मृदा के गिरते स्वास्थ्य को सुधारने की नवीनतम तकनीक बताई

मृदा के गिरते स्वास्थ्य को सुधारने की नवीनतम तकनीक बताई

अलीगढ़।

राष्ट्रीय खाद सुरक्षा योजना अंतर्गत कृषक गोष्ठी विकासखंड जवा के ग्राम मलिकपुरा में एक कृषक प्रशिक्षण एवं फील्ड डे का आयोजन श्री राम रूप सिंह प्रगतिशील कृषक की अध्यक्षता में आयोजित किया गया

सर्वप्रथम श्री एसएन शर्मा पूर्व कृषि अधिकारी ने मृदा के गिरते स्वास्थ्य को सुधारने की नवीनतम तकनीक तथा जैविक खेती के तकनीकी विस्तार से बताएं जिसमें की वर्मी कंपोस्ट केंचुए की खाद तरल खाद डी कंपोजर द्वारा बनाई गई तरल खाद का उपयोग करने की सलाह दी जैविक खाद से होने वाली उपज शुद्ध एवं स्वच्छ होती है खाने योग्य होती है निरोगी होती है और कृषक की कम लागत में खेती से अधिक लाभ मिलता है

दूसरे चरण में श्री ओमपाल सिंह फसल सुरक्षा विशेषज्ञ द्वारा फसल की निगरानी के महत्व पर चर्चा के साथ सुरक्षित रसायनों को उपयोग कर गुणवत्ता युक्त उत्पादन देने हेतु प्रेरित किया श्री ओमपाल सिंह ने फसलों में जैविक दबा तथा घर पर तैयार की हुई कीटनाशक बनाने का तरीका बताया

और साथ ही बीज शोधन कर खेती में शुरू से बीमारी ना लगे इसलिए बीज शोधन का तरीका अपनाने का उपाय दिया और जैविक कीटनाशक घर का तैयार होता है तो इससे कृषक की कम लागत में अधिक पैदावार होती है।

श्री राम याद द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी दी जिसमें मशीनी उपकरण से लेकर बीज पर अनुदान दवाइयों पर अनुदान आदि के बारे में बताया गया इस कार्यक्रम में उपस्थित अजीत सिंह बीटीएम द्वारा किसान मानधन आदि अन्य योजनाओं की जानकारी दी और ग्राम प्रधान जीने विधवा पेंशन वृद्धा पेंशन आदि की कृषक बंधुओं को जानकारी देते हुए उनका धन्यवाद ज्ञापित किया।

अंत में राम रूप सिंह प्रगतिशील कृषक अध्यक्ष ने सभी ग्राम वासियों का गोष्ठी में सम्मिलित होने पर धन्यवाद ज्ञापित किया गोष्टी में 100 से अधिक कृषक उपस्थित रहे जिनको की जलपान आदि की व्यवस्था कृषि विभाग द्वारा की गई।

Comments