प्रशिक्षण से मुक्त हुई ईवीएम का भी हुआ रैण्डमाइजेशन

प्रशिक्षण से मुक्त हुई ईवीएम का भी हुआ रैण्डमाइजेशन

राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के सामने जिला निर्वाचन अधिकारी ने कराया रैण्डमाइजेशन

मतदान कार्मिकों के प्रशिक्षण कार्य से फ्री हुई ईवीएम व वीवीपैट मशीनों का भी रैण्डमाइजेशन शुक्रवार को कर दिया गया। जिला निर्वाचन अधिकारी डा0 नितिन बंसल व प्रभारी अधिकारी कार्मिक सीडीओ आशीष कुमार ने स्वयं की उपस्थिति में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के सामने एनआईसी में रैण्डमाइजेशन कराया। जिला सूचना विज्ञान अधिकारी गिरीश कुमार ने शेष ईवीएम और वीवीपैट का रैण्डमाइजेशन किया।

 

जिला निर्वाचन अधिकारी डा0 नितिन बंसल ने बताया कि जिले की दोनों लोकसभाओं के 2882 मतदेय स्थलों के सापेक्ष 30 प्रतिशत अतिरिक्त ईवीएम और वीवीपैट की व्यवस्था पहले की जा चुकी है परन्तु एहतियातन जिले की सातों विधानसभाओं में आवंटित करते 53-53 ईवीईएम और वीवीपैट जो कि प्रशिक्षण कार्य से फ्री हो चुकी हैं, को चेकिंग के बाद रैण्डमाइज कर दिया गया है। उन्होने बताया कि यदि कहीं भी ईवीएम या वीवीपैट में खराबी की सूचना मिलती है तो इन अतिरिक्त मशीनों का प्रयोग किया जा सकेगा।

उन्होने बताया कि रिजर्व ईवीएम सेक्ट व जोनल मजिस्ट्रेटों को भी उपलब्ध कराई जाएगीं जिससे खराबी की सूचना पर तत्काल मशीनों को रिप्लेस किया जा सके। उन्होने बताया कि जिले के 2882 मतदेय स्थलों के सापेक्ष 3746़ ईवीएम पहले से ही रैण्डमाइजेेशन के बाद प्रयोग के लिए उपलब्ध हैं जिनकी फेन्सिंग पहले ही कराई जा चुकी है। 

 

इस दोरान प्रभारी अधिकारी कार्मिक/सीडीओ आशीष कुमार, रिटर्निंग आफीसर कैसरगंज आर0आर0 प्रजापति, उपजिला निर्वाचन अधिकारी रत्नाकर मिश्र, ईवीएम प्रभारी/एक्सईएन जल निगम मुकीम अहमद, सहायक प्रभारी कार्मिक एवं प्रशिक्षण/पीडी सेवाराम चैधरी, निर्वाचन से एस0के0 सहाय व अन्य उपस्थित रहे।

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments