अंसारी मेडिकल स्टोर की आड़ में चल रही अवैध डाक्टरी की दूकान

अंसारी मेडिकल स्टोर की आड़ में चल रही अवैध डाक्टरी की दूकान

अंसारी मेडिकल स्टोर की आड़ में चल रही अवैध डाक्टरी की दूकान

संवाददाता- नरेश गुप्ता


सुधौली, सीतापुर
आपको बताते चले सिधौली शहर के मनवा चौकी  पर स्थित अंसारी मेडिकल स्टोर में अवैध रूप से सभी बीमारियो का इलाज किया जाता है, मेडिकल स्टोर की आड़ में अवैध रूप से क्लीनिक चलाकर जनमानस के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। डाक्टर शहर में बैठकर एक मेडिकल स्टोर पर अपनी दुकान में सर्जिकल मशीनो कि जगह BP चेक करने वाली मसीन लगाकर लोगों को ठगने का काम कर रहे हैं। लगाए गए बोर्ड पर किसी भी प्रकार का कोई भी रजिस्ट्रेशन नंबर या किसी अस्पाताल से सम्ब्रध है नहीं लिखा है। जिसे देखकर साफ़ अंदाजा लगाया जा सकता है की मेडिकल स्टोर की आड़ में बिना रजिस्ट्रेशन के डाक्टर अपनी दूकान चला रहे है। इस मामले की तह तक जाते हुए जब बाहर बैठे लोगो से बात की तो लोगो ने बताया कि वे पिछले कई सालों से वे यही इलाज कराते है  बोर्ड पर लिखे नंबर पर संपर्क किया तो पता चला कि वह नंबर अंसारी मेडिकल स्टोर का है जहां पर प्रत्येक शनिवार से रविवार को  
मेडिकल संचालक अंसारी ही डॉक्टर  बनकर कर सुबह से शाम तक मरीजों को देखने का काम करते हैं।  जानकारों ने बताया कि कोई भी मेडिकल स्टोर  संचालज डॉक्टरी की प्रेक्टिस नहीं कर सकता है साथ ही  यह भी बताया कि यदि मेडिकल स्टोर के पास स्पेस है तो योग्य डॉक्टर किसी भी कमरे में बैठकर अपनी दुकान चला सकता है और मरीजों को देख सकता है। यदि  कोई भी मेडिकल स्टोर संचालक स्टोर पर बैठकर प्रैक्टिस करता है तो उसका  जिम्मेदार वह स्वयम है और कोई भी मेडिकल का लाइसेंस लेकर डॉक्टर की प्रैक्टिस नहीं कर सक्ता यदि ऐसा कर रहा है तो वह गलत है वही सीतापुर के ही मछरेहटा छेत्र मे ऐसे अवैध क्लिनिको पर संबंधित सीएचसी द्वारा ठोस कदम उठाए जा रहे हैं वही सिधौली सी, एच,सी, छेत्र मे बे खौफ ऐसे अवैध कारोबार फल फूल रहे है

 

मछरेहटा क्षेत्र  चला रहा झोलाछाप डाक्टरो के खिलाफ  अभियान

मछरेहटा छेत्र मे जिंदगी से खिलवाड़ करने वालो को बक्सा नही जायेगा डा0 कमलेश कुमार
मछरेहटा, सीतापुर । सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारी डा0 कमलेश कुमार के कुशल नेतृत्व में कस्बे में झोलाछाप डाक्टरों पर लगातार छापेमारी की जा रहा है जिसके चलते कस्बे विभिन्न अबैध क्लीनिकों पर छापेमारी कर सीज करने की कार्यवाही की गई। डा0 कमलेश कुमार ने बताया कि जिंदगी से खिलवाड़ करने झोलाछाप फर्जी डाक्टरों को बक्सा नही जायेगा । छापेमारी में स्वस्थ्य विभाग की टीम के साथ इंस्पेक्टर रामनरेश यादव मयफोर्स के मौजूद रहे।
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद प्रभारी डा0 कमलेश कुमार के दिशानिर्देश पर कस्बे के विभिन्न क्लीनिक जो अबैध रूप से संचालित हो रहे थे अपना पंजीकरण व समुचित डिग्री न दिखा सके। सभी अबैध क्लीनिकों को नोटिस जा कर स्पस्टीकरण मांग गया है ।डा0 कमलेश कुमार ने बताया कि यह अभियान जारी रहेगा किसी को भी बक्सा नही जायेगा। मिली जानकारी के अनुसार कस्बे गोविंद , बंगाली, कौशल कुमार, रामऔतार आदि के क्लीनिकों में चेकिंग अभियान चलाया गया ।


मछरेहटा क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा बड़े स्तर पर छापामार कर्रवाई की गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई करते हुए कई अवैध रूप से चल रहे क्लीनिकों को सील किया। डॉक्टरों की इस कार्रवाई से कस्बे में हड़कंप मच गया

मछरेहटा थाना क्षेत्र में विगत दिनों से लगातार स्वास्थ्य विभाग को शिकायत प्राप्त हो रही थी। उन्हीं शिकायतों का संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मछरेहटा क्षेत्र में छापामार कार्रवाई शुरू की। छापामार कार्रवाई से अवैध रूप से चल रहे क्लीनिक और झोलाछाप डॉक्टरों में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग की कार्रवाई को देखते हुए झोलाछाप डॉक्टर अपने क्लीनिक छोड़ भाग खड़े हुए। कई क्लीनिकों पर झोलाछाप डॉक्टरों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने धर दबोचा। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब रजिस्ट्रेशन के अलावा अन्य कागजात मांगे यह झोलाछाप डॉक्टर रजिस्ट्रेशन के साथ-साथ कोई भी कागज दिखने मे असमर्थ रहे

Comments