एमडीएम का खाना खाने से 55 बच्चों की तबियत बिगड़ी

एमडीएम का खाना खाने से 55 बच्चों की तबियत बिगड़ी

 

खाने के प्लेट में मिली थी मरी हुई छिपकली

 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरा में सभी बच्चों को कराया गया भर्ती

 

जमुई:-

सिकन्दरा प्रखंड सीमा के समीप लखीसराय जिले के हलसी प्रखंड अंतर्गत महारथ गांव के उत्क्रमित मध्य विद्यालय में मंगलवार को अचानक उस वक़्त अफरा-तफरी का माहौल बन गया जब एमडीएम का खाना खा रहे बच्चों में से एक बच्चे के प्लेट में मरी हुई छिपकली निकल गई।

जिसकी सूचना बच्चे द्वारा और बच्चों व शिक्षकों को दी गई।लेकिन जबतक लगभग सभी बच्चे खाना खा चुके थे।वहीं अचानक कुछ ही क्षणों के बाद बारी-बारी से सभी बच्चों की तबियत बिगड़नी शुरू हो गई।कई बच्चे के पेट में दर्द तो कई बच्चों को उल्टियां होने लगी।उसके बाद अभिभावक व शिक्षकों द्वारा आनन-फानन में लगभग 55 बच्चों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरा में भर्ती कराया गया।जहाँ सिकन्दरा व अलीगंज की एएनएम व डॉक्टर लगे रहे।

 

वहीं बीमार बच्चों में छात्रा सिंपी कुमारी,खुशबू कुमारी,काजल कुमारी,छोटी कुमारी,रुचि कुमारी,अर्पिता कुमारी,मुस्कान कुमारी, गुड़िया कुमारी,नेहा कुमारी,निशु कुमारी,आरती कुमारी,शारदा कुमारी,सुहानी कुमारी,छात्र में राहुल,अभिषेक

हिमांशु,सुधांशु,कन्हैया,राजेशअमरजीत, ऋषि राज,सुमित, हरिबम, दिव्यांशु, गौतम, सहित 55 बच्चे शामिल थे।

 

हालांकि घटना के वक़्त विद्यालय में प्रधानाध्यापक मौजूद नहीं थे जिन्हें ग्रामीणों के द्वारा सूचना दी गई उसके बाद  प्रधानाध्यापक सहित सभी शिक्षिका अस्पताल में बच्चों की हालत जाने के लिए पहुंचे।मौके पर रसोईया अनिता देवी भी पहुंची हुई थी जिसने बताया कि चावल और सब्जी बनाने के दौरान कुछ नहीं था लेकिन भोजन बनने के बाद कहां से छिपकली गिरा और खाना देने के बाद एक बच्चे के थाली में छिपकली मिला।जिससे सभी बच्चों में हड़कंप मच गया।

 

वहीं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ साजिद हुसैन ने बताया कि हमारे अस्पताल में 55 बच्चों का बेहतर ढंग से इलाज किया गया।सभी बच्चों की स्थिति बेहतर देखते हुए सभी को घर भेज दिया गया। मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी आनंद प्रकाश, अवर निरीक्षक मो0 अफजलुल हक,अस्पताल प्रबंधक महेंद्र प्रसाद, हलसी थाना के पुलिस पदाधिकारी सहित कई स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग के कर्मी बच्चों का हाल जानने के लिए मौजूद थे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments