मात्र पैंतीस हजार रुपये के ऋण अदायगी के लिए बैंक ने खेत नीलामी का भेजा नोटिस

मात्र पैंतीस हजार रुपये के ऋण अदायगी के लिए बैंक ने खेत नीलामी का भेजा नोटिस

टिकैतनगर-बाराबंकी
उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक शाखा रामसनेहीघाट से पैंतालीस हजार रुपये की ऋण अदायगी न कर पाने के कारण बैक द्वारा गरीब किसान के विरुद्ध उसकी एक एकड़ से भी कम जमीन नीलाम किए जाने की नोटिस भेजे जाने से परेशान

किसान की पत्नी ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र भेजकर सुरक्षा की गुहार लगाई है।और कहा है जमीन नीलाम होने पर उसकी तथा परिवार की मौत की जिम्मेदारी शासन प्रशासन तथा बैंक की होगी।

मामला थाना टिकैतनगर क्षेत्र के ग्राम बनगाँवा का हैं। यहाँ की निवासिनी अत्यंत गरीब महिला सुनीता देवी पत्नी रामफेर का आरोप है कि कुछ वर्ष पूर्व उसके पति ने उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक शाखा रामसनेही घाट से पशुपालन हेतु पैंतालीस हजार रुपये का ऋण लिया था

और किश्तों में अट्ठारह हजार रुपये जमा भी किए थे तत्पश्चात उसके पति व बच्चो की तबियत खराब हो गई जिससे बैंक ऋण अदायगी नहीं हो सकी और जब उसके पति बीमारी से जूझ कर थोड़ा चलने फिरने के काबिल हुए तो

घर में उत्पन्न आर्थिक परेशानी के कारण रोजी रोटी की तलाश में शहर गये हुए हैं। पीड़िता का आरोप है कि वह घर पर बच्चो के साथ मजदूरी करके किसी तरह से गुजर बसर कर रही है

लेकिन उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक शाखा रामसनेही घाट द्वारा उसे नोटिस भेजकर कहा गया है कि यदि एक माह की अवधि के भीतर बैक का ऋण जमा नहीं किया तो उसकी कृषि जमीन गाटा संख्या 419 रकबा 0.311 हेक्टेयर (एक एकड़) से कम नीलाम करके बैंक ऋण की अदायगी की जाएगी।

बैंक की नीलामी नोटिस मिलने के बाद से परेशान महिला दर दर भटक रही है। पीड़िता का आरोप है कि उसकी गरीबी इतनी अधिक है कि किसी तरह बच्चो को रोटी खिला पाती है

ऊपर से बीमारी से पूरा परिवार परेशान है और बैंक द्वारा उसकी एक एकड़ से भी कम कृषि जमीन नीलाम करने की धमकी दी जा रही है और यदि उसकी कृषि जमीन नीलाम हो गई तो वह तथा उसके बच्चो को भूखों मरने की नौबत आ जाएगी।

और ऐसे में उसके पास पति व बच्चो समेत मौत को गले लगाने के सिवा कोई विकल्प नहीं होगा जिसकी समस्त ज़िम्मेदारी शासन प्रशासन तथा बैंक की होगी।

सबसे बड़ी बात यह है कि शासन ने एक हेक्टेयर से कम जमीन वाले किसानों की कृषि जमीन की नीलामी पर रोक लगा रखी है लेकिन उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक शाखा रामसनेही घाट द्वारा एक एकड़ से भी कम जमीन नीलाम करने की नोटिस जारी कर दी गयी जो समझ से परे है।

पीड़िता ने जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र भेजकर सुरक्षा की गुहार लगाई है।

Comments