भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया ग्राम पंचायत सचिवालय

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया ग्राम पंचायत सचिवालय

जर्जर हालत में ग्राम पंचायत सचिवालय बना आवारा पशुओं का अड्डा

रायबरेली / बछरावां-

केंद्र व राज्य की बीजेपी सरकार में अपराध, भ्रष्टाचार, बलात्कार, महंगाई, बेरोजगारी, गुंडागर्दी जैसे अपराधों में बेतहाशा वृद्धि हुई है व निरंकुश लगभग सभी विभागों के अधिकारी व कर्मचारी अपनी मनमानी व भ्रष्टाचार करने से बाज नहीं आ रहे हैं।

देश व प्रदेश की योगी सरकार विकास के नाम पर सिर्फ  जिले, तहसीलों,सड़कों व राष्ट्रीय धरोहरों के नाम बदलने को ही विकास बता कर आम जनता को गुमराह कर रही है एक ओर जहां सरकार ने विकास का वादा करके सिर्फ देश के युवाओं व किसानों को धोखा दिया।

वही प्रदेश में गांव गांव बने खुली बैठकों व ग्राम पंचायत से संबंधित जरूरी फाइलों की सुरक्षा के लिए बनाए गए ज्यादातर ग्राम पंचायत सचिवालयों की हालत खंडहर में बदलती देखी जा सकती है अधिकतर ग्राम पंचायतों के मिनी सचिवालय व ग्राम पंचायत सचिवालय में ग्राम प्रधानों व ब्लाक के भ्रष्ट अधिकारियों की लापरवाही के चलते ग्राम पंचायत भवनों की देखभाल रंगाई पुताई के लिए आए लाखों रुपयों को ब्लॉक के अधिकारी व प्रधान डकार गए हैं। 

बछरावां  विकासखंड के ग्राम पंचायत शेखपुर समोधा में बने ग्राम पंचायत सचिवालय के खिड़की दरवाजे फर्श शौचालय पूरी तरह से टूट कर नष्ट हो गए हैं वही बरसात में छत से पानी टपकता रहता है पंचायत भवन परिसर  में चारों ओर गंदगी का अंबार लगा हुआ है ।

सरकार की गलत नीतियों के चलते देश व प्रदेश के विकास की जगह पूरी तरह से विनाश की स्थिति पैदा हो गई है स्वतंत्र प्रभात संवाददाता को ग्रामीणों से प्राप्त जानकारी के अनुसार जब ग्राम पंचायत सचिवालय बना था तब से आज तक ब्लॉक के भ्रष्ट अधिकारियों व प्रधान की मिलीभगत से लाखों रुपए ग्राम पंचायत सचिवालय व ग्राम सभा के विकास के लिए शासन से स्वीकृत हुआ लेकिन कागजों पर विकास का नक्शा बनाकर विकास  के लिए आया सारा रुपया ब्लॉक के  अधिकारियों  व प्रधान सब हजम कर गए हैं।

ग्राम पंचायत सचिवालय शेखपुर समोधा पूरी तरह से टूट कर गिरने की कगार पर है और वहां आवारा मवेशियों ने अपनी शरण स्थली बना रखी है और  वहां पर गोबर व  मानव मल मूत्र का ढेर लगा हुआ है उत्तर प्रदेश सरकार के सभी ग्राम पंचायतों में बने पंचायत भवन व अंबेडकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की जांच करवाकर भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों व जिम्मेदारों पर सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही करनी चाहिए यदि ऐसा नहीं होता है तो भ्रष्टाचारी देश को बर्बाद करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे

Comments