दो दिवसीय तहसील स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

दो दिवसीय तहसील स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

जिला ब्यूरो चीफ प्रवीण तिवारी के साथ शिवशंकर तिवारी की रिपोर्ट

रामसनेहीघाट,बाराबंकी-

स्थानीय तहसील क्षेत्र में माध्यमिक विद्यालयों की दो दिवसीय तहसील स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आयोजन पटेल पंचायती इंटर कॉलेज रामसनेहीघाट के मैदान पर आयोजित किया गया,

जिसमें तहसील क्षेत्र के सभी विद्यालयों के बच्चों ने प्रतिभाग किया।
खेल प्रतियोगिता का उद्घाटन पटेल पंचायती इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य श्याम नारायण एवं नोडल अधिकारी राष्ट्रीय इंटर कॉलेज अहमदपुर के प्रधानाचार्य बृजेश सिंह परिहार ने संयुक्त रूप से किया।

खेलकूद प्रतियोगिता के प्रथम दिन बालिका वर्ग की 100 मीटर दौड़ में रेखा चौहान सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज सुमेरगंज ने प्रथम स्थान हासिल किया जबकि हरि प्रसाद इंटर कॉलेज दरियाबाद की छात्रा सरिता वर्मा दूसरे स्थान पर रही।

सीनियर वर्ग में ग्रामीण बालिका इंटर कॉलेज की छात्रा गुड़िया ने प्रथम एवं इसी विद्यालय की पल्लवी ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया।

सीनियर वर्ग बालक दौड़ प्रतियोगिता 400 मीटर में लाल बहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज दरियाबाद के छात्र जयकुमार ने प्रथम जबकि जूनियर वर्ग दौड़ प्रतियोगिता में बीपी इंटर कॉलेज के छात्र सुशील कुमार ने प्रथम और सब जूनियर में पटेल पंचायती इंटर कॉलेज के अमरेश कुमार ने पहला स्थान हासिल किया।

प्रतियोगिता के दौरान बालक सीनियर वर्ग की 15 सौ मीटर दौड़ में पटेल पंचायती इंटर कॉलेज के छात्र अभिषेक वर्मा ने प्रथम, जेपीसी कॉलेज के अमन ने जूनियर वर्ग की दौड़ में पहला स्थान हासिल किया।

इसी तरह बालिका सीनियर वर्ग 400 मीटर दौड़ में ग्रामीण बालिका इंटर कॉलेज की वर्षा को प्रथम जबकि जूनियर वर्ग में क्षमा यादव राम सेवक यादव इंटर कॉलेज मालिनपुर की छात्रा एवं सब जूनियर में सरस्वती विद्या मंदिर सुमेरगंज की रेखा चौहान ने पहला स्थान प्राप्त कर विद्यालय का दबदबा बनाए रखा।

गोला फेंक प्रतियोगिता में सीनियर बालक में मोहम्मद जीशान एंग्लो वैदिक इंटर कॉलेज अलियाबाद को प्रथम, जबकि सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज सुमेरगंज के छात्र अनुज मिश्र ने दूसरा स्थान हासिल किया।

लाल बहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज दरियाबाद के छात्र जयकुमार को तृतीय स्थान मिला।

खेलकूद प्रतियोगिता के आयोजन में व्यायाम शिक्षक प्रेमचंद, समीर चंद, कामरान सहित अन्य शिक्षकों का विशेष योगदान रहा।

Comments