के एम शुगर मिल मसोधा के मैनेजर  की उदासीनता के कारण मिल कर्मचारी बेलगाम

के एम शुगर मिल मसोधा के मैनेजर  की उदासीनता के कारण मिल कर्मचारी बेलगाम

तारुन-अयोध्या।ओम प्रकाश वर्मा 

के एम शुगर मिल मसोधा के मैनेजर  की उदासीनता के कारण मिल कर्मचारी बेलगाम बता दें कि गन्ना सर्वे के दौरान मिल कर्मचारियों द्वारा सुविधा शुल्क लेकर सर्वे का कार्य किया गया है जो किसान पैसा देने में सक्षम रहा है उसकी तो सर्वे फीडिंग मूल्यांकन के आधार पर सही की गई है

वहीं पर जो किसान सर्वे कर्मचारियों की जेबों को गरम नहीं कर सका तो उनके गन्ने का सर्वे गलत ढंग से करके पौधा को पेडी़और पेडी़ को पौधा में तब्दील कर दिया गया है जिससे उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है क्षेत्र के महान मऊ  भवानीपुर गांव के  कुछ किसानों ने मुख्यमंत्री सेऑनलाइन शिकायत करते हुए 1076 दूरभाष पर शिकायत दर्ज करायी है।
आरोप लगाया है कि मिल मैनेजर व कर्मचारियों की साठगांठ से क्षेत्र के किसानों को सामान्य व रिजेक्ट परिजात के गन्ने की पर्ची बहुत कम दी जा रही है जिससे किसान का गन्ना खेतों में खड़ा है किसान अपनी अग्रिम गेहूं की बुवाई नहीं कर पा रहा है जिले के गन्ना अधिकारी भी मिल प्रबंधक के प्रभाव में आकर कार्य कर रहे हैं वह किसान की समस्याओं को नजरअंदाज कर रहे हैं जिसके कारण किसानों को अपना गन्ना बेचने के लिए नाको चने चबाना पड़ रहा है जिसका खामियाजा सरकार को आगामी 2019 के चुनाव में भुगतना पड़ेगा|

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Loading...
Loading...

Comments