जिला निर्वाचन अधिकारी के सामने बहुत बड़ी चुनौती

जिला निर्वाचन अधिकारी के सामने बहुत बड़ी चुनौती

हल्दी बलिया शिक्षा क्षेत्र बेलहरी अंतगर्त प्राथमिक विद्यालय बाबूबेल का भवन मंगलवार को सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी बेलहरी ने खड़े होकर जेसीबी मशीन से गिरवा दिया है।जिसके कारण जर्जर कमरे के साथ ही दो दुरुस्त कमरे भी तोड़ दिया गया।यहां पठन- पाठन की व्यवस्था के साथ ही गांव का बूथ कहाँ बनेगा यह भी जिला निर्वाचन अधिकारी के सामने बहुत बड़ी चुनौती सामने आ गई है।

 बताया जाता है कि ग्राम प्रधान बघौच संतोष सिंह ने जिलाधिकारी बलिया को पत्रक देकर छह अप्रैल2019को अवगत कराया था कि प्राथमिक विद्यालय बाबूबेल में दो भवन काफी जर्जर है।जहाँ19मई को मतदान होना है।जिलाधिकारी बलिया ने संज्ञान में लेते हुए एसडीएम सदर को मौके पर भेजा।एसडीएम सदर ने मौके पर पाया कि दो जर्जर भवन के साथ ही दो दुरुस्त कमरे भी है।जिनमें एक आफिस व एक में बच्चे पढ़ते हैं।मंगलवार के दिन एसडीआई बेलहरी नरेन्द्र कुमार ने अपनी मौजूदगी में दो जर्जर भवन के साथ ही दोनों दुरुस्त कमरे भी जेसीबी से तुडवा दिया।

नतीजा मतदान होना तो दूर बच्चों को पठन पाठन के लिए भी दुसरे के मकान का सहारा लेना पड रहा है।ऐसे में यह सवाल उठता है कि क्या नियत समय में भवन बन पायेगा या मतदान स्थल बदला जायेगा।क्योंकि खेती बारी का समय होने के कारण मजदूर मिलना मुश्किल नजर आ रहा है।विद्यालय के बच्चे कितने दिन तक दुसरे के मकान में पठान पाठन का कार्य करेंगे।

ग्राम सभा बघौच के ग्रामीणों में आम चर्चा है कि दो जर्जर भवन के साथ अच्छे भवन को तोड़ने की क्या आवश्यकता पड़ गई।सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी बेलहरी को जेसीबी से तुड़वाने का अधिकार किस सक्षम अधिकारी ने दिया।दो दुरुस्त भवन को तोड़ते समय जेसीबी की चपेट में आया पड़ोसी शंभूनाथ सिंह का निजी शौचालय कैसे बनेगा और किस मद से बनेगा इसका जबाब सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी ही दे सकते हैं।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments