पुलिस की मोटी कमाई का जरिया बना अवैध कच्ची शराब

पुलिस की मोटी कमाई का जरिया बना अवैध कच्ची शराब

पुलिस की मोटी कमाई का जरिया बनी अवैध कच्ची शराब     

      "आचार संहिता के बावजूद भी शराब कारोबारियों पर नहीं पड़ा कोई असर "              

                     रायबरेली जिले में अवैध कच्ची जहरीली शराब का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है

 

जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों के पुलिस की सरपरस्ती में अवैध कच्ची जहरीली शराब कारोबारियों पर हौसले इतने बुलंद है कि दिनदहाड़े हजारों लीटर कच्ची जहरीली शराब पिलाकर लोगों की जिंदगी बर्बाद कर रहे हैं

कच्ची जहरीली शराब पर अंकुश लगाने के लिए आबकारी विभाग की टीम आए दिन दबिश के बावजूद भी क्षेत्रीय खाकी की मिलीभगत के चलते क्षेत्र में कच्ची जहरीली शराब कारोबारी क्षेत्र में शराब की भठ्ठिया धधकते देखी जा सकते हैं क्षेत्रीय पुलिस आए दिन एक-दो शराब तस्करों को पकड़ कर साधारण खानापूर्ति करके उन्हें छोड़ देती है

बछरावां थाना क्षेत्र के थुलेण्डी रामपुर मोहिद्दीन पुर हरदोई परसादी का पुरवा हाजीपुर बख्तावर खेड़ा खेड़ा करमगंज चोखे का पुरवा कुंडौली कसरावाँ पश्चिम गांव पासी टूसी उफरापुर टेरा बरौला ठकुराइन खेड़ा सुदौली पस्तौर इचौली बन्नवा बगाही आज गांव में पुलिस की नाक के नीचे दिनदहाड़े शराब बिकती देखी जा सकती है खुलेआम बिक रही शराब कारोबारियों तक पुलिस के आला अधिकारी उन पर अंकुश लगाने से कतराते नजर आ रहे हैं

इसी के चलते क्षेत्र में सदियों से जहरीली कच्ची शराब का कारोबार फल-फूल रहा है शिवगढ़ थाना क्षेत्र में कच्ची शराब के सबसे बड़े कारोबारी उपरोक्त गांव में अवैध कच्ची जहरीली शराब कारोबार तो सदियों से फल-फूल रहा है लेकिन थाना शिवगढ़ क्षेत्र बछरावां थाना क्षेत्र से दो कदम और आगे हैं क्षेत्र के सबसे बड़े शराब कारोबारी शिवगढ़ थाना क्षेत्र से ही आते हैं लेकिन इन शराब कारोबारियों पर पुलिस अंकुश नहीं लगाती क्योंकि इन्हीं शराब कारोबारियों से पुलिस की जेब गरम रहती है

आबकारी विभाग आए दिन दबिश देकर सैकड़ों लीटर शराब व लहन नष्ट करके शराब कारोबार पर अंकुश लगाने की कोशिश करती है लेकिन क्षेत्रीय खाकी की उदासीनता के चलते कारोबारी अपने कारोबार में मशगूल देखे जा सकते हैं शिवगढ़ थाना क्षेत्र के भौसी रामपुर बोधी खेड़ा गंज बाजार नया पुरवा हरिहरपुर आदि गांव में दिन दहाड़े शराब की घटिया धड़कते देखी जा सकती है ।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments