शादी में प्लास्टिक का प्रयोग न करके पेश की मिसाल

शादी में प्लास्टिक का प्रयोग न करके पेश की मिसाल

बद्दी (पंकज गोल्डी)-

दून विस क्षेत्र की नंदपुरी पंचायत ने प्लास्टिक पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। पंचायत के लोगों ने विवाह समारोह के दौरान भी प्लास्टिक के बने सामान का प्रयोग न करने का भी मन बना लिया है। 

शनिवार को पंचायत के माजरू गांव में एक विवाह में प्लास्टिक से बने सामान का पूरी तरह से बहिष्कार किया गया। इस विवाह की पूरे बीबीएन में चर्चा हो रही है। लोग आने वाले समय में इसी तरह से विवाह समारोह करने की सोच रहे है।

शुक्रवार को पंचायत के जोगिंदर सिंह के बेटे बलजीत सिंह का विवाह था। विवाह को सभी लोगों को ऊपरी पहाड़ी क्षेत्र की तरह धाम में बैठा कर खाना खिलाया गया। खाने के लिए जमीन पर लकड़ी का एक छोटा टेबल लगाया गया।

जिसमें पर एक व्यक्ति के लिए पत्ते की बनी हुई पतल रखी जाती थी। हजारों की सं या में लोग शादी में आए और सभी लोगों ने इसी तरह खाना खाया। पानी व चाय स्टील के गलास में बांटा गई।

पूरे विवाह में पालिथीन व प्लास्टि का प्रयोग नहीं हुआ। बीडीसी के पूर्व उपाध्यक्ष व भाजपा नेता बलविंद्र ठाकुर, जगतार सिंह नेगी, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के युवा जिलाध्यक्ष गुरपाल चंदेल, गुरदेव चंदेल, निशांत ठाकुर ने कहा कि प्लास्टिक का प्रयोग न करके बलजीत सिंह ने पूरे बीबीएन में एक मिसाल पेश की है।

पर्यावरण प्रेमी बलजीत सिंह की देखादेखी में अब अन्य लोग भी अनुसरण करेंगे। वहीं कांग्रेस के प्रदेश सचिव चौधरी मदन लाल ने भी बलजीत सिंह के इस विवाह की तारिफ करते हुए कहा कि ऐसा करना काफी कठिन था लेकिन विवाह में किसी प्रकार की कोई कमी किसी भी व्यक्ति को नजर नहीं आई और धाम में बैठ कर भोजन करने के आनंद ही कुछ और था।

बद्दी के कृष्ण कौशल ने बताया कि जो खाना धाम में बैठ कर खाया जाता है वह खड़े हो कर खाना काफी कठिन है और पतल पर खाने की कोईऔर बात है। पंचायत के प्रधान लच्छी राम ने बताया कि पंचायत ने यह पूरी पंचायत को प्लास्टिक व पालिथीन मुक्त करने का संकल्प लिया है। और अब शादी में भी लोगों ने इसे पूरी तरह से नकारने का मन बनाया है।

Comments