अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के अवसर पर छोटी तकिया में आयोजित हुई संगोष्ठी

अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के अवसर पर छोटी तकिया में आयोजित हुई संगोष्ठी

बहराइच 

 अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के अवसर पर मदरसा जामिया गाजिया मसूदुल उलूम, छोटी तकिया, बहराइच में आयोजित संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए

जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने कहा कि अल्पसंख्यक अधिकार दिवस को जागरूकता दिवस के रूप में मनाये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान में सभी नागरिकों को समानता का अधिकार प्राप्त है

परन्तु शिक्षा और जागरूकता की कमी के कारण सभी लोग एक समान रूप से सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं एवं जनकल्याणकारी कार्यक्रमों का लाभ नहीं उठा पाते हैं।
जिलाधिकारी ने कहा कि विकास की पहली सीढ़ी शिक्षा है। शिक्षा से दूर रह कर कोई भी व्यक्ति या समाज आत्मनिर्भर नहीं हो सकता है। आर्थिक रूप से समृद्ध संसार के सभी राष्ट्रों की साक्षरता दर शत-प्रतिशत है। जिलाधिकारी ने अल्पसंख्यक समुदाय के जिम्मेदार लोगों का आहवान्ह किया कि समाज को नेतृत्व प्रदान करते हुए शिक्षा, स्वास्थ्य एवं कौशल के क्षेत्र में पिछड़े व्यक्तियों को आगे लायें, ताकि ऐसे लोग भी समाज की मुख्यधारा से जुड़ सकें। उन्होंने कहा कि तकनीक आधारित युग में लोगों का मात्र शिक्षित होना काफी नहीं है, किसी भी क्षेत्र में आगे आने के लिए लोगों को शिक्षा के साथ-साथ अपना कौशल विकास भी करना होगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि संसार के सभी मज़हब अपने अनुयायियों को अच्छी बात का ज्ञान देते हैं। उन्होंने कहा कि हम सब की जिम्मेदारी है कि धर्म की अच्छी बातों पर अमल करते हुए स्वयं में सुधार लाते हुए बेहतर समाज की स्थापना में अपना योगदान दें। जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों विशेषकर अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मगुरूओं से अपील की कि विभिन्न प्रकार के टीकाकरण अभियान के प्रति समाज में फैली भ्रांतियों को दूर करने में सहयोग प्रदान करें। उन्होंने कहा कि टीकाकरण अभियान के दौरान आपके बच्चों को लगाये जाने वाले टीके पूरी तरह से सुरक्षित एवं प्रमाणित हैं। टीके से आच्छादित बच्चे विभिन्न प्रकार की जानलेवा बीमारियों से पूर्णतया सुरक्षित हो जाते हैं।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी डा. ए.के. पाण्डेय ने शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए लोगों से अपील की कि मिजिल्स-रूबेला टीकाकरण अभियान के दौरान अपने 09 माह से 15 वर्ष आयु तक के सभी बच्चों का टीकाकरण अवश्य करायें। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी विजय कुमार मिश्रा ने अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से संचालित विभागीय योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की।

गोष्ठी को मौलाना कमालुद्दीन, मौलाना मुसाफ, मौलाना शमीम अहमद, मौलाना इमामुद्दीन सहित अन्य वक्ताओं ने भी सम्बोधित किया।


कार्यक्रम का संचालन शब्बीर मसऊदी ने किया। इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अजीत चन्द्रा, सरदार मोहन सिंह, मदरसा जामिया गाजिया मसूदुल उलूम, छोटी तकिया के पिं्रसिपल मौलाना शमीम आलम, केयरटेकर मौलाना गुल मोहम्मद, मौलाना अनवर अली सहित अन्य मदरसों के शिक्षक, अल्पसंख्यक समुदाय के अन्य गणमान्यजन सहित बड़ी संख्या में छात्र मौजूद रहे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments