दीपावली पर सब्जियां निकाल रही आमजन का दिवाला

 दीपावली पर सब्जियां निकाल रही आमजन का दिवाला
  • प्याज की बढ़ी कीमतों से निकले आंसू नहीं सूखे नहीं टमाटर हुआ सुर्ख

अलीगढ़,उ.प्र.। जहां एक ओर आमजन दीपावली के त्यौहार को मनाने की तैयारियों में जुटा है, वहीं मंहगाई डायन ने सब्जियों की आसमान छूती कीमतों ने आमजन का दीवाला निकाल कर रख दिया है। पिछले करीब एक पखवाड़े से हरी सब्जियों के दाम आसमान छूने से गरीबों की थाली से पोषण दूर होता जा रहा है।एक ओर जहां परवल और बोड़ा जैसी सब्जियां शतकीय पारी खेल रही हैं वहीं प्याज भी कब का अर्द्धशतक लगाकर साठ रूपए प्रति किलो की दर से बिक रहा है। ऐसे में निम्न व मध्यम आय वर्ग के लोगों की जेब पर अब दो वक्त की रोटी के लिए सब्जी जुटाना भारी पड़ रहा है। हरी सब्जियों की कीमत बाजार में आसमान छू रही है। महंगाई के चलते लोग हरी सब्जी खरीदने से कन्नी काट रहे हैं। टमाटर का भाव भी धीरे धीरे लाल होने से अब घरों में सबसे आसान रेसिपी टमाटर आलू बनाने में भी गृहणियों को पसीने आ रहे हैं। ऐसे में दुकानदारों ने भी ठेलों पर हरी सब्जी रखना कम कर दिया है।  सुर्ख हो उठा टमाटर पहुंचा 80 रुपये तक, लहसुन की कीमतें प्याज के बाद इस समेत लहसुन की कीमतों में इजाफा। 

प्याज की चढ़ी कीमतों से निकले आंसू अभी ग्राहक पोछ भी नहीं पाए हैं कि अचानक टमाटर सुर्ख हो उठा है। फुटकर मंडी में टमाटर की कीमत 60 से 80 रुपये तक पहुंच गई है। लोकल माल की कमी बाहर से आने वाले टमाटर की पहुंच बाजार तक अभी न हो पाने के कारण कीमतें आसमान छू रही हैं। लहसुन साठ रुपये पाव बिक रहा है। सरकार के नियंत्रण के बाद प्याज के दाम स्थिर हैं। 
थोक मंडी के आढ़ती बताते हैं कि मंडी में मार्केट में अच्छी क्वालिटी के टमाटर की कीमत आज 950 रुपये प्रति कैरेट(25 किलो) हो गई है। यानी 38 रुपये किलो की दर से थोक मंडी में टमाटर बिका है। हल्की क्वालिटी 800 से 850 रुपये प्रति कैरेट बिका है। करीब 32 से 34 रुपये किग्रा. की दर से थोक मंडी में टमाटर बिका है। शिवपुरी वाले टमाटर की आमद अभी बाजार में नहीं हो पाई है। वहीं लहसुन 150 रुपये किग्रा. की दर से थोक मंडी से बाहर आया है। बरसात और बाढ़ की वजह से फसल थोड़ा लेट है और माल की बर्बादी भी हुई है। 
बाढ़ के चलते हरी सब्जियों की फसल बर्बाद हो गई हैं, जिसके कारण इनकी भी आवक कम हो रही है। पहले ही हरी सब्जी के भाव आसमान पर पहुंचने की आशंका जताई गई थी। सब्जी व्यापारियों का कहना है टमाटर को भाव अच्छे न मिलने के कारण किसानों ने टमाटर की फसल कम बोई थी। जो टमाटर बाजार में आ रहा है वह कोल्ड स्टोरेज का है।

सब्जियों के फुटकर भाव 

  • आलू- 14 रुपए प्रति किलो
  • टमाटर- 60 रुपए प्रति किलो
  • प्याज- 60 रुपए प्रति किलो
  • लहसुन- 150 से 200 रुपए प्रति किलो
  • धनिया- 300 रुपए प्रति किलो
  • परवल-100 रुपए प्रति किलो
  • बोड़ा- 100 रुपए प्रति किलो
  • नेनुआ- 40 रुपए प्रति किलो
  • लौकी- 35 रुपए प्रति किलो
  • कोहड़ा- 35 रुपए प्रति किलो
  • गोभी- 50 रुपए प्रति फूल
  • बैगन- 60 रुपए प्रति किलो
     

Comments