साइबर लाइब्रेरी का लोकार्पण किया कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने

साइबर लाइब्रेरी का लोकार्पण किया कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने

अयोध्या 

डॉ राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय का केंद्रीय पुस्तकालय अब और हाईटेक हो गया.

आज कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने शोध छात्रों के लिए साइबर कक्ष का लोकार्पण किया.


मालूम हो कि महामना मदन मोहन मालवीय केंद्रीय पुस्तकालय को हाईटेक बनाया जा रहा है.

शोधगंगा पर विश्वविद्यालय के लगभग 6000 शोध अपलोड होने हैं, जिसमें से 3000 से ज्यादा शोध पत्र लोड किए जा चुके हैं.

डॉ राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय इस मामले में देश के टॉप टेन विश्वविद्यालयों में शामिल हो गया है.

विश्वविद्यालय के शोध छात्रों को अब 30 घंटे लाइब्रेरी में अनिवार्य कर दिया गया. 


शोध छात्रों की सुविधा के लिए एक अलग कक्ष का निर्माण किया गया है जिसमें 15 कंप्यूटर लगाए गए हैं और इन पर शोध छात्रों को देश दुनिया के सभी जनरल उपलब्ध रहेंगे.


साइबर कक्ष का लोकार्पण करने के बाद कुलपति आचार्य मनोज दीक्षित ने कहा कि नये सत्र में शैक्षणिक, खेलकूद, सांस्कृतिक, सामाजिक गतिविधियों के लिए विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की कमी नहीं होने दी जाएगी.


इस अवसर प्रति कुलपति प्रोफेसर सचिदानंद शुक्ला, कार्यपरिषद सदस्य ओमप्रकाश सिंह, लाइब्रेरियन डॉक्टर आरके सिंह, प्रोफेसर मृदुला मिश्रा, सहायक अभियंता आरके सिंह, प्रवेश समन्वयक हिमांशु सिंह, नरेश चौधरी, डॉक्टर विनोद चौधरी, आशीष मिश्रा, डॉक्टर अनिल यादव, इंजीनियर पारितोष त्रिपाठी, इंजिनियर रमेश मिश्रा, अरुण सिंह आदि उपस्थित थे.

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments