योजना का काम स्वयं ग्राम प्रधान पति व ग्राम पंचायत सचिव द्वारा कराए जाने से ग्रामीणों आक्रोष व्याप्त

योजना का काम स्वयं ग्राम प्रधान पति व ग्राम पंचायत सचिव द्वारा कराए जाने से ग्रामीणों आक्रोष व्याप्त

स्वतंत्र प्रभात बलरामपुर

सादुल्लाह नगर/बलरामपुर 

ग्रामीणों को मिलने वाली आवास व शौचालय योजना का काम स्वयं ग्राम प्रधान पति व ग्राम पंचायत सचिव द्वारा कराए जाने से ग्रामीणों को योजनाओं का अपेक्षित पूरा लाभ नहीं मिला। जिसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है ग्रामीणों का आरोप है। कि प्रधान व सचिव योजनाओं के नाम पर पैसा कमाने के लिए घटिया गुणवत्ता का आधा अधूरा काम कराते हैं।

विकास खंड रेहरा बाज़ार के ग्राम पंचायत गूमा फातमा जोत के नसीबुन्निसा पत्नी हमीद व राबीया पत्नी करीमुल्लाह को पूर्ववर्ती सपा शासन में लोहिया आवास का लाभ मिला था इस हेतु लाभार्थीयों के खाते में 3.35लाख रूपया आया था। राबिया व नसीबुन्निसा ने बताया कि आवास के निर्माण हेतु पैसा निकालवाने के लिए यह धमकी देकर कि स्वयं आवास निर्माण कराओगी तो घर खेत सब नीलाम हो जाएगा प्रधान पति साथ में बैंक जाते थे।

हम लोग पीछे खड़े रहते प्रधान पति स्वयं विडृआल भरते अंगूठा लगवा लेते बैंक कैशियर भुगतान प्रधान पति को दे देते थे आवास निर्माण के लिए प्रधान द्वारा निर्माण सामाग्री के नाम पर ईंट, सीमेंट, रेत गिरवा दिया गया आवास निर्माण में पूरे परिवार ने मजदूरों के साथ मिलकर मजदूरी की आधा अधूरा काम करके प्रधान चले गए। खिड़की ,दरवाजे ,रंगाई पुताई खुद कराना पड़ा इतना ही नहीं घर में शौचालय तक नहीं बनवाया गया सोलर, लाइट पंख आदि नहीं  लगया गया आवास निर्माण का पूरा पैसा प्रधान पति ने निकाल लिया उक्त के विरूद्ध तहसील दिवस प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की माँग की लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई।

लोहिया आवास लाभार्थीयों ने सोलर लाईट पंखा लाईट लगवाने माँग की जुबेर अहमद, गुलाम हुसैन,अकमल खान, अकमल खाँ,अफजल खाँ, शहाबुददीन खाँ,नसरुज्जमा खाँ आदि। ग्रामीणों ने बताया कि शौचालय निर्माण हेतु मिलने वाली प्रोत्साहन राशि लाभार्थीयों को न देकर ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सचिव द्वारा स्वयं पीले ईंट से शौचालय निर्माण कराया गया है।

जो कभी भी भरभरा कर गिर सकता है। जुबेर अहमद ने बताया कि शौचालय प्रोत्साहन राशि लेकर स्वयं के पैसे लगाकर मजबूत टिकाऊ शौचालय बनवाना चाहता था। लेकिन प्रोत्साहन राशि न देकर ग्राम प्रधान व सचिव ने पीले ईंट का शौचालय बनवा दिया ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से प्रधान व सचिव के मनमानी पर अंकुश लगाने व शौचालय व आवास निर्माण के मानकों व गुणवत्ता की जांच कर कार्यवाही की माँग की है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments