अवैध रूप से ट्रेन में टिकट चैक करने वाले तीन सिपाही निलंबित अलीगढ़ की टॉप खबरे

अवैध रूप से ट्रेन में टिकट चैक करने वाले तीन सिपाही निलंबित अलीगढ़  की टॉप खबरे

स्थानीय लोगों ने कैंडल मार्च  निकाला


अलीगढ़।

हैदराबाद में हुई डॉ प्रियंका रेड्डी के साथ दर्दनाक घटना से क्रोधित होकर खैर रोड इंदिरा नगर में  पुनीत बघेल के नेतृत्व में एक कैंडल मार्च  निकाला गया जिसमें मुख्य रुप से क्षेत्रीय पूर्व पार्षद रामबाबू एवं क्षेत्रीय पार्षद पति  विनोद माहौर और मंडल अध्यक्ष संजय शर्मा मौजूद रहे युवाओं में आक्रोश होने के साथ-साथ एक मैसेज यह भी दिया

अगर अपराधियों को कड़ी सजा ना मिली तो जन आंदोलन होगा कैंडल मार्च में लोकेश वार्ष्णेय,दीपक माहौर,अतुल शर्मा,विशाल शर्मा,सतीश मूर्ति, मनोज चैधरी,प्रिंस शर्मा, अभिषेक शर्मा,सुनील प्रजापति आदि लोग उपस्थित रहे।

 

राजा महेन्द्र प्रताप को मिले भारत रत्न


अलीगढ़।

इगलास जाट महासभा द्वारा राजा महेन्द्र प्रताप सिंह के जन्मतिथि समारोह का आयोजन रविवार को ब्लाक परिसर में किया। इस दौरान वक्ताओं ने आजादी के आंदोलन में देश विदेशों में जाकर रणनीति बनाने वाले राजा महेन्द्र प्रताप सिंह को भारत रत्न दिए जाने की मांग रखी।

प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन तैयार किया गया।मुख्य अतिथि राजा के पौत्र चरत प्रताप सिंह ने राजा साहब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनके दादाजी ने घर परिवार को त्याग कर 32 साल देश के लिए वनवास में रहे और आजादी की लड़ाई लड़ी। युवाओं को उनके जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए। योगी सरकार द्वारा उनके नाम पर विवि खोलने के निर्णय को एतिहासिक बताया।

वहीं कार्यक्रम को ब्लाक प्रमुख आरपी सिंह, भाकियू के चै. हरपाल सिंह, रालोद जिलाध्यक्ष रामबहादुर सिंह, राजवीर सिंह, स्वामी चेतनदेव, नरेन्द्र सिंह आदि ने भी संबोधित किया। अध्यक्षता राज सिंह व संचालन मुनेश सिंह ने किया। इस मौके पर मदन सिंह, जवाहर सिंह, अमित ठेनुआं, केशव देव, राम खिलाड़ी, चै. महावीर सिंह, सुभाष सिंह आदि थे।

 

सांसद के बयानों से अलीगढ़ की राजनीति गर्माने की आशंका

  • सर सैयद खां की तरह मनाये अमुवि राजा महेन्द्र प्रताप की जंयतीःसांसद  

अलीगढ़ ।

अगर अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी को रहना है तो उसे सर सैयद की ही तरह राजा महेंद्र प्रताप सिंह का जन्मदिन भी मनाना होगा और उन पर सेमिनार भी कराना होगा। यदि यह विश्वविद्यालय ऐसा नहीं कर पा रहा है तो उनकी जमीन वापस कर दे।

उक्त बयान पूर्व में अमुवि के विवादों चर्चाओं आए सांसद सतीश कुमार गौतम ने राजा महेन्द्र प्रताप सिंह की जंयती पर तस्वीर महलचैराहे पर व्यक्त किये।सांसद ने एक बार फिर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय पर निशाना साधा है। जिसके बाद एक बार फिर अलीगढ़ की राजनीति गरमाने की आशंका है।

तस्वीर महल चैराहे पर राजा महेंद्र प्रताप सिंह की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सांसद ने कहा कि राजा महेंद्र प्रताप नहीं होते तो एएमयू नहीं होती। जिस राजा की जमीन पर एएमयू है, वहां उनकी जयंती नहीं मनाई जाती है। पूर्व कुलपति ले. जनरल (सेवानिवृत्त) जमीरउद्दीन शाह ने राजा महेंद्र प्रताप के नाम पर सेमिनार कराने का वादा किया था

पर वह अब तक पूरा नहीं हुआ। एएमयू में जिस तरह सर सैयद की जयंती मनाई जाती है, वैसे ही राजा महेंद्र प्रताप के जयंती मनाई जाए अन्यथा जमीन वापस कर दी जाए। उन्होंने कहा कि 2014 में जब पहली बार सांसद बने तो सर सैयद दिवस पर खैर में कार्यक्रम आयोजित हुआ था।

उसमें सात सांसद एवं एक पूर्व सांसद शामिल हुए थे। उसी समय एएमयू के निर्माण में राजा महेंद्र प्रताप के योगदान की जानकारी हुई। उल्लेखनीय है कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह की जयंती को लेकर सांसद का पहले भी एएमयू से टकराव हो चुका है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी राजा महेंद्र प्रताप के बहाने कई बार एएमयू पर निशाना साध चुके हैं। मुद्दा की प्रासंगिकता को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर राज्य विश्वविद्यालय स्थापित करने का ऐलान कर चुके हैं और उस पर काम शुरू हो गया है।

 

हत्यारोपी की निशानदेही पर बरामद किया चाकू


अलीगढ़।

इगलास कोतवाली क्षेत्र के गांव जारौठ में युवती की हत्या के मामले में पुलिस ने हत्यारोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद किया है।सीओ इगलास परशुराम सिंह ने पत्रकारों को बताया कि 25 नवंबर की सांय चार बजे गांव जारौठ में बुलबुल पुत्री ओमप्रकाश सिंह की चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी। घटना के संबंध में मृतका के पिता ने पड़ौसी राहुल पुत्र राकेश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपित ने 27 नवंबर को कोर्ट में समर्पण कर दिया था।

आरोपित को कोर्ट से पुलिस कस्टडी रिमांड पर लाकर उसकी निशानदेही से गांव के समीप स्थित सैय्यद मजार के पास से हत्या में प्रयुक्त चाकू व बिटौरा से खून से लतपथ कपड़े बरामद किए हैं। इस मौके पर कोतवाल रामसिया मौर्य, हस्तपुर चैकी प्रभारी चरन सिंह आदि थे। वहीं राहुल ने बताया कि वह व युवती आपस में प्रेम करते थे। युवती ने शादी तय हो जाने पर उससे रिस्ता खत्म करने की बात कही थी। इसी बात पर उसने गुस्से में उसकी हत्या कर दी।

 

कार सवारों ने बाइक सवारों को जमकर पीटा 
अलीगढ़। थाना बन्नादेवी क्षेत्र के नुमाइश ग्राउंड के पास बाइक सवार सारसौल की तरफ जा रहे थे, तभी नुमाइश ग्राउंड के अंदर से एक कार तेजी से निकली और बाइक सवारों से टकरा गई जिसमें दोनों लोगों के बीच कहासुनी हो गई और देखते ही देखते कार सवारों ने बाइक सवारों को जमकर धुन दिया।

 मारपीट में बाइक सवार टिंकू नाम का युवक घायल हो गया मारपीट की घटना को देख  स्थानीय राहगीर मौके पर एकत्रित हो गए और पुलिस को सूचना दी मौके का फायदा उठाकर कार सवार फरार हो गए घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका उपचार जारी है पुलिस कार सवारों की तलाश में जुटी है।

 

