ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि व डॉक्टर के विवाद में चौथे दिन भी स्वास्थ्य सेवाएं ठप्प

ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि व डॉक्टर के विवाद में चौथे दिन भी स्वास्थ्य सेवाएं ठप्प

स्वतंत्र प्रभात / कौशल किशोर

तिंदवारी-बाँदा । ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि और पीएचसी चिकित्साधिकारी के बीच हुई मारपीट में चौथे दिन भी सभी स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल रही। और दोपहर बाद जनहित में इमरजेंसी सेवाएं शुरू हो गयी। वही ओपीडी में ताला पड़ा रहा।

सोमवार को पीएचसी में चिकित्सकों व कर्मियों ने एकत्र होकर काली पट्टी बांधकर शांतिपूर्ण तरीके से नारे बाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन कर अनिश्चित कालीन धरने पर बैठ गए।और मांग की जब तक उनके चिकित्सक डॉ देव पर प्राणघातक हमला करने वाले ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि वरुण यादव व उसके साथियों की गिरफ्तारी नही होती और जब तक उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया नही कराई जाती तब तक के लिए अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।

विरोध में पीएचसी व इसके अधीन आने वाले नये प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र परसौड़ा, पैलानी, मदनपुर व पिपरगवां की स्वास्थ्य सेवाएं भी बन्द रही। हालांकि सीएमओ ने पीएचसी कर्मियों को काम पर लौटने के निर्देश दिये हैं। लेकिन कर्मियों का कहना है कि पुलिस सुरक्षा उपलब्ध कराई जाय इसके बाद ही सेवाएं शुरू की जाएंगी । एम्बुलेंस की गाड़ियां भी खड़ी रही। आज भी सैकड़ों मरीज़ वापस हुए।

धरने में डॉ अमर , डॉ पंकज, डॉ रूपेश त्रिपाठी , डॉ सतीश , फार्मासिस्ट असगर खान, मनीष तिवारी, आकाश , ब्रजेश यादव , लाल बहादुर, विमल , शोभित,सोनू पखारे एवं महिला स्वास्थ्य कर्मियों में डॉ सुमन , स्टॉफ नर्स में प्रियंका गुप्ता, नूतन, राजेश्वरी, सुनीता यादव , अंकिता , उमा गुप्ता, संध्या श्रीवास्तव , आशा साहू, मीना साहू आदि आधा सैकड़ा स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित रहे। दोपहर बाद शुरू हुई इमरजेंसी ड्यूटी में डॉ सतीश, फार्मासिस्ट असगर व सोनू पाखरे रहे। डॉ सतीश ने बताया कि इमरजेंसी सेवाएं शुरू कर दी गई हैं, हड़ताल अनिश्चित कालीन जारी रहेंगी।

उधर मारपीट के मुख्य दोषी वरुण यादव को गिरफ्तारी को लेकर आला अधिकारियों के आदेश पर क्राइम ब्रांच बाँदा ने सुबह ग्राम प्रधान जसईपुर व प्रधान संघ अध्यक्ष ज्ञान सिंह यादव को उनके घर से पूंछतांछ के लिए थाने ले आई । प्रधान संघ अध्यक्ष ज्ञान सिंह के पक्ष से कई प्रधान थाने में  एकत्र हो गए। वही एसएसआई रामबाबू यादव ने बताया कि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments