिवार वालों ने बताया कि बेटी की दो साल पूर्व पहली शादी हुई थी। शादी के बाद उसकी पति से अनबन होने लगी तो वह मायके लौट आई। पति-पत्नी में समझौता न होने पर दोनों परिवारों ने आपसी सहमति से शादी को खत्म कर तलाक करवा दिया था। इसके बाद उसके पिता ने खुर्जा के एक युवक से उसकी दूसरी शादी तय कर दी।

 

पुलिस हिरासत में युवक की हुई तबीयत बिगड़ी
अलीगढ़,उ.प्र.। तीन दिन पूर्व थाना गांधीपार्क क्षेत्र के रहने वाले एक युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया जिसकी हवालात में अचानक तबियत बिगड़ गई तो आनन-फानन में पुलिस ने उसे उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। 
गौरव मिश्रा पुत्र स्वामी शरण मिश्रा को पुलिस किसी मामले में हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है आज अचानक गौरव की तबीयत खराब हो गई जिससे पुलिस तुरंत उसे जिला अस्पताल लेकर आए जहां उसका इलाज जारी है। गौरव की मां का आरोप है कि पुलिस ने तीन दिन से बेटे को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है लेकिन अभी तक उसे जेल नहीं भेजा और ना ही छोड़ा है। आज उसकी अचानक तबीयत खराब हो गई पुलिस उसे अस्पताल लेकर आई है। जानकारी के अनुसार हाथरस अड्डे की  युवती ने रिपोर्ट दर्ज कराई है उसी मामले में पुलिस गौरव को उठा कर लाई है।

 

हिन्दू अपनी आय का 25 प्रतिशत  हथियार पर खर्च करेंःअशोक पाण्डेय 
अलीगढ़,उ.प्र.। विजयदशमी  के पर्व के अवसर पर अखिल भारतीय हिंदू महासभा  के सदस्यों ने शस्त्र पूजन किया। इस दौरान राष्ट्रिय प्रवक्ता अशोक कुमार पाण्डेय ने  कहा की हिन्दू अपनी आय का एक चैथाई हिस्से का हथियार ले। यही नहीं महासभा के सदस्यों की मांग है कि देश के सभी हिंदुओं को ज्यादा से ज्यादा हथियार दिलाए जाएं। इस मांग के पीछे इनका तर्क है कि बिना शस्त्र के शांति संभव नहीं है। अखिल भारत हिंदू महासभा के पदाधिकारियों का कहना है कि विजय दशमी के पर्व पर हिंदू जनमानस को वे अहसास दिलाना चाहते हैं कि बिना शस्त्र के शांति संभव नहीं है। प्रदेश उपाध्यक्ष गजेन्द्र पाल सिंह आर्य ने कहा हिन्दू जिन देवी देवताओं की पूजा पूजा करते है,

वे सभी शस्त्र लिये हुए है तो युवाओं को अहिंसा के नाम पर कायरता का पाठ क्यो पढ़ाया जा रहा है। । उन्होंने कहा कि आचार्य चाणक्य ने भी कहा था कि शस्त्र के बिना शांति संभव नहीं है। आज भी आप चाहे कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाना हो या आतंकवाद को खत्म कर रहे हैं तो आपको शस्त्र की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हर पावन दिन और त्योहार पर हिंदू जनमानस को ये अहसास दिलाना चाहते हैं,कि इस देश में शस्त्र के बिना कुछ नहीं होगा. इस दौरान महासभा के सदस्यों ने तलवार, लेकर शस्त्र पूजन किया। अखिल भारत हिंदू महासभा के पदाधिकरियों ने कई घंटे के शस्त्र पूजन के दौरान हिंदू राष्ट्र की भी वकालत की।इस अवसर पर कुंज मिश्र,सँजय दीक्षित,बॉबी ठाकुर,राजीव ,जयवीर शर्मा,हरि शंकर शर्मा,महेश बरोला,दिनेश शर्मा आदि मौजूद थे।

 

आबादी क्षेत्र से बाहर होंगे पटाखा गोदाम
अलीगढ़,उ.प्र.। थाना बन्ना देवी क्षेत्र के सारसौल क्षेत्र के पटाखा गोदाम आबादी क्षेत्र से बाहर होंगे। सिटी मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता वाली कमेटी ने इस निर्णय पर मुहर लगा दी है।दोनों गोदामों को तत्काल खाली करने के निर्देश दिए गए हैं। इन गोदामों की वजह से सैकड़ों परिवारों को हादसे का डर लगा रहता था।स्थानीय लोग कई साल से विरोध कर रहे थे।कई बार धरना प्रदर्शन भी किए गए।पिछले दिनों भी डीएम चंद्र भूषण सिंह को ज्ञापन दिया गया था।उसके बाद ही जांच कमेटी गठित की।

आतिशबाजी को लेकर अलीगढ़ चर्चित है।यहां हर साल करीब 10 करोड़ से ज्यादा की आतिशबाजी बिकती है।दो थोक के बड़े पटाखा कारोबारी हैं। 2005 में उन्होंने आबादी क्षेत्र से बाहर सारसौल में गोदाम खोले थे।अब वहां सैकड़ों घर बन गए हैं और आबादी बस गई है।इन परिवारों को हादसे का डर बना रहता है।इसी कारण लोग विरोध कर रहे थे।

 

 फर्जी मुकद्दमा के विरोध में कोरी समाज ने किया थाने का घेराव
अलीगढ़,उ.प्र.। थाना सासनी गेट में फर्जी मुकद्दमा दर्ज किये जाने पर कोरी समाज के लोग पुलिसिया कार्यवाही का विरोध करते हुये भारी संख्या में थाने पर पहुंच गये और घिराव करते हुये पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुये मुकद्दमा वापस किये जाने की मांग की। तीन लोगों के खिलाफ 307 की धारा में दर्ज हुए फर्जी मुकदमे के विरोध में कोरी समाज के लोगों ने सासनी गेट थाने का घेराव किया।  संजू बजाज ने बताया कि 2 दिन पूर्व आकाश यादव नामक व्यक्ति के हाथ में गोली लगी थी।

जिसमें उसने 3 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था जो पूरी तरह से फर्जी है। संजू बजाज ने कहा कि आकाश यादव कोरी समाज की एक युवती को 2 वर्ष पहले ले गया था जो 6 माह बाद घर वापस लौटी थी। युवती ने आकाश यादव के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज कराया था जो कोर्ट में अंतिम सुनवाई पर है। आकाश यादव मुकदमे में फैसले के लिए दबाव बनाने के लिए यह फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है। संजू बजाज ने कहा कि हमें पुलिस प्रशासन पर पूर्ण विश्वास है वह मामले की निष्पक्षता से जांच करेगा। इस मौके पर राजकुमार माहौर, सनी माहौर, गजेंद्र माहौर, सूरज माहौर, मुकेश माहौर, गौरव सेठी आदि मौजूद रहे।

 

बुराई के प्रतीक रावण का अंत पर समाज रूपी बराईयों को उखाड़ने का लें सकंल्पःकमिश्नर

अलीगढ़,उ.प्र.। दशहरा पर्व पर बुराई के प्रतीक रावण का अंत तो हो जाएगा, मगर वर्तमान में रावण रूपी कई भयंकर बीमारियां शरीर में घुस गई हैं या धीरे-धीरे जगह बना रही हैं। इन बीमारियों के खिलाफ भी पूरी इच्छा शक्ति के युद्ध लडना होगा। ये ऐसी बीमारी हैं जिनके चलते इंसान असमय काल के गाल में समा जाता है। खुद ही राम बनकर इन्हें हराना होगा। तो आइए, इन बीमारियों के खात्मे का संकल्प लें।डोली भूमि गिरत दसकंधर। छुमित सिंधु सरि दिग्गज भूधर।।भगवान राम के बाण से दशानन रावण का शरीर दो टुकड़ों में बंट गया। फिर भी वह श्रीराम की ओर प्रचंड वेग दौड़ा और धरती पर गिर गया। लंकापति रावण के जमीन पर गिरते ही धरती कांप उठी। दिशाएं, पर्वत, पशु पक्षी सब क्षुब्ध हो उठे। ऐसा ही एहसास मंगलवार को नुमाइश मैदान में मौजूद लोगों को हुआ। धर्म और अधर्म की सेना के बीच प्रलयकारी युद्ध हुआ और फिर श्रीराम ने रावण का अंत किया। इसके बाद बुराई का प्रतीक माने जाने वाले रावण के पुतले को अग्नि दी गई। जैसे ही पुतले में आग लगी आतिशबाजी और पटाखों की आवाज से सारा नुमाइश मैदान गूंज उठा। रावण के पुतले को आग लगाते ही चारों तरफ श्रीराम की जय-जयकार गूंज उठी और सभी को संदेश दिया गया

कि बुराई का अंत हमेशा ऐसा ही होता है। वह कितनी ही शक्तिशाली क्यों न हो, एक न एक दिन उसे अच्छाई से हारना पड़ता है। राम रावण की सेना के बीच हुआ भीषण युद्ध रूअचलताल स्थित रामलीला मैदान से दोपहर दो बजे विजयदशमी की शोभायात्रा की शुरुआत हुई। जय जय श्रीराम की गूंज के बीच राम रावण की सेना रथों पर सवार हुई और शोभायात्रा शुरू हो गई। रास्ते में दोनों सेनाओं ने अपना शक्ति प्रदर्शन किया और जय जय कार के नारे गूंजते रहे। शोभायात्रा रामलीला भवन अचलताल से शुरू होकर आर्य समाज मंदिर, मदारगेट चैराहा, दुबे पढ़ाव, कंपनी बाग, मीरीमल चैराहा, रघुवीरपुरी, फायर सर्विस कैंप, बन्नादेवी थाना के पीछे होता हुआ नुमाइश मैदान पहुंचेगी। शोभायात्रा नुमाइश मैदान पहुंची। यहां दोनों सेनाओं के बीच भीषण युद्ध हुआ, जिसके बाद असत्य पर सत्य की जीत का परचम लहरा गया। तीन मिनट में जलकर राख हो गई बुराई रूशहर भ्रमण के बाद पर श्रीराम और लंकेश का डोला नुमाइश ग्राउंड के अंदर आया। यहां कमिश्नर अजय दीप सिंह व जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह व अन्य अतिथियों ने भगवार राम का पूजन किया। इसके बाद पुतलों का पूजन किया गया

और राम और रावण के बीच भयंकर युद्ध शुरू हो गया। अंत में श्रीराम ने रावण का वध किया, जिसके बाद पुतला दहन की क्रिया शुरू हो गई। पहले पुतले का दहन हुआ और कुंभकरण अट्टाहस के साथ जलकर राख हो गया। इसके बाद मेघनाथ के पुतले को आग लगाई गई और अंत रावण के पुतले को आग लगाई गई। पुतला जलने के साथ ही चारों ओर धर्म पताका फहरा गई। इसके बाद भगवान अतिथियों ने भगवान राम का विजय तिलक किया। राम के संदेश के साथ गूंजी समाजिक परिवर्तन की बयार रूशोभायात्रा में जहां एक ओर श्रीराम की जय जय कार गूंज रही थी, वहीं दूसरी ओर सामाजिक बदलाव के संदेश भी दिए जा रहे थे। लोगों को पानी बचाने, ज्यादा से ज्यादा पौधरोपण करने, प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने और बेटियों को शिक्षा दीक्षा देकर तरक्की के मार्ग पर आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जा रहा था। नुमाइश मैदान में भी लोगों को बताया गया कि स्वच्छ पर्यावरण व जल संरक्षण ही हम सबसे सुखद भविष्य की जरूरत है। सेल्फी लेने की रही होड़ रावण के पुतलों के साथ सबसे ज्यादा सेल्फी लेने की होड़ रही। लोग अपने मोबाइल से पुतलों के साथ सेल्फियां लेने रहे। इसके बाद जैसे ही पुतलों में आग लगाई गई, पूरे नुमाइश मैदान में मोबाइल के कैमरे चमक उठे और हर किसी ने रावण दहन का का यह पल अपने मोबाइल में कैद कर लिया।

दुर्घटना न हो, इसलिए हुआ हल्का बल प्रयोग रूमेले के दौरान चारों ओर पुलिस प्रशासन की सख्त व्यवस्था थी। पुलिस के साथ आरएएफ भी व्यवस्था में लगी हुई थी। जैसे ही पुतला दहन हुआ लोग बड़ी संख्या में रावण के पुतले की लकड़ी उठाने के लिए भागे। पुतले की आग बुझी नहीं थी और लगातार उनमें पटाखे फूट रहे थे। ऐसे में पुतलों की ओर भाग रही भीड़ को वापस लौटाने के लिए पुलिस को लाठियां पटकनी पड़ी। पुतला दहन के बाद लगा भीषण जाम रूनुमाइश मैदान में पुतला दहन होते ही सारी भीड़ सड़क पर निकल आई और चारों ओर जाम लग गया। जीटी रोड, जेल पुल समेत चारों ओर लोगों को जाम ने निकलने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान यातायात पुलिस कर्मियों को जाम खुलवाने के लिए कई देर मशक्कत उठानी पड़ी। खाने पीने व खिलौनों की दुकान पर रही भीड़ रूमेला देखने के लिए शहर के साथ आसपास के इलाकों से भी बड़ी संख्या में भीड़ नुमाइश मैदान पहुंची थी।

जैसे ही पुतला दहन हुआ, लोग सीधे सड़क पर उतर आए। कुछ अपने घर के लिए रवाना हो गए तो कुछ ने यहां लगी खाने पीने की दुकानों की ओर रुख किया। इस दौरान माता पिता के साथ आए नन्हे मुन्नों ने भी जमकर आनंद उठाया। पहले उन्होंने खाने पीने की दुकानों की ओर रुख किया, इसके बाद तीर, तलवार, धनुष-बाण की जमकर खरीददारी चली। देर रात तक नुमाइश मैदान में यही आलम चलता रहा।यह रहे मौजूद विजयदशमी उत्सव के दौरान अतिथि के तौर पर मंडलायुक्त अजयदीप सिंह, जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह, एडीएम राकेश मालपाणी, नगर आयुक्त सत्यप्रकाश पटेल, पूर्व मेयर शकुंतला भारती, सिटी मजिस्ट्रेट विनीत कुमार, भाजपा नेता मानव महाजन, विवेक सारस्वत, राजीव लीडर, श्रीरामलीला महोत्सव समिति के विमल अग्रवाल, वेदप्रकाश जैन, अरविंद अग्रवाल, कुलदीप पांडेय, टीएन मित्तल, अजय मित्तल, सुनील गर्ग समेत बड़ी संख्या में शहर के गणमान्य लोग मौजूद रहे।

 

पॉलीथिन रूपी रावण को अपने जीवन से सदा के लिए त्याग करेंः नगर आयुक्त
अलीगढ़,उ.प्र.। दशहरे पर नगर निगम की व्यवस्थाओं को चाक-चैबंद कराने में जुटे नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने नुमाइश ग्राउंड और दशहरे पर निकलने वाली परंपरागत शोभायात्रा के मार्ग का निरीक्षण किया. निरीक्षण में नगर आयुक्त को नुमाइश स्थित रावण दहन स्थल पर व्यवस्था संतोषजनक मिली। रावण दहन स्थल के आसपास नगर आयुक्त ने उम्दा इंतजाम किए जिसकी भूरी भूरी प्रशंसा श्री रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों क्षेत्रीय नागरिकों द्वारा की गई। नगर आयुक्त ने कहा दशहरे की भांति आने वाली दीपावली पर भी नगर निगम उम्दा से उम्दा सफाई पेयजल पर प्रकाश की व्यवस्था सुनिश्चित कर आएगा उन्होंने शहरवासियों को इको फ्रेंडली त्यौहार मनाए जाने की नसीहत दी उन्होंने कहा पर्यावरण और शहर को साफ सुथरा बनाने के लिए पॉलिथीन का त्याग करें। निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त के साथ महाप्रबंधक जल सुरेंद्र कुमार शर्मा मुख्य कर निर्धारण अधिकारी विनय कुमार राय जोनल अधिकारी अजीत कुमार राय सभापति यादव अवर अभियंता आरसी मथुरिया गौतम वर्कशॉप सहायक धर्मवीर सिंह संजय सक्सेना मीडिया सहायक एहसान रब प्रकाश निरीक्षक मोहन सक्सेना आदि मौजूद थे। 
 

Comments