दो किसानों के घर में लाखों की चोरी 


अलीगढ़।

थाना पिसावा क्षेत्र में दो किसानों के मकान की दीवार फांदकर लाखों रूपये का माल लेकर रफूचक्कर हो गये। गांव पलसोड़ा में लेखराज और प्रेमचंद के घर में बदमाश दीवार कूदकर घुस गए और लाखों रुपए की नकदी और सोने-चांदी के जेवरात लेकर फरार हो गए घटना उस समय हुई जब परिवार के लोग घर के अंदर सो रहे थे और बदमाश दीवार फांद कर घर में प्रवेश कर गए

और जिस कमरे में परिवार के लोग सो रहे थे उसकी बाहर से कुंडी लगाकर लेखराज के घर से 50 हजार नकद और सोने चांदी के आभूषण व प्रेमचंद के घर से 1 लाख 70 हजार नकद और सोने चांदी के आभूषण लेकर फरार हो गए सुबह जब परिवार के लोग जागे

तो उन्होंने कमरे के सामान को बिखरा हुआ देखा तब जानकारी हुई घटना से परिवार में कोहराम मच गया और रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोग एकत्रित हो गए पीड़ितों ने थाने में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ तहरीर दे दी है पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है।

 

3 को अलीगढ़ आएगें पूर्व मंत्री सतीश शर्मा 


अलीगढ़।

14 दिसंबर को “देश में बढ़ती बेरोजगारी, आर्थिक मंदी व किसानों की समस्याओं” को लेकर “भाजपा की केंद्र सरकार के खिलाफ” “दिल्ली के रामलीला मैदान” में कांग्रेस पार्टी की होने वाली “विशाल रैली” की तैयारी के सिलसिले में प्रदेश कांग्रेस कमैटी के पर्वेक्षक पूर्व मंत्री सतीश शर्मा 3 दिसंबर को अलीगढ़ आ रहे हैं और प्रातः11 बजे से अयोध्या कुटी मैरिस रोड पर महानगर कांग्रेस के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से मिलेंगे और उसके बाद दोपहर 1 बजे से रेलवे रोड कार्यालय पर जिला कांग्रेस कमैटी के कार्यकर्ताओं से मिलेंगे प् इन बैठकों के दौरान दिल्ली में होने वाली रैली में अलीगढ़ की भारी भरकम भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये पार्टी कार्यकर्ताओं से विचार विमर्श करेंगे प्

 

 गृह कलेश के चलते युवक ने की आत्महत्या  


अलीगढ़।

थाना सासनी गेट क्षेत्र में एक युवक ने गृहक्लेश के चलते जहरीला पदार्थ का सेवन कर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। सूचना परपहुंची पुलिस ने युवक के शव का पोस्टर्माअम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। 

आगरा रोड सराय बुर्ज निवासी पंकज कुमार (28 वर्षीय)पुत्र स्व.प्रकाश सिंह ने जहर खा लिया,जिससे उसके मुंह से झाग निकलने लगा और वह जमीन पर गिर पड़ा  जमीन पर गिरते ही परिवार वाले उसे तुरंत  अस्पताल के लिए ले जा रहे थे तभी रास्ते में उसने दम तोड़ दिया  घटना से परिवार में कोहराम मच गया।

चीख पुकार की आवाज सुनकर आसपास के काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए और पुलिस को सूचना दी घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया घटना से परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। जानकारी के अनुसार मृतक का अपनी मां से आए दिन झगड़ा होता रहता था जिसके चलते युवक ने जहर लगाकर आत्महत्या की है पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

 

सात महीने में एफडीए ने लगाया मिलावटखोरों पर एक करोड़ 12 लाख का जुर्माना, फिर भी नहीं रूकी मिलावट 


अलीगढ़।

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ की मंशा है कि आमजन को शुद्ध खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो। मिलावटखोरी पर अंकुश लगे। बीते दिनों मुख्य सचिव ने वीसी कर भी अधिकारियों को मिलावट रोकने के लिए सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए थे। इसके बाद भी मिलावट बढ़ती जा रही है। जनपद में सबसे ज्यादा मिलावट दूध में की जा रही है।

पिछले सात महीनों में लैब से फेल होने वाले नमूनों में दूध, सरसों तेल, घी और पनीर के सबसे अधिक हैं। वहीं स्वास्थ्य के लिए हानिकारक अनसेफ नमूनों भी इन्ही खाद्य पदार्थों के आए हैं।दूध, घी, पनीर, मिठाई ही नहीं मसाले भी। यह खाद्य पदार्थ कितने शुद्ध हैं। यह कह पाना आसान नहीं रहा है।

अलीगढ़ में मिलावट और मिलावटखोरों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। खाद्य सुरक्षा विभाग की रिपोर्ट इस बात की तस्दीक करने के लिए काफी है। अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि एफडीए ने अप्रैल से अक्टूबर तक सात महीने में एक करोड़ 12 लाख का जुर्माना मिलावटखोरों पर लगाया है।

जबकि पिछले वर्ष 2018 में विभाग ने पूरे साल यानि 12 महीने में कुल 76.70 का जुर्माना लगाया था।खाद्य पदार्थ में किसी हानिकारक पदार्थ की मिलावट न पाए जाने पर खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम 2006 की धारा-51 में पांच लाख तक के अर्थदंड का प्रावधान है। इसके अलावा मिलावट के दौरान ऐसे हानिकारक पदार्थ, जिसके सेवन से मृत्यु हो सकती है।

उसके पाए जाने पर खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम 2006 की धारा-59 के अंतर्गत कम से कम सात साल और अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है। इसके अलावा दस लाख तक जुर्माना डाला जा सकता है। अगर आप बाजार से देसी- घी, मसाले, पनीर, दूध सहित अन्य खानपान का सामान खरीद रहे हैं तो सबसे पहले उस पर पूरी लेबलिंग देखें। उस पर छपे एफएसएसआई लाइसेंस नंबर को भी जरूर चेक करें। पैकिंग पर लिखे कंटेंट को भी चेक करें।

खुला हुआ घी, तेल, मसाले, दूध खरीदने से पूरी तरह से बचे। अगर मिलावट का अंदेशा है तो फूड विभाग में कर सकते हैं।आईजीआरएस पोर्टल पर ऑनलाइन शिकायत की जा सकती है।यूपीएफडीए की वेबसाइट एफडीए.यूपी.एनआईसी.आईएन पर शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है।जिलाधिकारी, एडीएम सिटी, सिटी मजिस्ट्रेट के कार्यालय में इस संबंध में सीधी शिकायत भी की जा सकती है।
लाईसेंस के लिये चक्कर काट रहे आवेदक
कमिश्रनरी में हुए बीते दिनों हुए मंडलीय बैठक में मंडलीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने अधिक से अधिक खाद्य सुरक्षा लाइसेंस जारी किए जाने पर जोर दिया था। हैरत की बात है कि एफडीए अधिकारी इसके उल्टा ही चल रहे हैं। आवेदक लाइसेंस के लिए कार्यालय के चक्कर लगा-लगाकर परेशान हैं।
कार्यवाही और जुर्माना
2652 एफडीए टीम ने निरीक्षण किए
323 छापेमारी की कार्यवाही हुईं
396 खाद्य पदार्थों के नमूने भरे गए
142 खाद्य पदार्थों के नमूने फेल हुए
32 नमूने अनसेफ यानि हानिकारक श्रेणी में आए
1.12 करोड़ रूपए का जुर्माना एफडीए ने लगाया
(नोट-2019 में 01 अप्रैल से 31 अक्टूबर तक)
2699 एफडीए टीम ने निरीक्षण किए
300 छापेमारी की कार्यवाही हुईं
366 खाद्य पदार्थों के नमूने भरे गए
125 खाद्य पदार्थों के नमूने फेल हुए
38 खाद्य पदार्थों के नमूने अनसेफ आए
76.70 लाख का जुर्माना लगाया
(नोट-अप्रैल-2018 से मार्च-2019 तक)

इस सबंध में जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह का कहना है कि मिलावटखोरी रोकने के लिए एफडीए को प्रत्येक माह अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं। मिलावट नहीं रोक पाने वाले अफसरों पर कार्यवाही की जाएगी।

 

भर्ती घोटालाः


होमगार्ड के अधिकारियों ने की पुलिस के साथ जालसाजी 


अलीगढ़।

गौतमबुद्ध नगर में होमगार्ड हाजिरी घोटाले का खुलासा होने के बाद प्रदेश के अधिकांश जिलों में इसकी जांच शुरू हो चुकी है। होमगार्ड विभाग में तैनात बड़े अधिकारी ही नहीं कुछ पुलिस के अधिकारी संदिग्ध माने जा रहे हैं। घोटाले में होमगार्ड के अधिकारियों ने पुलिस के साथ ही जालसाजी की।

होमगार्ड विभाग के उच्चाधिकारियों से साठगांठ के चलते अधिकांश इंस्पेक्टर और थाना प्रभारियों के फर्जी हस्ताक्षर व फर्जी मुहर लगाई गई और ड्यूटी का पैसा ले लिया गया। जो होमगार्ड ड्यूटी पर नहीं आए उनकी फर्जी तरीके से हाजिरी लगा दी गई। फर्जी उपस्थिति के आधार पर होमगार्ड जवानों के खाते में वेतन भेज दिया जाता था। घोटाले में शामिल अधिकारी जवानों से अपना हिस्सा ले लेते थे। इसके लिए असली मस्टररोल फाड़कर फर्जी मस्टर रोल कार्यालय में ही तैयार किए जाते थे।


होमगार्ड घोटाले के तार अलीगढ़ से जुड़ चुके हैं। एसटीएफ ने मामले में मंडलीय होमगार्ड को गिरफ्तार किया था। अब जिले में तैनात होमगार्ड्स के अवैतकि कंपनी कमांडर से लेकर होमगार्ड तक के खातों की जांच होगी। सभी को बैंक खातों, पासबुक आदि की जानकारी देनी होगी। बैंक खातों से हुए बीते सालों में कैंश ट्रांजेक्शन की जांच होगी।


इस मामले में रामनारायण चैरसिया, मंडलीय कमांडेंट, अलीगढ़ (तत्कालीन जिला कमांडेंट होमगार्ड, गौतमबुद्धनगर) सहित चार अधिकारियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। होमगार्ड ड्यूटी घोटाले में गिरफ्तार किए गए अलीगढ़ के डिवीजनल कमांडेंट आर नारायण चैरसिया पूर्व में भी विवादों में घिर चुके हैं।


अब जिला कमांडेंट संदीप कुमार सिंह ने जनपद के सभी थानाध्यक्ष, थाना प्रभारियों से थाने से सम्बद्ध अवैतनिक कंपनी कमांडर, ब्लॉक आर्गेनाइजर, ड्यूटी इंचार्ज होमागार्ड्स और ड्यूटीरत होमागार्ड्स के बैंक खातों का रिकार्ड मांगा है।

ट्रक ने अधिवक्ता की बाइक को रौंदा,पत्नी की मौत


थाना लोधा क्षेत्रान्र्तगत रविवार की शाम नादा पुल के पास लापरवाही पूर्वक तीव्र गति से आ रहे ट्रक ने बाइक सवार अधिवक्ता दंपत्ती को रौंद दिया। जिसमें अधिवक्ता की पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि अधिवक्ता बाल-बाल बच गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।


खेरेश्वर के पास गांव केशोपुर जोफरी के रहने वाले अधिवक्ता वीरपाल का वैष्णो सिटी कॉलोनी में मकान बन रहा है। बताते हैं कि रविवार की शाम कोल तहसील में अधिवक्ता वीरपाल अपनी पत्नी अंजलि के साथ शहर से मकान का कुछ सामान लेकर बाइक पर वैष्णो सिटी कॉलोनी में आ रहे थे। रास्ते में नादा पुल और जॉली पेट्रोल पंप के नजदीक पीछे से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे अधिवक्ता की पत्नी अंजलि की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।


घटना में अधिवक्ता बाल-बाल बच गए। घटना के होते ही आसपास के तमाम लोग आ गए। लोगों को देखते ही ट्रक चालक मौके से भाग गया। तमाम लोग मौके पर घटना को देखने के लि इकट्ठा गए।  इधर सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने लोगों को हटा कर यातायात सुचारू किया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 

अवैध रूप से ट्रेन में टिकट चैक करने वाले तीन सिपाही निलंबित


अलीगढ़।

भिवानी जंक्शन से कानपुुर जा रही कालिंदी एक्सप्रेस (14724) में तैनात फर्रुखाबाद जीआरपी के सिपाही पर अवैध रूप से टिकट चेक कर वसूली करने का आरोप लगा है। दिल्ली की एक युवती ने मारीपत स्टेशन पर उतारे जाने के बाद 100 नंबर पर फोन कर सूचना दी कि सिपाही ने उसके साथ अभद्रता की।

अन्य तीन यात्रियों सहित उसे जबरन ट्रेन से नीचे उतरा दिया गया। इस दौरान उसके पैर में भी चोट लग गई। मामले में जीआरपी आगरा अनुभाग एसपी ने सीओ जीआरपी आगरा अनुराग दर्शन से जांच कराई। जांच में सिपाही कमलेंद्र, उपदेश और शीलेंद्र को दोषी पाए जाने पर एसपी ने तत्काल प्रभाव से तीनों को निलंबित कर दिया है।

वाकया शनिवार रात करीब साढे़ ग्यारह बजे का है। दिल्ली के शाहदरा निवासी युवती राखी ने 100 नंबर पर फोन कर शिकायत की कि वह सहयात्री मुकेश पुत्र सुखराम निवासी रामघाट, बुलंदशहर, सौरभ पुत्र भगवान सिंह, गौरव वर्मा पुत्र भगवान सिंह निवासी लोनी, गाजियाबाद के साथ ट्रेन की स्लीपर बोगी में सफर कर रही थी। सभी के पास जनरल की टिकट थी।

जनरल बोगी में भीड़ अधिक होने पर सभी स्लीपर बोगी में खड़े हुए थे। तभी जीआरपी के तीन सिपाही आए और टिकट चेक करने लगे, जबकि सिपाही को यह अधिकार नहीं है। जनरल टिकट देखते ही वह बोगी में सफर कराने के नाम पर पैसे मांगने लगे। पैसे न देने पर उनसे अभद्रता करते हुए ट्रेन से नीचे उतारने लगे। इसी दौरान उसके पैर में चोट लग गई। मामले की जब शिकायत की गई तो वहां आरपीएफ की टीम पहुंची।

इसके बाद उन्हें उपचार के लिए भेजा गया। राखी के अनुसार मामले की शिकायत जीआरपी एसपी आगरा अनुभाग से की गई है। एसपी जीआरपी जोगिंदर सिंह के मुताबिक सीओ आगरा अनुराग दर्शन से प्रकरण की जांच कराई गई। जांच में तीनों सिपाही दोषी पाए गए। इस पर उनको निलंबित कर दिया गया है। सिपाहियों को यात्रियों की टिकट चेक करने का अधिकार नहीं था। अगर, यात्री गलत बोगी मेें सवार थे तो सिपाहियों को टीटीई को इस प्रकरण से अवगत कराना चाहिए था।

 

 

 

 

 

 

 

Comments