बीसलपुर के गांव चुर्रासकतपुर में पंचायत विभाग की अनदेखी से गांव में फैली पड़ी है गंदगी

बीसलपुर के गांव चुर्रासकतपुर में पंचायत विभाग की अनदेखी से गांव में फैली पड़ी है गंदगी
  • दो सफाई कर्मचारियों की तैनाती होने के बावजूद भी नहीं की जाती सफाई
  • भड़के ग्रामीणों ने पंचायत विभाग के खिलाफ किया प्रदर्शन, डीएम से की कार्रवाई किए जाने की मांग

बीसलपुरः-

गांव चुर्रासकतपुर में इस समय दो सफाई कर्मचारियों की तैनाती है, लेकिन गांव में एक भी सफाई कर्मचारी सफाई करने नहीं जाते। जिससे गांव में भयंकर गंदगी फैली हुई है। ग्रामीणों ने कई बार उच्चाधिकारियों को पत्र देकर गांव में सफाई कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिससे सफाई कर्मचारियों के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे हैं।

बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव चुर्रासकतपुर में पंचायत विभाग की अनदेखी के चलते गांव में भयंकर गंदगी फैली हुई है। जी हां यहां पर इस समय जहां नालियों में गंदगी पटी पड़ी है तो वहीं सड़कों पर नालियों का गंदा पानी जमा हुआ है। ग्रामीण नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं, लेकिन पंचायत विभाग व ग्राम प्रधान एवं सचिव इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।

जिससे अधिकारियों व कर्मचारियों की घोर लापरवाही सामने आती दिखाई दे रही है। बताते चलें कि गांव चुर्रासकतपुर में इस समय दो सफाई कर्मचारियों की तैनाती है और प्रत्येक माह यह सफाई कर्मचारी सरकार से समय पर वेतन तो ले रहे हैं, लेकिन गांव में सफाई करने नहीं जाते। जिससे सफाई कर्मचारियों की घोर लापरवाही उजागर होती नजर आ रही है।

बीसलपुर के गांव चुर्रासकतपुर में फैली पड़ी गंदगी व प्रदर्शन करते ग्रामीण।

कई बार ग्रामीणों ने सफाई कर्मचारियों के खिलाफ प्रदर्शन भी किया, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिससे भड़के ग्रामीणों ने पंचायत विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया तथा डीएम से गांव में फैली पड़ी गंदगी की सफाई करवाए जाने व सफाई कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में झनकार सिंह, जंडैल सिंह, रामदास, मतलब शाह, नन्हें लाल, बुधसेन, धनपाल सहित कई ग्रामीण शामिल थे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments