जिंदगी से नफरत करने वाले दीवाने,अपने पैसो से ये धीमा जहर खुशी खुशी खरीदते

जिंदगी से नफरत करने वाले दीवाने,अपने पैसो से ये धीमा जहर खुशी खुशी खरीदते

महंगा 

 

मिश्राजी ने पांडे जी से चलते चलते समाचार पत्रो की सुर्खियों पर वार्तालाप शुरू किया।

वह पांडे जी को बता रहे थे. सरकार ने बहुत ही सराहनीय काम किया है।

उन्होने कई युवाओ एव बुजुर्गो के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

पांडे जी ने यह सुनते ही अपने विचार रख पाते।

उससे पहले ही मिश्राजी ने कहा सरकार का यह सराहनीय कार्य ही कहा जाएगा।

जिसके कारण अब युवाओ एव बुजुर्गों का स्वास्थ्य सही रहेगा।

पांडे जी ने कहा मिश्राजी बातो को गोल गोल ना घूमाईए,

सीधा मुद्दे पर आ जाईय,

मिश्राजी ने कहा पांडे जी सरकार ने ताम्बाकू के सभी उत्पादों को महंगा कर दिया है।

चाहे सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू, गुटखा, खैनी हो या जरदा।

अब तंबाकू समान के दीवानों को अपनी अपनी प्रेमिका को पीने, चूसने, रगड़ने, ठोकने और स्वाद लेने के लिए अपनी जेबें पहले की तुलना मे अधिक ढीली करनी पड़ेगी।

मिश्राजी ने उनकी आदतों को भांपते हुए कहा।

हालाकि ये समान 5-15" रुपए तक महंगे हुए है। 

लेकिन देखने वाली बात ये है।

जिंदगी से नफरत करने वाले ये दीवाने।

अपने पैसो से ये धीमा जहर खुशी खुशी खरीदते है या नही।  

परंतु पांडे जी ने कहा मिश्राजी ये अपनी प्रेमिका को खरीदने के लिए आतुर रहते है।

आतुर ही नही रहते अपितु वह समझते है. हमने उन्हें खरीद कर खा, पी, चूस लिया।

जबकि अपनी मस्ती मे लीन दीवाने यह तक नही जानते।

आप नही वह तंबाकू पदार्थ धीरे धीरे आपके रुपयो, जिंदगी एव शरीर को खौख़ला ही नही नष्ट कर रहे है।

जैसे लकड़ी पर दीमक लग जाने से वह पूरी लकड़ी खा जाती है।

या पूरी लकड़ी को बुरादा या मिट्टी कर देती है।  

उसी प्रकार से ये तंबाकू पदार्थ ना चाहते हुए भी अपनी और आकर्षित करते है।

वास्तव मे ये प्रेमिका नही गणिका है।

ये आपका साथ तब तक निभाती रहेंगी,

जब तक आपके पास इन्हें खरीदने एव इनसे प्राप्त बीमारियों के इलाज के लिए पर्याप्त धन है।

वैसे पर्याप्त धन एव कुशल चिकित्सक भी आपको बचा नही पाएगा।

यह वह प्रेमिका है जो आपके धन, घर परिवार तबाह कर देगी।

एम एस एन विचार 

तंबाकू का सेवन या उनसे निर्मित किसी भी पदार्थ का उपयोग ना करे।

माँ-पिता, बहन-भाई, बीवी-बच्चे, अडोसी-पड़ोसी, दोस्त सच्चे साहयक  है।

अपने परिवार मे खुश रहो।

कोशिश करो नशे से दूर रहने की।

हमे चिंता है,आपके परिवार एव धन की. उन्हें अपनो के लिए सुरक्षित रखे ।

इतिश्री

Comments