बीसलपुर में अयोध्या राम मंदिर मस्जिद के फैसले का जनता ने किया स्वागत

बीसलपुर में अयोध्या राम मंदिर मस्जिद के फैसले का जनता ने किया स्वागत
  • पूरे में चप्पे चप्पे पुलिस रही तैनात, एडीएम, एएसपी ने निकाला फ्लैग मार्च
  • शहर के चैराहों से लेकर गलियों तक पूरे दिन पसरा रहा सन्नाटा

बीसलपुर:- राम मंदिर के फैसले को लेकर प्रशासन अलर्ट रहा। चप्पे चप्पे शहर में पुलिस तैनात रही। वहीें एडीएम व एएसपी ने पुलिस फोर्स साथ नगर में फ्लैग मार्च निकाला। जिससे लोग सहमे दिखाई दिए। वहीं पूरे दिन शहर में सन्नाटा पसरा रहा। 

अयोध्या के राम मंदिर व बाबरी मस्जिद के फैलसे की सुनवाई के बाद पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया। स्कूल, कोचिंग व सरकारी कार्यालयों पर अवकाश घोषित किया। सुबह 10ः30 बजे राम मंदिर के फैसले की सुनवाई की गई। जिसके बाद शहर में पुलिस फोर्स चप्पे चप्पे पर तैनात कर दी गई।

पूरे दिन शहर के चैहरों से लेकर गलियों में तक सन्नाटा पसरा रहा। वहीं एडीएम अतुल कुमार एएसपी रोहित मिश्रा एसडीएम सौरभ दुबे सीओ प्रवीण मलिक कोतवाल मनीराम सिंह एसएसआई इख्तियार हुसैन ने पुलिस फोर्स के साथ नगर में पूरे दिन फ्लैग मार्च किया। जिससे लोग सहमे रहे। पुलिस की कड़ी निगेहबानी के बाद शहर में किसी भी प्रकार की कोई घटना घटित नही हो सकी। 

बीसलपुर में कोर्ट के फैसले का हिंदू व मुस्लिम समाज ने किया स्वागत राम मंदिर व बाबरी मस्जिद का सुप्रीम कोर्ट के द्वारा फैसला का इंतजार दोनों समुदाय काफी दिनों से कर रहे थे और आखिरकार परिणाम आते ही हिंदू व मुस्लिम समाज ने बीसलपुर में एकता की मिशाल कायम कर दी। कोर्ट के फैसले की दोनों समुदायाएं के लोगों ने शांति बनाए रखकर स्वागत किया।

कोर्ट ने बहुत ही सूझबूझ से लिया फैसला  राम मंदिर व बाबरी मस्जिद के बंटवारे को लेकर जहां पांच जजों ने मीटिंग कर फैसला सुनाने का काम किया। उससे साफ पता चलता है कि कोर्ट ने काफी सूझबूझ से इस फैसले की सुनवाई की। ताकि दोनो समुदायों के बीच तालमेल बना रहे और किसी भी प्रकार की घटना घटित न हो सके। वहीं दोनों समुदाय के लोगों ने फैसले को सही करार देते हुए ा बराबर का होने  गई। 

Comments