सीएम योगी और भाजपा छात्रसंघों को क्यों कुचलना चाहते हैंःअजय कुमार

 सीएम योगी और भाजपा छात्रसंघों को क्यों कुचलना चाहते हैंःअजय कुमार

अलीगढ़,उ.प्र.। आज आगरा आगमन पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमैटी के नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी को स्मृति चिन्ह देकर अखिल भारतीय कांग्रेस कमैटी के राष्ट्रीय सचिव व राजस्थान प्रभारी विवेक बंसल और अलीगढ़ कांग्रेस कमैटी के पदाधिकारियों ने जोरदार स्वागत किया। उसके बाद ये सब लोग केंद्रीय कारागार आगरा पहुंचे जहाँ गत दिनों आगरा में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल व उपमुख्यमंत्री दिनेश चन्द्र शर्मा के आगरा आगमन पर एन.एस.यू.आई. कार्यकर्ताओं ने छात्रसंघ चुनावों की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया और काले झंडे दिखाये थे

छात्रों के विरोध प्रदर्शन पर पुलिस ने उनके विरुद्ध अमानवीय कार्यवाही करते हुये मुकदमा कायम कर दिया जिसके चलते एन.एस.यू.आई के प्रमुख छात्र नेता केंद्रीय कारागार आगरा में निरुद्ध हैं

इन कार्यकर्ताओं से मिलने के लिये आज उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमैटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारियों, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल पूर्व विधायक, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव रोहित चैधरी, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमैटी के उपाध्यक्ष एवं पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी पंकज मलिक के साथ केंद्रीय कारागार आगरा पहुंचे और छात्र नेता से मुलाकात की इन वरिष्ठ नेताओं ने छात्रों को आश्वस्त किया

कि आप लोग संगठित रहें और संघर्ष करें पूरी कांग्रेस कंधे से कंधा  मिलाकर आपके साथ खड़ी है। कारागार से बाहर आने पर पत्रकारों से वार्ता करते हुये अजय कुमार लल्लू ने कहा कि छात्रसंघ राजनीति की पौधशाला होता है।

जिससे निकलकर बड़े राजनीतिज्ञ वटवृक्ष बनते हैं, मेरी ये बात समझ में नहीं आती कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा छात्रसंघों को क्यों कुचलना चाहते हैं, आगरा, इलाहाबाद और गोरखपुर विश्वविद्यालय की मांग कर रहे छात्रसंघ पदाधिकारियों को प्रताड़ित करके हतोत्साहित किया जा रहा है। हम प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा के इन मंसूबों को पूरा नहीं होने देंगे इस अवसर पर विवेक बंसल ने कहा कि छात्र राजनीति में छात्रसंघ चुनाव की मांग करना छात्रों का संवेधानिक एवं मौलिक अधिकार है,जिसे कोई चाहकर भी छीन नहीं सकता प्रदेश सरकार की छात्रसंघ विरोधी नीतियों का जमकर विरोध किया जायेगा।  केंद्रीय कारागार आगरा से बाहर निकलने के बाद इन सब नेताओं ने मीडिया को भी संबोधित किया।

Comments