जिलाधिकारी ने की पोषण मिशन कार्यक्रम की समीक्षा

जिलाधिकारी ने की पोषण मिशन कार्यक्रम की समीक्षा

गलत आंकड़ों व बिना तैयारी के साथ बैठक कराने पर डीएम ने दिया डीपीओ को चेतावनी

 

अमेठी।  जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय में पोषण मिशन कार्यक्रम की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा गलत आकडों व बिना किसी तैयारी के बैठक कराने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी सरोजनी देवी को चेतावनी दिया।

नवजात शिशु व कुपोषित बच्चों के घरों पर एक बार मासिक भ्रमण कार्यक्रम में ब्लाक शाहगढ़ जनपद में सबसे कम रहा। किशोरियों को नीली आयरन की गोली वितरण कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने पाया कि ब्लॉक भादर में 61 किशोरियों के साथ सापेक्ष 3172 गोलियों का वितरण किया गया वहीं ब्लॉक गौरीगंज में 64 के सापेक्ष 64 गोलियों का वितरण किया गया, जिस पर जिलाधिकारी ने ब्लॉक भादर में गलत आंकड़ों की जानकारी जिला कार्यक्रम अधिकारी से देने को कहा, जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया।

 वहीं मासिक सुधार कार्यक्रम में ब्लॉक गौरीगंज में 12574, अमेठी 1095 जबकि भेटुवा में 700 आंकड़े दर्शाए गए थे। इस कार्यक्रम में भी जिलाधिकारी द्वारा पूछे जाने पर डीपीओ द्वारा संतोषजनक उत्तर नहीं दिया गया। गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच के संबंध में ब्लॉक बहादुरपुर में कुल गर्भवती महिलाएं 3032 के सापेक्ष 692 महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच कराई गई, वही ब्लॉक शुकुल बाजार में 2111 के सापेक्ष मात्र 141 महिलाओं की प्रसव पूर्व जांच कराई गई। कार्यक्रम अधिकारी द्वारा इसका भी संतोषजनक उत्तर नहीं दिया गया। जिस पर जिलाधिकारी ने बिना पूर्व तैयारी के गलत आंकड़ों के साथ बैठक कराने पर जिला कार्यक्रम अधिकारी सरोजनी देवी को चेतावनी देते हुए बैठक स्थगित करने के साथ दोबारा बैठक कराने का निर्देश दिया। उन्होंने सबसे खराब प्रगति वाले ब्लाक शाहगढ़ के सीडीपीओ को आरोप पत्र गठित करते हुए विभागीय कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आरएम श्रीवास्तव, जिला पूर्ति अधिकारी संजय कुमार सहित संबंधित मौजूद रहे।

Comments